मुस्लिम युवती से शादी करने वाले हिन्दू लड़के पर धर्म परिवर्तन का दबाव, जिंदा जलाने की धमकी

युवती ने अपने परिजनों और स्थानीय पुलिस पर लगाया लड़के को प्रताड़ित करने का आरोप। कहा- पति से कहते हैं या तो धर्म बदलो या फिर लड़की को साथ रखने से मना कर दो।

उत्तर प्रदेश के सहारनपुर में मुस्लिम समाज की एक युवती ने सैनी समाज के युवक के साथ प्रेम विवाह कर लिया। अब दोनों ने परिजनों से जान को खतरा बताया है। मामला जनपद के बिहारीगढ़ थाना इलाके का है। अलग-अलग धर्म का होने के कारण इस जोड़े को ग्रामीणों ने गाँव से निकाल दिया है।

युवती ने थानाध्यक्ष और अपने परिजनों पर आरोप लगाया है कि वे युवक पर धर्म परिवर्तन का दबाव बना रहे है। नव दम्पति ने सिटी एसपी से सुरक्षा की गुहार लगाई है।

जानकारी के अनुसार थाना बिहारीगढ़ के गाँव कुरड़ीखेड़ा निवासी आरजू अपने पति अमित के साथ एसपी से मिलने पहुँची थी। उसने बताया कि उन दोनों ने पिछले दिनों भागकर शादी की थी। इसके बाद उसने अपना नाम खुशनसीब रख लिया। कुछ दिन बाद जब इसकी भनक ग्रामीणों को लगी तो उन्होंने लड़के और उसके परिवार को मारपीट करके गाँव से निकाल दिया। नवविवाहित जोड़ा चाहता है कि उन्हें सुरक्षा प्रदान की जाए, साथ ही उनके परिजनों को गाँव में रहने दिया जाए।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

युवती का कहना है कि उमरद्दीन, इरशाद, अरशद, मेहरबान, मेहताब, अश्विनी, अंकित नामक लोग उन्हें परेशान कर रहे हैं। इसकी उन्होंने पुलिस में शिकायत भी की। लेकिन पुलिस उनका ही साथ दे रही है। आरजू के मुताबिक उसके पति को हिरासत में लेकर प्रताड़ित किया जाता है।

सोशल मीडिया पर शेयर वीडियो में युवती कह रही है कि पुलिस वाले उनसे या तो धर्म परिवर्तन करने के लिए कहते हैं और या फिर लड़के से कहते हैं कि वो लड़की को साथ रखने से मना कर दे।

बता दें कि इस मामले में युवती ने अदालत में अपने पति के ही पक्ष में बयान दिए हैं। साथ ही कहा है कि परिजनों के कहने पर एसओ बिहारीगढ़ उन्हें तंग कर रहे हैं। युवती के अनुसार बुधवार (जुलाई 16, 2019) को जब वह अपने पति संग ससुराल पहुँची तो उन दोनों को गाँव के बाहर रोक लिया गया और जिंदा जलाने की धमकी दी गई।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

संदिग्ध हत्यारे
संदिग्ध हत्यारे कानपुर से सड़क के रास्ते लखनऊ पहुंचे थे। कानपुर रेलवे स्टेशन के सीसीटीवी से इसकी पुष्टि हुई है। हत्या को अंजाम देने के बाद दोनों ने बरेली में रात बिताई थी। हत्या के दौरान मोइनुद्दीन के दाहिने हाथ में चोट लगी थी और उसने बरेली में उपचार कराया था।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

104,900फैंसलाइक करें
19,227फॉलोवर्सफॉलो करें
109,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: