Saturday, June 15, 2024
Homeदेश-समाजकेरल ब्लास्ट की जाँच के लिए पहुँची NIA और NSG, टिफिन में रखे गए...

केरल ब्लास्ट की जाँच के लिए पहुँची NIA और NSG, टिफिन में रखे गए थे IED विस्फोटक: वामपंथी मंत्री बोले – धमाके से नहीं, आग से हुई मौत

आतंकवाद विरोधी जाँच एजेंसी राष्ट्रीय जाँच एजेंसी (NIA) की चार सदस्यीय टीम स्थानीय पुलिस के साथ विस्फोट की जाँच के लिए घटनास्थल पर पहुँची। वहीं, एक अधिकारी सहित राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड (NSG) की आठ सदस्यीय टीम टीम भी विस्फोटों की जानकारी लेने के लिए केरल जा रही है। टीम के आज शाम तक साइट पर पहुँचने की उम्मीद है।

केरल के एर्नाकुलम जिले के कलामासेरी में रविवार (29 अक्टूबर 2023) को ईसाइयों के एक कन्वेंशन सेंटर में हुए तीन विस्फोटों में एक महिला की मौत हो गई, जबकि 40 लोग घायल हो गए। घायलों का इलाज कराया जा रहा है। यह सामने आई है कि महिला की मौत ब्लास्ट से नहीं, बल्कि जलने से हुई है। महिला की जली हुई बॉडी बरामद हुई थी।

केरल के मंत्री वीएन वासवन का कहना है, “आग से एक महिला की मौत हुई है, विस्फोट से नहीं। प्रारंभिक विश्लेषण में कहा गया है कि लगातार दो विस्फोट हुए… एक व्यक्ति अस्पताल में है… 36 लोग हताहत हैं। उन्हें एस्टर मेडिसिटी, राजगिरी और सनराइज में भर्ती कराया गया है। यह एक असामान्य दुर्घटना है। सभी एजेंसियाँ प्रारंभिक जाँच के लिए यहाँ हैं।”

प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि सभागार में कई विस्फोट हुए, जिसके कारण वहाँ आग लग गई। हर तरफ धुआँ फैल गया। विस्फोट के कारण वहाँ मौजूद लगभग दो हजार लोग लगभग बाहर की ओर भागे। वहाँ मौजूद एक व्यक्ति ने कहा कि एक-एक करके उसने धमाके की तीन आवाजें सुनीं। इसके बाद हर तरफ धुआं फैला हुआ था।

एक अन्य शख्स ने कहा, “हॉल में छह प्रवेश और निकास द्वार हैं। मैं सामने बैठा था। अचानक एक विस्फोट हुआ। हम सभी सुरक्षित बाहर निकल गए, लेकिन हर जगह बहुत धुआँ था। जो आग लगी वह फैल नहीं पाई। उस स्थान तक ही सीमित रहा, जहाँ विस्फोट हुआ था।” इस व्यक्ति ने कहा कि मृतक महिला उसी जगह बैठी थी, जहाँ विस्फोट हुआ था।

प्रारंभिक जाँच से पता चला है कि विस्फोटक टिफिन बॉक्स में भरे हुए थे। पहला विस्फोट सुबह 9:40 बजे हुआ था। केरल के पुलिस महानिदेशक शेख दरवेश साहेब ने कहा कि हमले में इम्प्रोवाइज्ड एक्सप्लोसिव डिवाइस (IED) का इस्तेमाल किया गया है। उन्होेंने कहा कि इसकी विस्तृत जाँच जारी है।

आतंकवाद विरोधी जाँच एजेंसी राष्ट्रीय जाँच एजेंसी (NIA) की चार सदस्यीय टीम स्थानीय पुलिस के साथ विस्फोट की जाँच के लिए घटनास्थल पर पहुँची। वहीं, एक अधिकारी सहित राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड (NSG) की आठ सदस्यीय टीम टीम भी विस्फोटों की जानकारी लेने के लिए केरल जा रही है। टीम के आज शाम तक साइट पर पहुँचने की उम्मीद है।

केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने इस घटना को गंभीर और दुर्भाग्यपूर्ण बताया है। वहीं, केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने मुख्यमंत्री विजयन से बात की और हालात का जायजा लिया। उन्होंने केंद्रीय गृहमंत्री को बताया कि पुलिस इस मामले की गहराई से जाँच कर रही है। उन्होंने कहा कि घायलों में दो की हालत गंभीर है।

वहीं, दिल्ली में मौजूद सीपीआई (एम) के राज्य सचिव एमवी गोविंदन ने कहा कि फिलिस्तीन मुद्दे से ध्यान भटकाने के उद्देश्य से की जाने वाली किसी भी कार्रवाई के लिए कठोर कदम उठाए जाएँगे। उन्होंने कहा कि वर्तमान हालात को देखकर इसे आतंकी कार्रवाई से इनकार नहीं किया जा सकता।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

दिल्ली-NCR में इस साल आग का कहर, नोएडा-गाजियाबाद में भी तबाही: अकेले राजधानी में हर दिन 200 कॉल, कैसे बदलेंगे हालात?

दिल्ली-एनसीआर में आगजनी की घटनाओं में तेजी आई है। कई मामलों में भारी नुकसान उठाना पड़ा है। बड़ी संख्या में लोगों की जान भी जा चुकी है।

‘अभिव्यक्ति की आज़ादी के बहाने झूठ फैला कर किसी को बदनाम नहीं कर सकते’: दिल्ली हाईकोर्ट से कॉन्ग्रेस नेताओं को झटका, कहा – हटाओ...

कोर्ट ने टीवी डिबेट का फुटेज देख कर कहा कि प्रारंभिक रूप से लगता है कि रजत शर्मा ने किसी गाली का इस्तेमाल नहीं किया। तीनों कॉन्ग्रेस नेताओं ने फैलाया झूठ।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -