Saturday, April 20, 2024
Homeदेश-समाजनागार्जुन संग मंदिर में शादी, परिजनों ने घर में घुसने नहीं दिया: हीरोइन ने...

नागार्जुन संग मंदिर में शादी, परिजनों ने घर में घुसने नहीं दिया: हीरोइन ने फिनाइल पी सुसाइड की कोशिश की

अब नागार्जुन ने आरोप लगाया है कि 'कुछ लोगों के दबाव' के कारण उन्हें शादी करनी पड़ी। उन्होंने कहा कि उनकी भी शादी की इच्छा नहीं थी। दोनों की शादी मंदिर में एक सादे समारोह में ही हुई थी।

पूर्व बिग-बॉस कंटेस्टेंट चैत्रा कोटूर (Chaitra Kotoor) ने आत्महत्या का प्रयास किया है। उन्हें ‘कन्नड़ बिग बॉस 7’ में देखा गया था। उन्होंने गुरुवार (अप्रैल 8, 2021) को फिनाइल पीकर आत्महत्या का प्रयास किया। उन्हें तुरंत एक अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहाँ उनकी हालत स्थिर बताई जा रही है। कुछ दिनों पहले ही उन्होंने मंड्या के एक कारोबारी नागार्जुन के साथ अपनी शादी की घोषणा की थी।

पुलिस का कहना है कि नागार्जुन के परिवार ने इस रिश्ते को स्वीकार करने से इनकार कर दिया था। मार्च 28 को सोशल मीडिया पर चैत्रा कोटूर और नागार्जुन की एक मंदिर में शादी करते हुए तस्वीर वायरल हुई थी। दोनों ने ब्यातारनपुरा गणपति मंदिर में शादी की थी। इसमें चैत्रा के परिवार वाले भी शामिल हुए थे। दोनों पिछले 2 सालों से रिलेशनशिप में थे। चैत्रा ने बताया कि शादी के बाद जब वो नागार्जुन के पैतृक आवास गईं तो उन्हें भीतर नहीं घुसने दिया गया।

नागार्जुन के परिवार ने इस शादी को अवैध बताया और कहा कि वो उन्हें भीतर नहीं घुसने देंगे। चैत्रा कोटूर ने बताया कि नागार्जुन शादी में लगातार देरी कर रहे थे, लेकिन उन्होंने अपने परिवार और समुदाय के कुछ लोगों के सहयोग से शादी की। चैत्रा द्वारा पुलिस को दिए बयान के अनुसार, नागार्जुन के परिवार ने गालियाँ दी, उनके काम को लेकर भद्दी टिप्पणी की और नागार्जुन को न छोड़ने पर जान से मार डालने की भी धमकी दी।

चैत्रा ने बताया कि सार्वजनिक रूप से इस तरह के व्यवहार के बाद उन्होंने नागार्जुन के परिवार वाले को सुझाव दिया कि वो कोलार में मामले को सुलझा लें। कोलार पुलिस ने दोनों के ही परिजनों को थाने बुला कर बयान दर्ज कर लिया है। चैत्रा कुछ टीवी शोज के स्क्रिप्ट भी लिख चुकी हैं। ‘बिग बॉस 7’ में कन्नड़ स्टार किच्चा सुदीप होस्ट थे, जिसमें चैत्रा ने बतौर प्रतिभागी हिस्सा लिया था। उन्होंने फिल्मों को सपोर्टिंग किरदार भी निभाया है।

वहीं अब नागार्जुन ने आरोप लगाया है कि ‘कुछ लोगों के दबाव’ के कारण उन्हें शादी करनी पड़ी। उन्होंने कहा कि उनकी भी शादी की इच्छा नहीं थी। दोनों की शादी मंदिर में एक सादे समारोह में ही हुई थी। बेंगलुरु में रह कर चैत्रा ने कई विज्ञापनों के स्क्रिप्ट भी लिखे हैं। ‘सुजीदारा’ फिल्म में उनके सपोर्टिंग रोल ने उनकी लोकप्रियता बनाई। 27 वर्षीय चैत्रा कोटूर का जन्म और पढ़ाई-लिखाई भी बेंगलुरु में ही हुई है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

ईंट-पत्थर, लाठी-डंडे, ‘अल्लाह-हू-अकबर’ के नारे… नेपाल में रामनवमी की शोभा यात्रा पर मुस्लिम भीड़ का हमला, मंदिर में घुस कर बच्चे के सिर पर...

मजहर आलम दर्जनों मुस्लिमों को ले कर खड़ा था। उसने हिन्दू संगठनों की रैली को रोक दिया और आगे न ले जाने की चेतावनी दी। पुलिस ने भी दिया उसका ही साथ।

‘भारत बदल रहा है, आगे बढ़ रहा है, नई चुनौतियों के लिए तैयार’: मोदी सरकार के लाए कानूनों पर खुश हुए CJI चंद्रचूड़, कहा...

CJI ने कहा कि इन तीनों कानूनों का संसद के माध्यम से अस्तित्व में आना इसका स्पष्ट संकेत है कि भारत बदल रहा है, हमारा देश आगे बढ़ रहा है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe