Sunday, July 14, 2024
Homeदेश-समाजकानपुर: डॉक्टरों पर थूकने वाले जमाती अब उन्हीं से रो-रोकर माँग रहे जीवन की...

कानपुर: डॉक्टरों पर थूकने वाले जमाती अब उन्हीं से रो-रोकर माँग रहे जीवन की भीख

"शुरुआत में ये वक्त पर दवा नहीं खाते थे, डॉक्टरों का सहयोग भी नहीं करते थे। अब वे पूरी तरह से डॉक्टर्स, नर्सों की बात मान रहे हैं। बाकी रोना वगैरह यह मनोवैज्ञानिक असर है। जब भी कोई शख्स बहुत ज्यादा डर जाता तो इस तरह की प्रतिक्रिया देता है।"

डॉक्टरों पर थूकने वाले, उन पर हमला करने वाले, नर्सों के सामने नग्न होने वाले, उनके सामने अश्लील हरकतें करने वाले, अस्पताल में शौच करने वाले, अस्पताल से भागने वाले, दवा नहीं खाने वाले आदि-आदि कारनामे कर मनमानी करने वाले जमाती अब डॉक्टरों के सामने रो-रोकर उनसे अपने जीवन की भीख माँग रहे हैं। कुछ ऐसी ही खबर उत्तर प्रदेश के शहर कानपुर से आई है, जहाँ एक अस्पताल में जमाती भर्ती हैं।

एनबीटी की खबर के मुताबिक कानपुर के हैलट अस्पताल स्थित आइसोलेशन वॉर्ड में तबलीगी जमात से जुड़े जिले के कई लोग भर्ती हैं। शुरुआत में इन जमातियों ने इलाज में अस्पताल के डॉक्टरों का सहयोग नहीं किया था। यहाँ तक कि इन जमातियों पर डॉक्टरों के साथ बदसलूकी करने और उनके ऊपर थूकने के भी आरोप लगे थे। लेकिन अब जब इन लोगों की स्थिति बिगड़ने लगी है तो ये डॉक्टरों के सामने रोते-बिलखते उनसे जान बचाने की गुहार लगा रहे हैं।

एनबीटी ऑनलाइन ने इस मामले में लाला लाजपत राय अस्पताल की प्रधानाचार्य आरती लालचंदानी से बात की तो उन्होंने कहा, “अब अस्पताल में भर्ती संक्रमित जमातियों को अपनी भूल का एहसास हो गया है। इससे पहले वे संक्रमण फैलाने के लिए तरह-तरह के तरीके अपना रहे थे, लेकिन पूरे विश्व में बिगड़ते हालात को देख उनके व्यवहार में बदलाव आया है। अब वे आसानी से दवाइयाँ खा रहे हैं, क्योंकि यह उनके भले के लिए ही है।”

सीएमओ डॉक्टर अशोक कुमार शुक्ला ने कहा, “शुरुआत में ये तीनों वक्त पर दवा नहीं खाते थे, डॉक्टरों का सहयोग भी नहीं करते थे। अब वे पूरी तरह से डॉक्टर्स, नर्सों की बात मान रहे हैं। बाकी रोना वगैरह यह मनोवैज्ञानिक असर है। जब भी कोई शख्स बहुत ज्यादा डर जाता तो इस तरह की प्रतिक्रिया देता है।”

पिछले दिनों कानपुर स्थित लाला लाजपत राय अस्पताल की प्रधानाचार्य आरती लालचंदानी ने बताया था कि चिकित्सालय के कुछ कर्मियों ने आरोप लगाया है कि आइसोलेशन वॉर्ड में रखे गए कुछ मरीजों ने उनके साथ अभद्रता की। आपको बता दें कि कि इससे पहले दिल्ली गाजियाबाद से भी जमातियों द्वारा डॉक्टरों के साथ अभद्रता करने की खबरें आई थीं। इस पर गाजियाबाद की नर्सों ने सीएमओ से शिकायत भी की थी।

गौरतलब है कि देश में लगातार कोरोना के मरीजों की संख्या बढ़ती चली जा रही है। उत्तर प्रदेश में कोरोना से मरने वालों की संख्या 4, जबकि इससे संक्रमित लोगों की संख्या 410 हो चुकी है। राहत की बात यह है कि इनमें से 31 लोग अब तक ठीक होकर अस्पतालों से अपने घर वापस जा चुके हैं। वहीं पूरे देश में कोरोना मरने वालों की संख्या 199, जबकि संक्रमित लोगों की संख्या 5709 हो गई है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बैकफुट पर आने की जरूरत नहीं, 2027 भी जीतेंगे’: लोकसभा चुनावों के बाद हुई पार्टी की पहली बैठक में CM योगी ने भरा जोश,...

लोकसभा चुनावों के बाद पहली बार भाजपा प्रदेश कार्यसमिति की लखनऊ में आयोजित बैठक में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कार्यकर्ताओं में जोश भरा।

जिसने चलाई डोनाल्ड ट्रंप पर गोली, उसने दिया था बाइडेन की पार्टी को चंदा: FBI लगा रही उसके मकसद का पता

पेंसिल्वेनिया के मतदाता डेटाबेस के मुताबिक, डोनाल्ड ट्रंप पर हमला करने वाला थॉमस मैथ्यू क्रूक्स रिपब्लिकन के मतदाता के रूप में पंजीकृत था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -