Friday, May 31, 2024
Homeदेश-समाज3 बच्चों की माँ निकाह को नहीं हुई तैयार तो अहमद ने एसिड फेंका,...

3 बच्चों की माँ निकाह को नहीं हुई तैयार तो अहमद ने एसिड फेंका, एक ही फैक्ट्री में काम करते थे दोनों: बेंगलुरु की घटना

इस हमले से पीड़िता की आँखों को नुकसान पहुँचा है और उनका इलाज अस्पताल में चल रहा है।

कर्नाटक के बेंगलुरु में सहकर्मी महिला के चेहरे पर एसिड फेंकने के आरोप में अहमद नाम के व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया है। आरोप है कि अहमद ने महिला द्वारा निकाह का प्रस्ताव ठुकराए जाने के बाद ये कदम उठाया। महिला तलाकशुदा और 3 बच्चों की माँ है। अहमद की गिरफ़्तारी शुक्रवार (10 जून 2022) को हुई।

पुलिस के मुताबिक आरोपित अहमद ने महिला के चेहरे पर बाथरूम साफ़ करने वाला केमिकल फेंका है। इस हमले से पीड़िता की आँखों को नुकसान पहुँचा है और उनका इलाज अस्पताल में चल रहा है। आरोपित अहमद 36 साल और पीड़िता की उम्र 32 साल बताई जा रही है। घटना बेंगलुरु के सरककी इलाके की है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक गोरीपाल्या क्षेत्र का रहने वाला अहमद और पीड़िता एक साथ ही फैक्ट्री में काम करते थे। पीड़िता पर अहमद निकाह का दबाव बना रहा था, जबकि पीड़िता लगातर मना कर रही थी। आरोपित ने ये हरकत तब की जब पीड़िता कुमारस्वामी लेआउट से जेपी नगर जा रही थी। इस दौरान सरककी स्टेशन के पास छिपा अहमद एसिड फेंक कर भाग गया। मौके पर पहुँच कर बेंगलुरु पुलिस ने पीड़िता को अस्पताल भेजा और आरोपित को खोज निकाला।

गौरतलब है कि अप्रैल 2022 में भी इसी प्रकार की घटना बेंगलुरु में घटी थी। तब पश्चिम बेंगलुरु के सुनकादाकट्टे इलाके में एक अन्य व्यक्ति ने शादी का प्रस्ताव ठुकराए जाने पर 24 साल की एक लड़की पर तेज़ाब फेंक दिया था। कुछ महीने पहले कर्नाटक के गृहमंत्री लड़कियों पर तेजाब फेंकने की घटनाओं को बेहद गंभीर बताते हुए प्रदेश में तेजाब की बिक्री पर बैन लगाने की बात कही थी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

200+ रैली और रोडशो, 80 इंटरव्यू… 74 की उम्र में भी देश भर में अंत तक पिच पर टिके रहे PM नरेंद्र मोदी, आधे...

चुनाव प्रचार अभियान की अगुवाई की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने। पूरे चुनाव में वो देश भर की यात्रा करते रहे, जनसभाओं को संबोधित करते रहे।

जहाँ माता कन्याकुमारी के ‘श्रीपाद’, 3 सागरों का होता है मिलन… वहाँ भारत माता के 2 ‘नरेंद्र’ का राष्ट्रीय चिंतन, विकसित भारत की हुंकार

स्वामी विवेकानंद का संन्यासी जीवन से पूर्व का नाम भी नरेंद्र था और भारत के प्रधानमंत्री भी नरेंद्र हैं। जगह भी वही है, शिला भी वही है और चिंतन का विषय भी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -