Wednesday, July 28, 2021
Homeदेश-समाजकर्नाटक: इस्लाम कबूलने के लिए हिंदू लड़की पर दबाव डालने वाला सोयूब गिरफ्तार, इंस्टाग्राम...

कर्नाटक: इस्लाम कबूलने के लिए हिंदू लड़की पर दबाव डालने वाला सोयूब गिरफ्तार, इंस्टाग्राम पर भेजता था गंदे मैसेज

इस घटना को लेकर हिंदू जागरण वेदिके इकाई ने कहा कि लव जिहाद के ऐसे कई उदाहरण हैं, जहाँ हिंदू लड़कियों को फँसाने की कोशिश की जाती है और जब लड़कियाँ फँस जाती हैं तो उन्हें धर्म परिवर्तन के लिए मजबूर किया जाता है।

सोशल मीडिया पर एक हिंदू लड़की को अश्लील मैसेज भेजने, प्रताड़ित करने और इस्लाम कबूलने के लिए मजबूर करने के आरोप में पुलिस ने कर्नाटक के सावनूर में एक मुस्लिम युवक को गिरफ्तार किया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, दक्षिण कन्नड़ जिला पुलिस ने मंगलवार (22 दिसंबर, 2020) को मंगलौर इलेक्ट्रिसिटी सप्लाई लिमिटेड कंपनी में सोयूब कोतवाल नाम के एक कर्मचारी को गिरफ्तार किया है। आरोपित सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म इंस्टाग्राम पर लड़की को परेशान करता था और उसे जबरन बार-बार तोहफे स्वीकारने और इस्लाम धर्म कबूलने के लिए मजबूर करता था।

लड़के की हरकतों से परेशान होकर लड़की ने इसकी शिकायत अपने परिजनों से की। परिजनों की तहरीर पर बेलारे थाना पुलिस ने आरोपित के खिलाफ POCSO अधिनियम की धाराओं के तहत एफआईआर दर्ज किया है। एफआईआर के अनुसार, सोयूब बार-बार दक्षिण कन्नड़ के सावनूर के पास पेरियाडका गाँव से पीयूसी (प्री-यूनिवर्सिटी कॉलेज) में पढ़ने वाली लड़की को इंस्टाग्राम पर रिक्वेस्ट भेजता था।

पीड़िता ने आरोप लगाया है कि आरोपित ने उसे कई बार अश्लील मैसेज भेजे और उसे प्रपोज भी किया था। इसके अलावा सोयूब ने कई बार उसे तोहफे भी दिए, जिसे लेने के लिए वह उसे मजबूर करता था। बाद में मुस्लिम युवक उसे धर्म बदलने के लिए भी मजबूर करने लगा था। बता दें पुलिस ने मामले को संज्ञान में लेते हुए आरोपित युवक को गिरफ्तार कर लिया है।

गौरतलब है कि इस घटना को लेकर हिंदू जागरण वेदिके इकाई ने कहा कि लव जिहाद के ऐसे कई उदाहरण हैं, जहाँ हिंदू लड़कियों को फँसाने की कोशिश की जाती है और जब लड़कियाँ फँस जाती हैं तो उन्हें धर्म परिवर्तन के लिए मजबूर किया जाता है। वेदिके ने हिंदू महिलाओं से इन परिस्थितियों के मद्देनजर सतर्क रहने का आग्रह किया है। साथ ही हिंदू जागरण वेदिके के सदस्यों ने पीड़िता के घर पहुँच कर परिजनों से मामले के बारे में बातचीत भी की।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

साँवरें के रंग में रंगी हरियाणा की तेजतर्रार महिला IPS भारती अरोड़ा, श्रीकृष्‍ण भक्ति के लिए माँगी 10 साल पहले स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति

हरियाणा के गृहमंत्री अनिल विज ने इस खबर की पुष्टि की है। उन्होंने बताया है कि अंबाला रेंज की आइजी भारती अरोड़ा ने वीआरएस के लिए आवेदन किया है।

‘मोदी सिर्फ हिंदुओं की सुनते हैं, पाकिस्तान से लड़ते हैं’: दिल्ली HC में हर्ष मंदर के बाल गृह को लेकर NCPCR ने किए चौंकाने...

एनसीपीसीआर ने यह भी पाया कि बड़े लड़कों को भी विरोध स्थलों पर भेजा गया था। बच्चों को विरोध के लिए भेजना किशोर न्याय अधिनियम, 2015 की धारा 83(2) का उल्लंघन है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,660FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe