Sunday, June 23, 2024
Homeदेश-समाजअभिनंदन जैसी मूँछ पर सिपाही सस्पेंड: कटवाने से किया इनकार, कहा- राजपूत हूँ, यह...

अभिनंदन जैसी मूँछ पर सिपाही सस्पेंड: कटवाने से किया इनकार, कहा- राजपूत हूँ, यह स्वभिमान की बात

राकेश राणा भोपाल को-ऑपरेटिव फ्रॉड एवं लोक सेवा गारंटी विंग में तैनात थे। वो स्पेशल डीजी के वाहन चालक के पद पर थे। विभाग के अधिकारियों के अनुसार उनके चेहरे पर मूँछ का स्टाइल भद्दा लगता था।

कई जगहों पर पुलिस को मूँछ भत्ता मिलता है। मकसद पुलिसकर्मी रौबदार दिखें। कई बार पुलिसकर्मियों को मूँछ के लिए सम्मानित भी किया जाता है। लेकिन मध्य प्रदेश से एक ऐसा मामला सामने आया है, जिसमें मूँछ नहीं कटवाने पर सिपाही को सस्पेंड कर दिया गया। मीडिया रिपोर्टों के अनुसार सिपाही ने खुद को राजपूत और मूँछ को स्वाभिमान का विषय बताते हुए कटवाने से इनकार कर दिया और कहा कि उसे निलंबन कबूल है। कुछ मीडिया रिपोर्ट में यह भी बताया गया है कि इस संबंध में विवाद होने के बाद इस पुलिसकर्मी को फिर से बहाल कर दिया गया है। लेकिन, इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं हो पाई है।

मूँछ के चलते सस्पेंड किये गए मध्य प्रदेश पुलिस के सिपाही राकेश राणा हैं। निलंबन के बाद सोशल मीडिया में उनका एक वीडियो भी वायरल हुआ है। इसमें वे निलंबन स्वीकार करने और मूँछ न कटवाने की बात कह रहे हैं।

वीडियो में सिपाही राकेश राणा को कहते सुना जा सकता है, “सर का कहना था कि मूँछ कटवा लीजिए। मेरा ये मानना है कि मूँछ तो कटवाऊँगा नहीं, क्योंकि मैं राजपूत परिवार से हूँ। यह स्वभिमान वाली बात है। पुलिस विभाग में भी मूँछ रख कर अच्छा लगता है। पुलिस विभाग में कई IPS अधिकारी भी मूँछ रखे हुए हैं। जो आपत्ति मेरे ऊपर उठाई गई है वो कुछ समझ में नहीं आई। मुझे ही क्यों टोका गया मूँछ पर? मैं निलंबन स्वीकार करता हूँ।”

राकेश राणा भोपाल को-ऑपरेटिव फ्रॉड एवं लोक सेवा गारंटी विंग में तैनात थे। वो स्पेशल डीजी के वाहन चालक के पद पर थे। विभाग के अधिकारियों के अनुसार उनके चेहरे पर मूँछ का स्टाइल भद्दा लगता था। इसके चलते उन्हें कई बार मूँछ कटवाने के लिए बोला गया, लेकिन उन्होंने अनसुना कर दिया। आख़िरकार 7 जनवरी (शुक्रवार) को उनके निलंबन का आदेश जारी कर दिया गया।

आदेश

निलंबन आदेश में कहा गया है कि राकेश राणा का टर्नआउट चेक करने पर पाया गया कि उनके बाल बढ़े हुए हैं। मूँछ अजीब डिजाइन में गले पर हैं। उन्हें बाल और मूँछ को ठीक से कटवाने के लिए निर्देशित किया गया। सिपाही ने मूँछ न कटवाने की जिद पकड़ ली। यह यूनिफॉर्म सेवा में अनुशासनहीनता है। इस कृत्य से विभाग के अन्य कर्मचारियों पर भी गलत असर पड़ता है। अतः कांस्टेबल राकेश राणा को सस्पेंड किया जाता है। गौरतलब है कि राकेश राणा की मूँछ भारतीय ग्रुप कैप्टन अभिनंदन वर्धमान की तरह दिखती है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘चोर औरंगजेब’ की मौत को लेकर खौफ में हिंदू परिवार, व्यापार समेटकर कहीं और बसने की तैयारी: ऑपइंडिया को बताया अलीगढ़ में अब क्यों...

अलीगढ़ के कथित चोर औरंगज़ेब की मौत मामले में नामजद हिन्दू व्यापारियों के परिजन अब व्यापार समेट कर कहीं और बसने का मन बना रहे हैं।

NEET पेपरलीक का मास्टरमाइंड निकाल बिहार का लूटन मुखिया, डॉक्टर बेटा भी जेल में: पत्नी लड़ चुकी है विधानसभा चुनाव, नौकरी छोड़ खुद बना...

नीट पेपर लीक के मास्टरमाइंड में से एक संजीव उर्फ लूटन मुखिया। वह BPSC शिक्षक बहाली पेपर लीक कांड में जेल जा चुका है। बेटा भी जेल में है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -