Saturday, June 22, 2024
Homeदेश-समाजकोई पूछे तो कहना चोट लगी है: उन्नाव में 5 साल के हिन्दू लड़के...

कोई पूछे तो कहना चोट लगी है: उन्नाव में 5 साल के हिन्दू लड़के का मौलवी ने किया खतना, दादी मदरसे में पढ़ने भेजती थी

उन्नाव पुलिस के DSP के मुताबिक धर्मान्तरण के इस मामले में आरोपित को गिरफ्तार कर लिया गया है। उन्होंने बताया कि मामले में अभी जाँच जारी है और जो भी तथ्य निकल कर सामने आएँगे उस पर नियमनुसार कार्रवाई की जाएगी।

उत्तर प्रदेश के उन्नाव जिले में एक मौलवी द्वारा 5 साल के हिन्दू बच्चे के जबरन खतना किए जाने का मामला सामने आया है। आरोप असलम नाम के एक मौलवी पर लगा है जिसके खिलाफ परिजनों ने पुलिस में शिकायत दी। मामले की जानकारी होते के बाद हिन्दू संगठनों ने नाराजगी जताई है। पुलिस ने मदरसे में पढ़ाने वाले मौलवी को गिरफ्तार कर लिया है। घटना में बच्चे की दादी की भी संलिप्तता का आरोप लगा है। शनिवार (22 अक्टूबर 2022) को पुलिस द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक मामले में जाँच चल रही है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार घटना थानाक्षेत्र गंगाघाट के शुक्लागंज की है। यहाँ चम्पा पुरवा में 5 साल का एक हिन्दू बच्चा अपने पिता और दादा-दादी के साथ रहता है। बच्चे की माँ का देहांत हो चुका है। उसके पिता मजदूरी कर के उसे पालते हैं। बताया जा रहा है कि बच्चे को गाँव के ही एक मदरसे में पढ़ने के लिए भेजा जाता था। आरोप है कि यहाँ पढ़ाने वाले मौलवी असलम ने बच्चे को बहला-फुसला कर गाँव से बाहर ले जा कर उसका खतना कर दिया।

बताया जा रहा है कि पहले तो बच्चे के परिजनों को इसकी जानकारी नहीं हुई। बाद में उन्हें लगा कि बच्चे को चोट लगी है। इसके बाद बच्चे को डॉक्टर के पास ले जाया गया जहाँ उन्हें बच्चे के खतना होने की जानकारी मिली। बच्चे ने इसे मौलवी असलम की करतूत बताया। घटना की जानकारी जब हिन्दू संगठन के सदस्यों को हुई तो उन्होंने पुलिस से असलम के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की माँग की।

पुलिस ने पीड़ित परिजनों की तहरीर पर मौलवी असलम के खिलाफ केस दर्ज कर के उसे गिरफ्तार कर लिया। उन्नाव पुलिस के DSP के मुताबिक धर्मान्तरण के इस मामले में आरोपित को गिरफ्तार कर लिया गया है। उन्होंने बताया कि मामले में अभी जाँच जारी है और जो भी तथ्य निकल कर सामने आएँगे उस पर नियमनुसार कार्रवाई की जाएगी।

बच्चे की दादी पर भी आरोप

वहीं मामले से जुड़े एक अन्य वीडियो में शशि नाम की महिला बच्चे को अपनी जेठानी के बड़े लड़के का बेटा बता रही है। शशि के मुताबिक वो लोग हिन्दू हैं लेकिन न जाने बच्चे के दादा-दादी को क्या सूझी कि उन्होंने खुद से ही बच्चे का धर्मान्तरण करवा दिया। धर्मान्तरण में बच्चे की दादी को भी शामिल बताते हुए शशि ने कहा कि ये सब किसी के इशारे पर हुआ है लेकिन धर्मान्तरण उसी बच्चे के घर पर ही हुआ है। शशि ने आगे बताया कि बच्चे की दादी तीनों बच्चो को मदरसे में पढ़ने के लिए भेजती हैं।

शशि को कहते सुना जा सकता है कि कोई भी देख सकता है कि बच्चे के साथ क्या हुआ है। बताया जा रहा है कि असलम ने बच्चे से कहा था कि अगर कोई पूछे तो बता देना कि कहीं गिरने से ये चोट आई है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आज भी ‘रलिव, गलिव, चलिव’ ही कश्मीर का सत्य, आखिर कब थमेगा हिन्दुओं को निशाना बनाने का सिलसिला: जानिए हाल के वर्षों में कब...

जम्मू कश्मीर में इस्लाम के नाम पर लगातार हिन्दू प्रताड़ना जारी है। 2024 में ही जिहाद के नाम पर 13 हिन्दुओं की हत्याएँ की जा चुकी हैं।

CM केजरीवाल ने माँगे थे ₹100 करोड़, हमने ₹45 करोड़ का पता लगाया: ED ने दिल्ली हाई कोर्ट को बताया, कहा- निचली अदालत के...

दिल्ली हाई कोर्ट ने मुख्यमंत्री और AAP मुखिया अरविन्द केजरीवाल की नियमित जमानत पर अंतरिम तौर पर रोक लगा दी है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -