Monday, December 6, 2021
Homeदेश-समाजकेरल: जुड़वा भाई नौशाद व नवास ने कई बार किया 5 और 10 साल...

केरल: जुड़वा भाई नौशाद व नवास ने कई बार किया 5 और 10 साल की मासूम बच्चियों का रेप, गिरफ्तार

बच्चियों के माता पिता ने मामले में दोनों भाइयों नौशाद और नवास के ख़िलाफ़ शिकायत करवाई और आरोप लगाया कि दोनों बच्चियों का कई बार रेप किया गया है। पुलिस ने इस मामले को दर्ज करने बाद तत्काल कार्रवाई करते हुए दोनों भाइयों को गिरफ्तार कर लिया और उनके ऊपर पॉक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज किया।

केरल की त्रिवेंद्रम पुलिस ने रविवार (अक्टूबर 4, 2020) को दो नाबालिग बच्चियों के रेप के आरोप में कथिततौर पर दो जुड़वा भाइयों को गिरफ्तार किया है। इन दोनों की पहचान नौशाद और नवास के रूप में हुई है। पीड़ित बच्चियों की उम्र 10 साल और 5 साल है। दोनों भाइयों पर बच्चियों के साथ कई बार रेप करने का आरोप है।

रिपोर्ट के मुताबिक, दोनों नाबालिगों के माता पिता काम पर जाने के कारण उन्हें इन दोनों के पास देख-रेख के लिए छोड़ कर जाते थे। मगर, उन्हें इस संबंध में शक तब हुआ जब उन्हें अपने बच्चों के बर्ताव में फर्क दिखने लगा और उन्होंने इस बारे में उनसे बात की। दोनों बच्चियों ने माता पिता को सारी बातें बताईं, जिसे सुनकर वह फौरन थाने पहुँचे।

बच्चियों के माता पिता ने मामले में दोनों भाइयों नौशाद और नवास के ख़िलाफ़ शिकायत करवाई और आरोप लगाया कि दोनों बच्चियों का कई बार रेप किया गया है। पुलिस ने इस मामले को दर्ज करने बाद तत्काल कार्रवाई करते हुए दोनों भाइयों को गिरफ्तार कर लिया और उनके ऊपर पॉक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज किया।

पुलिस बताती है कि आरोपितों ने बच्चियों का कथिततौर पर रेप करने के बाद उन्हें धमकी दी थी कि वह अपने पिता और रिश्तेदारों में से किसी को इस संबंध में न बताएँ। आरोपितों ने बच्चियों को धमकाते हुए कहा था कि अगर वह ऐसा करेंगी तो उन्हें गंभीर परिणाम भुगतने होंगे। बता दें, पुलिस ने दोनों आरोपितों को गिरफ्तार करने के बाद उन्हें 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है।

गौरतलब है कि एक ओर जहाँ केरल में दोनों बच्चियों के साथ रेप की वारदात का मामला सामने आया है। वहीं हाथरस में भी एक और रेप के बाद मौत का मामला उजागर हुआ है। पीड़िता की उम्र मात्र 6 साल थी। जानकारी के अनुसार, रेप का आरोप बच्ची की मौसी के बेटे पर ही लगा है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘मुस्लिम बाबरी विध्वंस को नहीं भूलेंगे, फिर से बनेगी मस्जिद’: केरल के स्कूल में बाँटा गया ‘मैं बाबरी हूँ’ का बैज

केरल के एक 'सेंट जॉर्ज स्कूल' की कुछ तस्वीरें भी सामने आई हैं, जिसमें एक SDPI कार्यकर्ता बच्चों की शर्ट पर बाबरी वाला बैज लगाता हुआ दिख रहा।

‘लड़ाई जीत ली, पर युद्ध जारी रहना चाहिए’: ISI सरगना और खालिस्तानी के साथ राकेश टिकैत का वीडियो कॉल, PM मोदी को कहा गया...

कथित किसान नेता राकेश टिकैत एक अंतरराष्ट्रीय वेबिनार का हिस्सा बने, जिसमें खालिस्तानी से लेकर ISI से जुड़े लोग भी शामिल हुए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
141,998FollowersFollow
412,000SubscribersSubscribe