Friday, May 31, 2024
Homeदेश-समाजसगी बहन से 4 साल से रेप कर रहा था मुस्लिम युवक, बड़ी बहन...

सगी बहन से 4 साल से रेप कर रहा था मुस्लिम युवक, बड़ी बहन को भी नहीं छोड़ा: बेटियों को बचाने आई अम्मी से भी दुष्कर्म की कोशिश

शिकायत के बाद आरोपित को गिरफ्तार कर लिया गया है। इस मामले को लेकर महिला थाने की इंचार्ज जोस्फीना हेम्ब्रम ने कहा कि आरोपित के खिलाफ इंडियन पीनल कोड की धारा 376, 354, 506 और पॉक्सो एक्ट के तहत महिला थाने में केस रजिस्टर किया गया है।

झारखंड (Jharkhand) के लोहरदगा जिले से मानवता को कलंकित करने वाला एक मामला प्रकाश में आया है। यहाँ एक मुस्लिम युवक ने अपनी दो सगी बहनों के साथ रेप (Rape) किया। उन्हें बचाने के लिए आई अम्मी से भी उसने बलात्कार की कोशिश की। साथ ही पूरे परिवार को जान से मारने की धमकी भी दी।

रिपोर्ट के मुताबिक, ये घटना लोहरदगा जिले के सदर थाना क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले न्यू आजाद बस्ती की है। आरोपित यहीं का रहने वाला है। वह एक गैराज में मोटर मैकेनिक का काम करता है। घर में दो बहने हैं। बड़ी बहन की उम्र 19 वर्ष है, जबकि छोटी 16 साल की है। इसके अलावा, घर में उसकी अम्मी और अब्बू भी रहते हैं।

वह करीब 3-4 साल से अपनी छोटी बहन का लगातार रेप करता आ रहा है। बुधवार (27 अप्रैल 2022) को जब उसकी बड़ी बहन नहाकर रसोई की तरफ जा रही थी तो आरोपित ने उसके साथ भी रेप किया। घटना के दौरान बड़ी बहन की चीख सुनकर छोटी बहन कमरे में पहुँची और उसे दरिंदा बने भाई के चंगुल से बचाने की कोशिश करने लगी। तब आरोपित ने उसे चाकू दिखाकर चुप करा दिया।

इस बीच बच्चियों की आवाज सुनकर उसकी अम्मी भी वहाँ पहुँची तो उसने देखा कि आरोपित पूरी तरह से निर्वस्त्र था और वह अपनी ही बहनों के साथ अश्लील हरकतें कर रहा था। जब अम्मी ने उसे रोकने की कोशिश की तो उसके साथ भी रेप की कोशिश करने लगा। इस दौरान उसने अपने परिवार के लोगों की हत्या की भी धमकी दी।

पुलिस ने आरोपित को किया गिरफ्तार

इससे आहत आरोपित की अम्मी ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है। शिकायत के बाद आरोपित को गिरफ्तार कर लिया गया है। इस मामले को लेकर महिला थाने की इंचार्ज जोस्फीना हेम्ब्रम ने कहा कि आरोपित के खिलाफ इंडियन पीनल कोड की धारा 376, 354, 506 और पॉक्सो एक्ट के तहत महिला थाने में केस रजिस्टर किया गया है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

200+ रैली और रोडशो, 80 इंटरव्यू… 74 की उम्र में भी देश भर में अंत तक पिच पर टिके रहे PM नरेंद्र मोदी, आधे...

चुनाव प्रचार अभियान की अगुवाई की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने। पूरे चुनाव में वो देश भर की यात्रा करते रहे, जनसभाओं को संबोधित करते रहे।

जहाँ माता कन्याकुमारी के ‘श्रीपाद’, 3 सागरों का होता है मिलन… वहाँ भारत माता के 2 ‘नरेंद्र’ का राष्ट्रीय चिंतन, विकसित भारत की हुंकार

स्वामी विवेकानंद का संन्यासी जीवन से पूर्व का नाम भी नरेंद्र था और भारत के प्रधानमंत्री भी नरेंद्र हैं। जगह भी वही है, शिला भी वही है और चिंतन का विषय भी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -