Tuesday, June 25, 2024
Homeदेश-समाजसलमान खुर्शीद पर FIR का आदेश: अयोध्या वाली किताब में हिंदुत्व की तुलना ISIS...

सलमान खुर्शीद पर FIR का आदेश: अयोध्या वाली किताब में हिंदुत्व की तुलना ISIS और बोको हरम से करने का मामला

इससे पहले दिल्ली हाईकोर्ट ने खुर्शीद की विवादित किताब पर बैन लगाने से इनकार कर दिया था।

कॉन्ग्रेस नेता सलमान खुर्शीद पर लखनऊ की एक अदालत ने FIR दर्ज करने का आदेश दिया है। ACJM शान्तनु त्यागी ने बख्शी का तालाब के SHO को 3 दिन में FIR की कॉपी कोर्ट में जमा करने के निर्देश दिए हैं। इस मामले में शिकायतकर्ता एडवोकेट शुभांगी तिवारी हैं। मामला खुर्शीद की किताब ‘सनराइज ओवर अयोध्या: नेशनहुड इन आवर टाइम्स (Sunrise Over Ayodhya: Nationhood in Our Times)’ से जुड़ा है। इमसें कॉन्ग्रेस नेता ने हिंदुत्व की तुलना इस्लामिक स्टेट और बोको हराम जैसे आतंकी संगठनों से की है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक शिकायतकर्ता ने इस किताब को हिन्दू धर्म की आस्था पर आघात बताया है। किताब के पेज संख्या 116 के अध्याय 6 (द) का उल्लेख किया है। इस स्थान पर शीर्षक का नाम ‘द सैफरोन स्काई’ है। इसी स्थान पर हिंदुत्व की तुलना बोको हराम और ISIS से करने का आरोप खुर्शीद पर लगाया गया है।

शिकायत में यह भी कहा गया है कि खुर्शीद ने हिंदुत्व की तुलना जानवर और हैवानों से की है। एडवोकेट शुभांगी ने हिन्दू और हिंदुत्व के बीच ठीक वही रिश्ता बताया है जो माता और मातृत्व में होता है। हिन्दू धर्म का गुण हिंदुत्व है। याचिका में न सिर्फ सलमान खुर्शीद पर कार्रवाई की माँग की है बल्कि विवादित किताब की प्रतियों को भी ज़ब्त करने का भी आवेदन किया गया है।

इससे पहले दिल्ली हाईकोर्ट ने खुर्शीद की विवादित किताब पर बैन लगाने से इनकार कर दिया था। विनीत जिंदल की याचिका को ख़ारिज करते हुए कोर्ट ने कहा था, “हम क्या कर सकते हैं यदि लोग इतने संवेदनशील हो चुके हैं तो। किसी ने ये तो नहीं कहा है न कि इसे पढ़ें ही।” कोर्ट ने यह भी कहा था, “अगर आप इस किताब को नहीं पढ़ना चाहते हैं तो अपनी आँखें बंद कर लीजिए। अगर किताब से भावनाएँ आहत होती हैं, तो इससे बेहतर किताब पढ़ सकते हैं।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

क्या है भारत और बांग्लादेश के बीच का तीस्ता समझौता, क्यों अनदेखी का आरोप लगा रहीं ममता बनर्जी: जानिए केंद्र ने पश्चिम बंगाल की...

इससे पहले यूपीए सरकार के दौरान भारत और बांग्लादेश के बीच तीस्ता के पानी को लेकर लगभग सहमति बन गई थी। इसके अंतर्गत बांग्लादेश को तीस्ता का 37.5% पानी और भारत को 42.5% पानी दिसम्बर से मार्च के बीच मिलना था।

लोकसभा में ‘परंपरा’ की बातें, खुद की सत्ता वाले राज्यों में दोनों हाथों में लड्डू: डिप्टी स्पीकर पद पर हल्ला कर रहा I.N.D.I. गठबंधन,...

कर्नाटक, तेलंगाना और हिमाचल प्रदेश में कॉन्ग्रेस ने अपने ही नेता को डिप्टी स्पीकर बना रखा है विधानसभा में। तमिलनाडु में DMK, झारखंड में JMM, केरल में लेफ्ट और पश्चिम बंगाल में TMC ने भी यही किया है। दिल्ली और पंजाब में AAP भी यही कर रही है। लोकसभा में यही I.N.D.I. गठबंधन वाले 'परंपरा' और 'परिपाटी' की बातें करते नहीं थक रहे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -