Sunday, June 16, 2024
Homeदेश-समाजकमिश्नर के मॉर्निंग वॉक के लिए ब्लॉक हो जाती थी सड़क, ट्रैफिक भी डायवर्ट:...

कमिश्नर के मॉर्निंग वॉक के लिए ब्लॉक हो जाती थी सड़क, ट्रैफिक भी डायवर्ट: स्कूली बच्चों को परेशानी, ‘कारण बताओ नोटिस’ जारी

ट्रैफिक को डायवर्ट कर दिया गया और स्कूली बच्चों को जबरन उल्टी दिशा वाली बसों में चढ़ने के लिए मजबूर किया गया। सड़क के बीचों बीच एक लाल रंग का बैरिकेड्स भी रखा गया है।

देश की राजधानी दिल्ली में कुत्ते को टहलाने के लिए स्टेडियम को खाली करवाने वाले मामले के बाद अब केरल से एक ट्रैफिक पुलिस अधिकारी के द्वारा मॉर्निंग वॉक के लिए ट्रैफिक रोके जाने की घटना सामने आई है। इस मामले में पुलिस अधिकारी को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है।

केरल के कोच्चि में एक सड़क के एक हिस्से को प्रशासन ही अवरुद्ध कर रहा था। स्थानीय लोगों का आरोप है कि जब पुलिसकर्मी मॉर्निंग वॉक पर गए तो क्वीन्स वॉकवे के बगल की सड़क मोटर वाहनों के लिए बंद थी।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, कोच्चि में असिस्टेंट कमिश्नर ऑफ ट्रैफिक वेस्ट विनोद पिल्लई रोज सुबह क्वीन्स वॉकवे पर जाते हैं। ऐसे में लोगों का आरोप है कि वाकवे के बगल की सड़को गाड़ियों की आवाजाही को रोक दिया जाता है। कहा जा रहा है कि इस सड़क को रविवार को सुबह 6-7 बजे के दौरान बंद कर दिया जाता है, ताकि युवा साइकिल चलाने और स्केटिंग करने की प्रैक्टिस कर सकें। हालाँकि, आरोप यह भी हैं कि ट्रैफिक पुलिस अधिकारी ने अपनी सुबह की सैर करने के लिए पूरे सप्ताह के लिए सड़क को ब्लॉक कर दिया।

बहरहाल मामला सामने आने के बाद इस पर अधिकारियों का कहना है कि कोच्चि में क्वीन्स वॉकवे सुबह-सुबह टहलने वाले और जॉगिंग करने वालों का पसंदीदा मार्ग है और उनकी सुरक्षा को देखते हुए आमतौर पर बैरिकेड्स लगाए जाते हैं। जबकि, स्थानीय लोगों का कहना है कि ये सड़क बीते तीन दिनों से बंद पड़ी है और इस कारण आवागमन काफी दिक्कतभरा हो गया है।

पुलिस के द्वारा सड़क पर लगाया गया बैरिकेड (फोटो साभार: इंडिया टुडे)

सोशल मीडिया पर वायरल हो रही तस्वीरों के मुताबिक, ट्रैफिक को डायवर्ट कर दिया गया है और स्कूली बच्चों को जबरन उल्टी दिशा वाली बसों में चढ़ने के लिए मजबूर किया गया। सड़क के बीचों बीच एक लाल रंग का बैरिकेड्स भी रखा गया है।

बच्चों को उल्टी दिशा में लौटना पड़ा (फोटो साभार: इंडिया टुडे)

दिल्ली में कुत्ते के लिए स्टेडियम को कराया था खाली

इसी तरह की घटना देश की राजधानी दिल्ली में भी सामने आई थी। घटना दिल्ली के त्यागराज स्टेडियम की थी। जिसमें दिल्ली सरकार के राजस्व विभाग के प्रिंसिपल सेक्रेटरी संजीव खिरवार पर ये आरोप लगा था कि स्टेडियम में प्रैक्टिस करने के लिए आने वाले एथिलीटों और कोचों को शाम सात बजे से पहले ही स्टेडियम छोड़ने के लिए मजबूर किया जाता था। ताकि आईएएस अधिकारी अपने कुत्ते को स्टेडियम में टहला सकें। इस घटना के सामने आने के बाद देशभर में इसकी चर्चा हुई थी।

इस घटना के बाद एक्शन लेते हुए गृह मंत्रालय ने आईएएस अधिकारी संजीव खिरवार (Sanjeev Khirwar) का लद्दाख ट्रांसफर कर दिया था। जबकि, उनकी IAS पत्नी रिंकू दुग्गा (Rinku Dugga) का तबादला अरुणाचल प्रदेश किया गया था।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आतंकवाद का बखान, अलगाववाद को खुलेआम बढ़ावा और पाकिस्तानी प्रोपेगेंडा को बढ़ावा : पढ़ें- अरुँधति रॉय का 2010 वो भाषण, जिसकी वजह से UAPA...

अरुँधति रॉय ने इस सेमिनार में 15 मिनट लंबा भाषण दिया था, जिसमें उन्होंने भारत देश के खिलाफ जमकर जहर उगला था।

कर्नाटक में बढ़ाए गए पेट्रोल-डीजल के दाम: लोकसभा चुनाव खत्म होते ही कॉन्ग्रेस ने शुरू की ‘वसूली’, जनता पर टैक्स का भार बढ़ा कर...

अभी तक बेंगलुरु में पेट्रोल 99.84 रुपये प्रति लीटर और डीजल 85.93 रुपये प्रति लीटर बिक रहा था, लेकिन नए आदेश के बाद बढ़ी हुई कीमतें तत्काल प्रभाव से लागू हो गई हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -