Saturday, June 22, 2024
Homeदेश-समाज₹20000 का लालच देकर दलित महिला के धर्मान्तरण की कोशिश, आरोपित से मारपीट के...

₹20000 का लालच देकर दलित महिला के धर्मान्तरण की कोशिश, आरोपित से मारपीट के आरोप में 3 VHP नेता गिरफ्तार

इस मामले में जिस दलित महिला का धर्मान्तरण कराने की कोशिश की गई थी, उनका कहना है कि अफसार ने ही उन्हें धर्म परिवर्तन करने पर 20,000 रुपए देने का लालच दिया था। महिला ने आरोप लगाया है कि वो इस मामले में...

उत्तर प्रदेश के कानपुर में एक दलित महिला का धर्म परिवर्तन कराने की कोशिश की गई। इस मामले में अफसार नाम के ई-रिक्शा चालक के साथ बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने कथित तौर पर मारपीट की। इस संबंध में यूपी पुलिस ने बजरंग दल के कार्यकर्ता अजय बैंडवाला, रमेश और डॉन केशू समेत 15 लोगों के खिलाफ धमकी औऱ मारपीट समेत कई अन्य धाराओं के तहत केस दर्ज किया है। साथ ही वीएचपी के नगर मंत्री अमन गुप्ता, आरोपी अज बैंडवाला और राहुल कुमार को गिरफ्तार कर लिया गया है।

गिरफ्तार किए गए कार्यकर्ताओं की जानकारी मिलते ही बजरंग दल और वीएचपी के अन्य कार्यकर्ताओं ने डीसीपी दफ्तर का घेराव किया। इस दौरान वीएचपी के तीनों नेताओं को निर्दोष बताते हुए उन्हें तत्काल छोड़ने की माँग की गई। रिपोर्ट के मुताबिक मुस्लिम युवक अफसार को बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने ही पुलिस को सौंपा था। बजरंग दल के लोगों के मुताबिक, दो दिन पहले ही उन्होंने इस मामले में पुलिस से कार्रवाई करने का आग्रह किया था।

इस मामले में जिस दलित महिला का धर्मान्तरण कराने की कोशिश की गई थी, उनका कहना है कि अफसार (आज तक की रिपोर्ट में अफ्तार) ने ही उन्हें धर्म परिवर्तन करने पर 20,000 रुपए देने का लालच दिया था। महिला ने आरोप लगाया है कि वो इस मामले में पुलिस के पास गई थी, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की गई। इसके बाद उन्होंने बजरंग दल के लोगों से इसकी शिकायत की।

वीडियो में मारपीट से कौन रोक रहे

वायरल वीडियो में देखा जा सकता है कि बजरंग दल के कार्यकर्ता अफसार का हाथ पकड़ कर उसे ले जा रहे हैं और कार्यकर्ताओं को उसके साथ मारपीट करने से रोक रहे हैं। इसमें बजदरंग दल के कार्यकर्ता आरोप लगा रहे हैं कि उसने हिंदुस्तान मुर्दाबाद के नारे लगाए थे। इस दौरान अफसार से हिंदुस्तान जिंदाबाद के नारे भी लगवाए गए।

इस घटना को लेकर डीसीपी रवीना त्यागी ने कहा है कि थाना बर्रा क्षेत्र में रामगोपाल चौराहे के पास कच्ची बस्ती का वीडियो वायरल हुआ है। इसमें एक व्य़क्ति के साथ मारपीट की जा रही है। पीड़ित की तहरीर पर कुछ ज्ञात और अज्ञात लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। अग्रिम कानूनी कार्रवाई की जा रही है और जो भी दोषी होगा, उसे बक्शा नहीं जाएगा।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

नालंदा विश्वविद्यालय को ब्राह्मणों ने ही जलाया था, 11वीं सदी का शिलालेख है साक्ष्य!!

नालंदा विश्वविद्यालय को ब्राह्मणों ने ही जलाया था, बख्तियार खिलजी ने नहीं। ब्राह्मण+बुर्के वाली के संभोग को खोद निकाला है इस इतिहासकार ने।

10 साल जेल, ₹1 करोड़ जुर्माना, संपत्ति भी जब्त… पेपर लीक के खिलाफ आ गया मोदी सरकार का सख्त कानून, NEET-NET परीक्षाओं में गड़बड़ी...

परीक्षा आयोजित करने में जो खर्च आता है, उसकी वसूली भी पेपर लीक गिरोह से ही की जाएगी। केंद्र सरकार किसी केंद्रीय जाँच एजेंसी को भी ऐसी स्थिति में जाँच सौंप सकती है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -