Sunday, October 17, 2021
Homeदेश-समाज2 महिला जज के साथ 3 जजों ने ट्रेनिंग के दौरान किया गलत व्यवहार,...

2 महिला जज के साथ 3 जजों ने ट्रेनिंग के दौरान किया गलत व्यवहार, HC ने तीनों को किया निलंबित

दोनों महिला जजों ने झारखंड के तीन जिला के जजों पर गलत व्यवहार करने का आरोप लगाया और हाइकोर्ट से इसकी शिकायत की। जिसके बाद हाईकोर्ट ने जाँच करवाई। सीसीटीवी फुटेज से...

झारखंड हाईकोर्ट ने बड़ी कार्रवाई करते हुए राँची फैमिली कोर्ट के जज समेत 3 जिला जजों को निलंबित कर दिया है। जानकारी के मुताबिक, हाईकोर्ट ने इन तीनों जजों के खिलाफ गोपनीय रिपोर्ट मिलने के बाद निलंबित करने की कार्रवाई की है। निलंबित होने वाले जजों में हजारीबाग के प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश सत्येंद्र सिंह, गुमला के जिला जज संदीप श्रीवास्तव और राँची फैमिली कोर्ट के जिला जज नलिन कुमार शामिल हैं।

राज्य में जिला जज रैंक के तीन अधिकारियों को एक साथ निलंबित किए जाने की यह पहली घटना है। बता दें कि, इन तीनों जजों के खिलाफ हाईकोर्ट में शिकायत की गई थी। हाईकोर्ट को तीनों जजों के खिलाफ अलग अलग रिपोर्ट सौंपी गई थी।

इन गोपनीय रिपोर्ट की शुरुआती जाँच के बाद इन पर लगे आरोपों को सही पाया गया और तीनों को निलंबित कर दिया गया। निलंबन के साथ ही तीनों को कारण बताओ नोटिस भी जारी किया गया है। इसका जवाब मिलने के बाद हाईकोर्ट आगे की कार्यवाही करेगा।

दरअसल, राँची के ज्यूडिशियल एकेडमी में 21 व 22 सितंबर को रीजनल ट्रेनिंग प्रोग्राम का आयोजन किया गया था। इस प्रोग्राम में सुप्रीम कोर्ट के जजों के साथ ही कई राज्यों के जजों ने हिस्सा लिया था। इस दौरान कार्यक्रम में पटना से भी दो महिला जज पहुँची थीं। 

इन दोनों महिला जजों ने झारखंड के तीन जिला के जजों पर गलत व्यवहार करने का आरोप लगाया और हाइकोर्ट से इसकी शिकायत की। जिसके बाद हाईकोर्ट ने जाँच करवाई। सीसीटीवी फुटेज चेक किए गए। जाँच के दौरान आरोप सही पाए और तीनों जजों को निलंबित कर दिया गया।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘हम देश को जाति-क्षेत्र और मजहब के आधार पर बँटने नहीं देंगे, दंगा किया…तो सात पुश्तें भरेंगी’: योगी आदित्यनाथ

पिछड़ा वर्ग सम्मेलन में सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा दंगा करोगे तो सात पुश्तों को इसकी भरपाई करनी पड़ेगी। मूर्ति कला उद्योग बना रोजगार का साधन।

‘और गिरफ़्तारी की बात मत करो, वरना सरेंडर करने वाले साथियों को भी छुड़ा लेंगे’: निहंगों की पुलिस को धमकी, दलित लखबीर को बताया...

दलित लखबीर की हत्या पर निहंग बाबा राजा राम सिंह ने कहा कि हमारे साथियों को मजबूरन सज़ा देनी पड़ी, क्योंकि किसी ने कोई कार्रवाई नहीं की।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,325FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe