Sunday, April 14, 2024
Homeदेश-समाज'स्वास्थ्य मंत्री जैसी दिखती हो, पोर्न वीडियो बनाओ': केरल CM को बेनकाब करने वाला...

‘स्वास्थ्य मंत्री जैसी दिखती हो, पोर्न वीडियो बनाओ’: केरल CM को बेनकाब करने वाला पत्रकार पहुँचा जेल, महिला ने लगाया यौन उत्पीड़न का आरोप

एक महिला ने नंदकुमार पर आरोप लगाया था कि उन्होंने उसे स्वास्थ्य मंत्री वीना जॉर्ज को निशाना बनाते हुए एक पोर्न वीडियो बनाने के लिए मजबूर किया था। नंदकुमार ने उससे यह भी कहा था कि वह जॉर्ज की तरह दिखती हैं।

केरल की कोच्चि पुलिस ने 17 जून को एक महिला सहकर्मी की शिकायत के आधार पर पत्रकार टीपी नंदकुमार (TP Nandakumar) को गिरफ्तार किया था। ‘क्राइम’ के नाम से मशहूर पत्रकार टीपी नंदकुमार क्राइम मैगजीन के मुख्य संपादक हैं। पत्रकार को कलूर स्थित उनके आवास से उन्हें गिरफ्तार किया गया था। उन पर कथित तौर पर एक महिला सहकर्मी का यौन उत्पीड़न, उसके साथ बदसलूकी करने और फर्जी अश्लील वीडियो बनाने के लिए उस पर दबाव डालने का आरोप है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, महिला ने 27 मई को कोच्चि पुलिस आयुक्त के पास अपनी शिकायत दर्ज कराई थी। उसने आरोप लगाया था कि पत्रकार टीपी नंदकुमार ने उसे स्वास्थ्य मंत्री वीना जॉर्ज को निशाना बनाते हुए एक पोर्न वीडियो बनाने के लिए मजबूर किया था। नंदकुमार ने उससे यह भी कहा था कि वह जॉर्ज की तरह दिखती है।

शिकायतकर्ता ने पुलिस को बताया कि पत्रकार ने उसे इस काम के लिए मोटी रकम की पेशकश की थी। जब उसने पोर्न वीडियो को करने से इनकार कर दिया तो उसने उसके साथ अभद्र भाषा का प्रयोग किया। शिकायत के आधार पर केरल पुलिस ने नंदकुमार के कार्यालय की तलाशी ली, वहाँ से उन्होंने कई डिजिटल उपकरण और दस्तावेज जब्त किए।

इस बीच कोच्चि के पुलिस आयुक्त सीएच नागराजू ने आरोप लगाया कि पत्रकार ने शिकायतकर्ता से केरल की स्वास्थ्य मंत्री का एक फर्जी वीडियो बनाने के लिए कहा था। पत्रकार के खिलाफ अनुसूचित जाति-अनुसूचित जनजाति अधिनियम और भारतीय दंड संहिता की धारा 509 (किसी महिला की गरिमा को ठेस पहुँचाने के इरादे से शब्द, भाव-भंगिमा का इस्तेमाल करना या हरकत करना), 294 बी (अश्लील हरकत करना) और 506 के तहत मामला दर्ज किया गया है।

बता दें कि महीनों पहले पत्रकार टीपी नंदकुमार ने क्राइम पत्रिका में एक रिपोर्ट प्रकाशित की थी, जिसमें उन्होंने दावा किया था कि उनके पास स्वास्थ्य मंत्री वीना जॉर्ज के कई न्यूड वीडियो हैं। सितंबर 2021 में पत्रकार नंदकुमार ने केरल के पूर्व कॉन्ग्रेस नेता पीसी जॉर्ज का इंटरव्यू लिया था। इस दौरान पीसी जॉर्ज ने स्वास्थ्य मंत्री के बारे में अपमानजनक टिप्पणी की थी। उन्होंने कहा था कि वीना जॉर्ज को सिर्फ इसलिए स्वास्थ्य मंत्री बनाया गया है, क्योंकि वह सीएम पिनराई विजयन की ‘अस्सिटेंट’ थीं।

क्राइम मैगजीन ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर इस फोन-इन इंटरव्यू शेयर किया था। जिसके बाद क्राइम मैगजीन के मुख्य संपादक टीपी नंदकुमार को गिरफ्तार किया गया। कक्कनड पुलिस ने उन पर वीना जॉर्ज के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी करने और उसका ऑडियो क्लिप सोशल मीडिया वायरल करने का आरोप लगाया था। बाद में पूर्व विधायक पीसी जॉर्ज के खिलाफ राज्य की स्वास्थ्य मंत्री वीना जॉर्ज के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी करने का मामला दर्ज किया गया था।

नंदकुमार ने सीएम विजयन को बेनकाब किया था

गौरतलब है कि पत्रकार टीपी नंदकुमार और पूर्व नेता पीसी जॉर्ज का सीएम पिनराई विजयन के खिलाफ कानूनी लड़ाई का इतिहास रहा है। वर्ष 2006 में, नंदकुमार ने एसएनसी-लवलिन भ्रष्टाचार मामले में ईडी को महत्वपूर्ण सबूत पेश करके सीएम विजयन को बेनकाब किया था। उन्होंने राजस्व खुफिया निदेशालय (डीआरआई) में सीएम विजयन के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी और उन पर आपराधिक साजिश में शामिल होने का आरोप लगाया था, जब वह मई 1996 से अक्टूबर 1998 तक केरल के बिजली मंत्री के रूप में कार्यरत थे। पुलिस का कहना है कि सोने की तस्करी के मामले में सीएम विजयन के खिलाफ स्वप्ना सुरेश द्वारा लगाए गए आरोपों के पीछे भी नंदकुमार हैं।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

BJP की तीसरी बार ‘पूर्ण बहुमत की सरकार’: ‘राम मंदिर और मोदी की गारंटी’ सबसे बड़ा फैक्टर, पीएम का आभामंडल बरकार, सर्वे में कहीं...

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में बीजेपी तीसरी बार पूर्ण बहुमत की सरकार बनाती दिख रही है। नए सर्वे में भी कुछ ऐसे ही आँकड़े निकलकर सामने आए हैं।

‘राष्ट्रपति आदिवासी हैं, इसलिए राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा में नहीं बुलाया’: लोकसभा चुनाव 2024 में राहुल गाँधी ने फिर किया झूठा दावा

राष्ट्रपति मुर्मू को राम मंदिर ट्रस्ट का प्रतिनिधित्व करने वाले एक प्रतिनिधिमंडल ने अयोध्या में प्राण प्रतिष्ठा समारोह में शामिल होने के लिए औपचारिक रूप से आमंत्रित किया गया था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe