Friday, August 12, 2022
Homeदेश-समाजओलंपियन सुशील कुमार के खिलाफ 'लुक आउट नोटिस' जारी, नेशनल जूनियर चैंपियन रहे पहलवान...

ओलंपियन सुशील कुमार के खिलाफ ‘लुक आउट नोटिस’ जारी, नेशनल जूनियर चैंपियन रहे पहलवान की हत्या के मामले में तलाश

पुलिस को पता चला है कि सुशील कुमार, अजय, प्रिंस, सोनू, सागर, अमित और अन्‍य लोगों के बीच स्‍टेडियम के पार्किंग क्षेत्र में झगड़ा हुआ था।

दिल्ली के छत्रसाल स्टेडियम में हुई मारपीट और 23 साल के एक पहलवान की मौत के मामले में दिल्ली पुलिस ने ओलंपियन सुशील कुमार के खिलाफ लुक आउट नोटिस जारी किया है। पुलिस का कहना है कि छत्रसाल स्टेडियम में हुई मारपीट में 23 वर्षीय रेसलर सागर राणा की मौत के बाद से सुशील कुमार फरार हैं।

दिल्ली के छत्रसाल स्टेडियम से 4 मई 2021 को मारपीट की खबर आई थी। इस दौरान मारपीट में सागर राणा की मौत हो गई थी। वह जूनियर नेशनल चैंपियनशिप विजेता थे और उनके पिता दिल्ली पुलिस में हेड कॉन्स्टेबल हैं।

इस मामले में एडिशनल DCP (नॉर्थ-वेस्ट) डॉक्टर गुरइकबाल सिंह सिद्धू ने बताया था कि इस मारपीट में कई पहलवान जख्मी हुए थे और पुलिस ओलंपियन सुशील कुमार के घर भी गई थी, लेकिन वो वहाँ से नदारद थे। फिलहाल उनकी तलाश की जा रही है।

एक आरोपी हो चुका है गिरफ्तार

पुलिस के मुताबिक, इस मामले में 24 साल के प्रिंस दलाल को गिरफ्तार किया गया है। वह हरियाणा के झज्जर का रहने वाला है। छत्रसाल स्टेडियम में हुई झड़प के दौरान फायरिंग भी हुई थी। दलाल को डबल बैरेल लोडेड बंदूक के साथ दबोचा गया। मामले के एक अन्य आरोपित सोनू महल के बारे में पता चला है कि वो गैंगस्टर काला जठेड़ी का करीबी है। वह इससे पहले भी हत्या और डकैती के मामलों में जेल जा चुका है।

सिद्धू के मुताबिक पुलिस को पता चला है कि सुशील कुमार, अजय, प्रिंस, सोनू, सागर, अमित और अन्‍य लोगों के बीच स्‍टेडियम के पार्किंग क्षेत्र में झगड़ा हुआ था। मॉडल टाउन पुलिस थाने में FIR दर्ज की गई है। FSL (फॉरेंसिक साइंस लैब) रोहिणी के विशेषज्ञों ने घटनास्थल से फोरेंसिक सबूत भी जुटाए हैं।

फिलहाल, इस मामले में सुशील कुमार समेत अन्य लोगों के खिलाफ दिल्ली के मॉडल टाउन पुलिस स्टेशन में एफआईआर दर्ज की गई है। फिलहाल आरोपियों की तलाश के लिए पुलिस की कई टीमें गठित की गई हैं। एडिशनल डीसीपी सिद्धू ने कहा है कि इस घटना में हम सुशील कुमार की भूमिका की जाँच कर रहे हैं।

सुशील कुमार ने खुद को बताया था निर्दोष

इस घटना को लेकर बुधवार (5 मई 2021) को सुशील कुमार ने कहा था कि इस मामले से उनके पहलवानों का कोई लेना-देना नहीं है। इसके लिए बाहरी लोग जिम्मेदार हैं। उनका दावा है कि उन्होंने इसके बारे में पुलिस को बताया था कि कुछ बाहरी लोग उनके इलाके में घुस आए थे और उन्होंने मारपीट की थी।

गौरतलब है कि रेसलर सुशील कुमार ने वर्ष 2012 में लंदन ओलंपिक में रेसलिंग में सिल्वर मेडल जीता था। इससे पहले उन्होंने बीजिंग ओलंपिक 2008 में कांस्य पदक जीता था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

कब्रिस्तान की बॉउंड्री से सटी मिली 25 वर्षीय लड़की की सिर कटी लाश, हत्यारों ने चादर में बाँधकर फेंका: मेरठ की घटना

उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले में कब्रिस्तान की बॉउंड्री के पास मार्निंग वॉक पर निकले लोगों को एक युवती की सिर कटी लाश मिली है

बंगाल, छत्तीसगढ़, ओडिशा में PM आवास योजना के नाम पर भ्रष्टाचार: बैंक खाते बदल पैसे की हेराफेरी, फंड से ‘खेल’ डेडलाइन में देरी

केंद्र सरकार की महत्वकांक्षी 'पीएम आवास योजना' को लेकर विपक्ष प्रशासित राज्य ढीला रवैया अपना रहे हैं। ग्रामीण विकास मंत्रालय ने...

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
213,239FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe