Wednesday, May 18, 2022
Homeदेश-समाजकेरल, महाराष्ट्र और तमिलनाडु: देश में कोरोना संक्रमण के हॉटस्पॉट, नए केस में 56%...

केरल, महाराष्ट्र और तमिलनाडु: देश में कोरोना संक्रमण के हॉटस्पॉट, नए केस में 56% यहीं से

केरल में बीते 24 घंटों के दौरान 12,617 नए कोरोना संक्रमित मिले थे। जबकि महाराष्ट्र में 24 घंटे के दौरान 8,470 नए कोरोना संक्रमित मिले। इसी के साथ राज्य में कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 60 लाख के करीब पहुँच गई है।

देशभर में कोरोना संक्रमण के मामले में महाराष्ट्र, केरल और तमिलनाडु कोरोना वायरस के केंद्र बन गए हैं। एक तरफ जहाँ देश के दूसरे राज्यों में वायरस की दूसरी लहर की वजह से होने वाले संक्रमण के मामलों में कमी आई है। इन तीनों राज्यों में संक्रमण बढ़ा है। तमिलनाडु में एक शेर में कोरोना का संक्रमण मिला है। देश में कोरोना महामारी की शुरुआत के साथ ही संक्रमितों की संख्या के मामले में टॉप पर रहे महाराष्ट्र को पीछे ढकेल कर केरल इस मामले में टॉप पर पहुँच गया है।

रिपोर्ट के मुताबिक, केरल में बीते 24 घंटों के दौरान 12,617 नए कोरोना संक्रमित मिले थे। जबकि महाराष्ट्र में 24 घंटे के दौरान 8,470 नए कोरोना संक्रमित मिले। इसी के साथ राज्य में कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 60 लाख के करीब पहुँच गई है।

देश में कोविड -19 संक्रमण के मामले में टॉप 5 स्टेट (साभार: Covid19.org)

वहीं दक्षिण भारतीय राज्य तमिलनाडु बीते 14 घंटों के दौरान मिले 6,895 नए कोरोना संक्रमितों के साथ इस मामले में तीसरे स्थान पर आ गया है। केरल, महाराष्ट्र और तमिलनाडु समेत तीनों राज्यों का देश में मिले कोरोना के कुल मामलों में 56 फीसदी हिस्सेदारी है। मंगलवार (22 जून 2021) को देशभर में कोरोना के 50,848 नए संक्रमित मिले। 1,358 मौतें हुई। इसमें से इन तीन राज्यों में ही 28,000 नए मामले और 817 मौतें हुईं।

हालाँकि, अच्छी बात यह है कि बीते 24 घंटे के दौरान कोरोना के एक्टिव केस 19,327 घटकर 6,43,194 पर पहुँच गए हैं। जबकि इसी दौरान 68,817 लोग स्वस्थ भी हुए, जिससे कुल ठीक होने वालों की संख्या 2.89 करोड़ हो गई है। बीते 40 दिनों से प्रत्येक दिन ठीक होने वालों की संख्या रोजाना नए मामलों से ज्यादा हो रही है।

हालाँकि, चिंता की बात यह है कि इन तीनों राज्यों में लगातार कोविड पेशेंट मिल रहे हैं, जिससे महामारी के खिलाफ इस लड़ाई में कोरोना संक्रमण का बोझ भी बढ़ रहा है। इसके अलावा इन राज्यों में ही कोरोना के डेल्टा प्लस वैरिएँट को लेकर सूचित भी किया गया है।

कोरोना के डेल्टा प्लस वैरिएँट के महाराष्ट्र में 21 मामले, मध्य प्रदेश में छह, केरल में तीन, तमिलनाडु में तीन, कर्नाटक में दो और पंजाब, आंध्र प्रदेश और जम्मू में एक-एक मामले दर्ज किए गए हैं।

महाराष्ट्र:

मंगलवार (22 जून 2021) को महाराष्ट्र में कोविड 19 महामारी के 8,473 नए केस दर्ज किए गए, जो कि सोमवार (21 जून 2021) को मिले संक्रमितों से 2,000 ज्यादा थे। इससे कुल संक्रमितों का आँकड़ा 59,87,521 हो गया। राज्य में कोरोना के चलते अब तक 88,620 लोगों को अपनी जान गँवानी पड़ी है।

साभार: Covid19.org

राज्य के स्वास्थ्य विशेषज्ञों और अधिकारियों ने संक्रमण बढ़ने के पीछे अधिक जनसंख्या, आवामगन और कोरोना प्रोटोकॉल के उल्लंघन को जिम्मेदार ठहराया है। खास बात यह है कि इस बार गाँवों में कोरोना का संक्रमण ज्यादा तेजी से फैला है।

केरल:

देश में महामारी की शुरुआत से संक्रमण के मुख्य केंद्र रहे केरल में देश में सबसे अधिक कोविड -19 मामले मिल रहे हैं। मंगलवार (22 जून 2021) को राज्य में 12,617 नए कोविड मामले दर्ज किए, जो सोमवार को दर्ज किए गए मामलों की तुलना में लगभग दो हजार अधिक हैं।

वहीं प्रदेश में कोरोना के कारण 141 नई मौतों के साथ मृतकों की संख्या भी बढ़कर 12,295 हो गई। इसके अलावा राज्य का पॉजिविटी रेट (10.72) काफी हाई है, जो कि चिंता का विषय है। राज्य में एक्टिव केस की संख्या 1,00,437 है, और 27,16,284 लोग स्वस्थ हो चुके हैं।

साभार: Covid19.org

कोरोना की पिछली लहर का सामना करने में विफल रहा केरल दूसरी बार भी महामारी से मुकाबला करने में विफल रहा है। प्रदेश में कोरोना संक्रमण बढ़ने के पीछे राज्य सरकार द्वारा मजबूत स्वास्थ्य बुनियादी ढाँचे की कमी और उदासीनता को कारण बताया जा रहा है।

संक्रमण के बढ़ने से इस दक्षिण भारतीय राज्य का स्वास्थ्य ढाँचा भारी दवाब से गुजर रहा है। देशभर में कोरोना वायरस की दूसरी लहर के बीच राज्य सरकार को कोरोना मरीजों का इलाज करने में काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है।

तमिलनाडु:

तमिलनाडु में भी बीते 24 घंटे के दौरान 6,895 नए कोरोना संक्रमित मिले, जिससे कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 24,36,819 हो गई है। इसी अंतराल में कोरोना के कारण 190 से अधिक लोगों की मौत हुई है। इससे कुल मौतों का आँकड़ा भी बढ़कर 31,850 पर पहुँच गया है।

साभार: Covid19.org

इसके अलावा मंगलवार (22 जून 2021) को 13,156 लोग स्वस्थ भी हुए। इससे एक्टिव केस की संख्या घटकर 56,866 तक हो गई है। इसी साल 21 मई 2021 को तमिलनाडु 36,184 संक्रमित मिले थे, जो कि दूसरी लहर के दौरान अपने आप में सर्वाधिक है।

कोरोना संक्रमितों की तेजी से बढ़ती संख्या के बीच बीते 24 घंटे के दौरान केंद्र सरकार ने लगभग 88.09 लाख लोगों का टीकाककरण करके 21 जून 2021 को ऐतिहासिक उपलब्धि हासिल की। हालाँकि, मंगलवार को यह घटकर लगभग 53.4 लाख ही रहा। लेकिन केंद्र सरकार ने इस साल के अंत तक टीकाकरण अभियान पूरा करने का लक्ष्य निर्धारित किया है। मौजूदा वक्त में देश में तीन टीकों का इस्तेमाल हो रहा है। इसमें रूस निर्मित स्पुतनिक वी, और भारत की कोवैक्सिन और कोविशील्ड शामिल है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

सबा नकवी ने एटॉमिक रिएक्टर को बता दिया शिवलिंग, विरोध होने पर डिलीट कर माँगी माफ़ी: लोग बोल रहे – FIR करो

सबा नकवी ने मजाक उड़ाते हुए कहा कि भाभा एटॉमिक रिसर्च सेंटर में सबसे बड़े शिवलिंग की खोज हुई। व्हाट्सएप्प फॉरवर्ड बता कर किया शेयर।

गुजरात में बुरी तरह फेल हुई AAP की ‘परिवर्तन यात्रा’, पंजाब से बुलाई गाड़ियाँ और लोग: खाली जगह की ओर हाथ हिलाते रहे नेता

AAP नेता और पूर्व पत्रकार इसुदान गढ़वी रैली में हाथ दिखाकर थक चुके थे लेकिन सामने कोई उनकी बात का जवाब नहीं दे रहा था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
186,677FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe