Monday, May 16, 2022
Homeदेश-समाज2018 में 'गायत्री मंत्र' और 2019 में भारतीय सेना के लिए 'सौगंध मुझे इस...

2018 में ‘गायत्री मंत्र’ और 2019 में भारतीय सेना के लिए ‘सौगंध मुझे इस मिट्टी की’: ये थे लता मंगेशकर के अंतिम रिकॉर्ड किए गाने

सर्वाधिक रिकॉर्ड की गई गायिका के लिए वर्ष 1974 में लता मंगेशकर का नाम गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में शामिल किया गया था। हालाँकि, उन्होंने इसका विरोध किया था। सबसे खास बात है कि भारत के महान कंपोजर और म्यूजिक डायरेक्टर ओपी नैयर के साथ उन्होंने कभी काम नहीं किया। 

‘स्वर साम्राज्ञी’, ‘सरस्वती पुत्री’, ‘स्वर कोकिला’ जैसे अनगिनत उपमाओं एवं अलंकारों से सम्मानित की जाने वाली दिवंगत गायिका लता मंगेशकर का सबसे अंतिम रिकॉर्ड किया हुआ गीत ‘गायत्री मंत्र’ और ‘सौगंध मुझे इस मिट्टी का’ था। हर बार की तरह इस मंत्र और गाने को ही उन्होंने हृदय से गाया था।

रिलायंस इंडस्ट्री के मालिक मुकेश अंबानी की बेटी ईशा अंबानी और पीरामल घराने के आनंद पीरामल की 12 दिसंबर 2018 को शादी थी। इस शादी के दौरान लता मंगेशकर के स्वर में गाए गए गायत्री मंत्र को बजाया गया था। इस मंत्र को उन्होंने शुभकामना संदेश के रूप में भेजा था।

बता देें कि लता मंगेशकर पाँच साल की छोटी उम्र से ही गाती रही हैं, लेकिन एक पेशेवर गायक के रूप में उन्होंने Naachu Yaa Gade, Khelu Saari Mani Haus Bhaari गाना गाया था। हालाँकि, यह गाना किन्हीं कारणों से कभी रीलिज नहीं पाया। इस गाने को सदाशिव राव नेवरेकर ने मराठी फिल्म किट्टी हसल के लिए 1942 में कम्पोज किया था। लता मंगेशकर की आवाज में गाना डब हुआ, लेकिन अंतिम चरण में उसे हटाया दिया गया और वह रिलीज नहीं हो पाया।

इसके बाद Natali Chaitraachi Navalaai नाम का पहला गाना रिलीज हुआ। इसे दादा चंदेडकर ने 1942 में आई मराठी फिल्म Pahili Mangalaa-gaur में शामिल किया गया था। इस फिल्म में लता मंगेशकर ने एक्टर छोटी सी भूमिका भी निभाई थी। इस गाने को आप यहाँ सुन सकते हैं।

लता मंगेशकर ने सन 1946 में पहली बार हिंदी फिल्मों के गाना गाया था। फिल्म का नाम था ‘आपकी सेवा में’ और गीत के बोल थे ‘पाँय लागूँ कर जोरी रे’।

लता मंगेशकर को भारत का सर्वोच्च सम्मान ‘भारत रत्न’ 2001 में दिया गया था। 1999 से 2005 तक वह सांसद रहीं। उन्हें राज्यसभा के लिए नॉमिनेट किया गया था। फ्रांस की सरकार ने अपना सर्वोच्च नागरिक सम्मान ‘लीजेंड ऑफ ऑनर’ से 2007 में सम्मानित किया था। वह भारत की पहली ऐसी गायिका थीं, जिन्होंने रॉयल अल्बर्ट हॉल, लंदन में परफॉर्म किया था। 

सर्वाधिक रिकॉर्ड की गई गायिका के लिए वर्ष 1974 में लता मंगेशकर का नाम गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में शामिल किया गया था। हालाँकि, उन्होंने इसका विरोध किया था। सबसे खास बात है कि भारत के महान कंपोजर और म्यूजिक डायरेक्टर ओपी नैयर के साथ उन्होंने कभी काम नहीं किया। साल 2019 में उन्होंने अपनी आखि‍री रिकॉर्डिंग वर्ष 2019 में की थी। भारतीय आर्मी को समर्प‍ित ‘सौगंध मुझे इस मिट्टी की’ गाया था। इसेे मयूरेश पई ने कंपोज क‍िया था और इसे 30 मार्च 2019 में र‍िलीज क‍िया गया था।  

बता दें कि स्वर साम्राज्ञी का रविवार (6 फरवरी) को सुबह मुंबई के ब्रीच कैंडी अस्पताल में 92 वर्ष की आयु में देहांत हो गया। कोविड के बाद वह की परेशानियों से जूझ रही थीं। उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया था, लेकिन अंतत: उन्होंने इस नश्वर संसार को अलविदा कह दिया। इस दुख की घड़ी में सारा देश और दुनिया भर के संगीत प्रेमी गमगीन हैं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

योगी सरकार के कारण टूटा संगठन: BKU से निकलने के बाद टिकैत भाइयों के बयानों में फूट, एक ने मढ़ा BJP पर इल्जाम, दूसरा...

भारतीय किसान यूनियन में हुई फूट के मुद्दे पर राकेश टिकैत ने सरकार को दिया दोष, तो नरेश टिकैत ने किसी भी प्रकार की राजनीति होने से इंकार किया।

बॉलीवुड फिल्मों के फेल होने के पीछे कंगना ने स्टार किड्स को बताया जिम्मेदार, बोलीं- उबले अंडे जैसी शक्ल होती है इनकी, कौन देखेगा

कंगना रनौत ने एक बार फिर से स्टार किड्स को लेकर टिप्पणी की। उन्होंने कहा कि स्टार किड्स दर्शकों से कनेक्ट नहीं कर पाते। उनके चेहरे उबले अंडे जैसे लगते हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
185,988FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe