Thursday, September 29, 2022
Homeदेश-समाजकेरल: अमेजन पर ऑर्डर किया पासपोर्ट कवर, दूसरे आदमी का असली पासपोर्ट भी भेज...

केरल: अमेजन पर ऑर्डर किया पासपोर्ट कवर, दूसरे आदमी का असली पासपोर्ट भी भेज दिया

मिथुन बाबू ने जब अमेजन कस्टमर केयर को पैकेज में असली पासपोर्ट होने के बारे में सूचित किया तो उनसे कहा गया कि ऐसा दोबारा नहीं होगा। कस्टमर केयर ने एग्जीक्यूटिव ने बताया कि वे अपने विक्रेता से आगे से इसका ध्यान रखने को कहेंगे। लेकिन उन्हें यह नहीं बताया कि कवर के साथ आए असली पासपोर्ट का वे क्या करें।

ई-कॉमर्स कंपनी अमेजन की एक बड़ी लापरवाही सामने आई है। केरल में पासपोर्ट कवर का ऑर्डर करने वाले शख्स को कंपनी ने किसी और व्यक्ति का असली पासपोर्ट डिलिवर कर दिया। सबसे दिलचस्प बात यह है कि ग्राहक द्वारा इसके बारे में सूचना दिए जाने पर भी कंपनी से उसे समुचित उत्तर नहीं मिला।

रिपोर्टों के अनुसार, वायनाड जिले के कनियाम्बेटा निवासी मिथुन बाबू ने अमेजन पर पासपोर्ट कवर के लिए ऑर्डर किया था। बदले में उन्हें किसी और का असली पासपोर्ट कवर के साथ मिला। मिथुन बाबू ने 30 अक्टूबर को अमेजन पर ऑर्डर दिया था और पार्सल की डिलीवरी 1 नवंबर को की गई थी। डिलिवरी पैकेट खोलने पर उन्हें पता चला कि इसमें न केवल पासपोर्ट कवर था, बल्कि किसी और व्यक्ति का असली पासपोर्ट भी मौजूद था।

मिथुन बाबू ने जब अमेजन कस्टमर केयर को पैकेज में असली पासपोर्ट होने के बारे में सूचित किया तो उनसे कहा गया कि ऐसा दोबारा नहीं होगा। कस्टमर केयर ने एग्जीक्यूटिव ने बताया कि वे अपने विक्रेता से आगे से इसका ध्यान रखने को कहेंगे। लेकिन उन्हें यह नहीं बताया कि कवर के साथ आए असली पासपोर्ट का वे क्या करें।

रिपोर्टों के अनुसार, जो पासपोर्ट मिथुन बाबू को मिला वह केरल के ही त्रिशूर जिले के कुन्नमकुलम गाँव के रहने वाले मोहम्मद सलीह नाम के व्यक्ति का था। बताया जा रहा है कि मिथुन को जो पासपोर्ट कवर मिला था शायद उसे पहले मुहम्मद सलीह ने ऑर्डर किया था। इसमें उन्होंने अपना पासपोर्ट डालकर चेक किया होगा। पसंद नहीं आने पर कवर वापस कर दिया होगा, लेकिन वे अपना पासपोर्ट निकालना भूल गए होंगे। माना जा रहा है कि अगली डिलिवरी के वक्त विक्रेता ने भी कवर चेक नहीं किया होगा जिसकी वजह से वह मिथुन बाबू के पास पहुँच गया। हालाँकि ये कोई पहली बार नहीं है जब Amazon द्वारा गलत डिलीवरी की गई है। इसी तरह की ऐसी ही एक अन्य घटना में दिल्ली से विक्रम बुरागोहेन ने रिमोट कंट्रोल कार का ऑर्डर दिया था और ई-कॉमर्स कंपनी ने बदले में उसे पारले-जी बिस्कुट भेज दिया।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

कैसा है वह ‘साहेब कोना’ जहाँ पहली बार हिंदू बने ईसाई: 1906 में जहाँ से भागे थे पादरी, 2022 में हमें भागना पड़ा

छत्तीसगढ़ के खड़कोना में 1906 में पहली बार हिंदुओं का धर्मांतरण हुआ। उसके बाद जो सिलसिला शुरू हुआ, उसने जशपुर को ईसाई धर्मांतरण के बड़े केंद्र में बदल दिया।

‘गौमूत्र पियो, गोबर खाओ हरा@*$’: बर्मिंघम में ‘अल्लाह-हू-अकबर’ बोल हिंदू मंदिर पर टूटी कट्टरपंथियों की भीड़, PM मोदी को दी माँ की गाली; Videos...

ब्रिटेन के बर्मिंघम में हिंदू मंदिर पर इस्लामी भीड़ ने हमला किया। वहाँ हिंदुओं को तो गंदी गालियाँ दी ही गईं। साथ में पीएम मोदी की माँ को भी गाली बकते कट्टरपंथी सुनाई पड़े।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
225,129FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe