Monday, January 17, 2022
Homeदेश-समाजसंक्रमित कपड़े का उपयोग कर नाई काट रहा था बाल-दाढ़ी, गाँव में 6 अन्य...

संक्रमित कपड़े का उपयोग कर नाई काट रहा था बाल-दाढ़ी, गाँव में 6 अन्य लोग हुए कोरोना पॉजिटिव, मचा हड़कंप

स्वास्थ्य विभाग ने हिस्ट्री खंगाली तो पाया कि पीड़ित युवक ने गाँव के ही एक नाई से कटिंग-शेविंग कराई थी। इस पर स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों द्वारा नाई से की गई पूछताछ में पाया कि नाई ने उसी संक्रमित कपड़े का उपयोग करते हुए गाँव के 8-10 लोगों की हजामत बनाई थी।

कोरोना की रोकथाम के लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा समय-समय पर गाइडलाइन जारी की जाती हैं, लेकिन सरकार की लाख कोशिशों के बाद भी कुछ लोग अपनी आदत से बाज नहीं आते। कुछ ऐसा ही हुआ मध्य प्रदेश में खरगोन जिले के एक गाँव में, जहाँ एक नाई संक्रमित कपड़े का उपयोग करते हुए दुकान पर आए लोगों के बाल-दाढ़ी काटता चला गया। इसका परिणाम कुछ यह रहा कि एक के बाद एक गाँव के 6 लोग कोरोना पॉजीटिव पाए गए। इसके बाद पूरे गाँव को सील कर दिया गया है।

मामला खरगौन जिले के बड़गाँव का है, जहाँ एक साथ 6 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए। जानकारी के मुताबिक 5 अप्रैल को इंदौर के सैफी होटल में वेटर के रूप में काम करने वाले मनोज कुशवाह को कोरोना पॉजिटिव पाया गया था। इसके बाद स्वास्थ्य विभाग ने हिस्ट्री खंगाली तो पाया कि पीड़ित युवक ने गाँव के ही एक नाई से कटिंग-शेविंग कराई थी। इस पर स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों द्वारा नाई से की गई पूछताछ में पाया कि नाई ने उसी संक्रमित कपड़े का उपयोग करते हुए गाँव के 8-10 लोगों की हजामत बनाई थी।

इतनी जानकारी मिलते ही स्वास्थ्य विभाग ने नाई के पास आने वाले सभी लोगों के सैंपल लेकर जाँच के लिए भेज दिए। शुक्रवार को खरगौन जिले में एक साथ 9 नए कोरोना पॉजिटिव के केस सामने आए। इसमें आश्चर्य की बात यह कि एक इनमें से एक ही गाँव के 6 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए। इसकी जानकारी मिलते ही जिला प्रशासन में हड़कंप मच गया और स्वास्थ्य विभाग की टीम ने पुलिस प्रशासन की मदद से तत्काल पूरे गाँव को सील कर दिया।

खरगौन के सीएमएचओ दिव्येश वर्मा ने बताया कि रात में एक ही गाँव के 6 और सुबह 3 पॉजिटिव केस मिले। बड़गाँव के 6 ग्रामीणों के रिपोर्ट पॉजिटिव आए हैं। इसके बाद गाँव की सीमाओं को पूरी तरह सील कर दिया गया। साथ ही लॉकडाउन का सख्ती से पालन हो इसके लिए पूरे गाँव के लोगों को निगरानी में रखा गया है।

आपको बता दें कि खरगोन जिले में अब कोरोना पॉजिटिव केसों की संख्या 60 हो गई। वहीं अगर पूरी मध्य प्रदेश की बात करें तो स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के मुताबिक मध्य प्रदेश में कोरोना से मरने वालों की संख्या 92, जबकि इससे संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 1852 हो गई है।

गौरतलब है कि मध्य प्रदेश के इंदौर शहर कोरोना का केन्द्र बन गया है। महीने के शुरूआत में ही दो दिन में दो कोरोना संक्रमित डॉक्टरों ने दम तोड़ दिया था। यह देश में डॉक्टरों की मौत का पहला मामला था। इसके बाद सरकार ने पूरे शहर की सभी सीमाओं को सील कर दिया था साथ ही शहर को जगह-जगह सैनिटाइज कराया गया था।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘रेप कैपिटल बन गया है राजस्थान’: अलवर मूक-बधिर बच्ची से गैंगरेप मामले में पुलिस का यू-टर्न, गहलोत सरकार ने की CBI जाँच की सिफारिश

अलवर में रेप की शिकार मूक-बधिर बच्ची के मामली की जाँच मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सीबीआई को सौंप दी है। सरकार का काफी विरोध हो रहा है।

CM योगी का UP: 2000 Cr का अवैध साम्राज्य ध्वस्त, ढेर हुए 140 अपराधी, धर्मांतरण और गोकशी पर शिकंजा, महिलाएँ सुरक्षित हुईं

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश को महिलाओं के लिए सुरक्षित बनाया। गोकशी-धर्मांतरण पर प्रहार किया। उत्तर प्रदेश में माफिया राज खत्म हुआ।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
151,693FollowersFollow
413,000SubscribersSubscribe