Wednesday, May 22, 2024
Homeदेश-समाज18 साल की सोनम शुक्ला, बोरे में मिली लाश... ट्यूशन के नाम पर गई...

18 साल की सोनम शुक्ला, बोरे में मिली लाश… ट्यूशन के नाम पर गई थी ‘बॉयफ्रेंड’ मोहम्मद अंसारी के घर

मामले में बात करते हुए वर्सोवा पुलिस के एक अधिकारी ने कहा कि उन्हें स्थानीय सूत्रों से अंसारी के बारे में पता चला था। जिसे गिरफ्तार कर लिया गया है।

मुंबई पुलिस ने NEET की तैयारी कर रही 18 वर्षीय छात्रा सोनम शुक्ला की निर्मम हत्या के मामले में मोहम्मद अंसारी नाम के 23 वर्षीय युवक को गिरफ्तार किया है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, पीड़िता सोनम सोमवार (25 अप्रैल, 2022) शाम 4 बजे ट्यूशन के लिए घर से निकलने के बाद लापता हो गई थी। सोनम मुंबई के गोरेगाँव वेस्ट इलाके के प्रेमनगर की रहने वाली थीं। पुलिस के अनुसार, किशोरी अपनी ट्यूशन नहीं गई और रात करीब 9 बजे वहाँ से निकलने से पहले अपनी एक महिला मित्र के घर चली गई।

जब सोनम शुक्ला रात 9:30 बजे तक घर नहीं लौटी, तो चिंतित पिता ने उसका पता लगाने के लिए उसे फोन किया। पीड़िता के पिता ने बताया, “मेरी बेटी ने मुझसे कहा कि वह कुछ समय में घर पहुँच जाएगी क्योंकि वह अपने दोस्त के घर पर है। लेकिन जब वह रात 11.30 बजे तक नहीं पहुँची, तो मैं चिंतित हो गया और फिर से उसे कॉल लगाने की कोशिश की।”

उन्होंने बताया कि सम्भवतः रात करीब 11 बजे ही किशोरी का फोन बंद हो गया था। वहीं, 18 वर्षीय, स्नातक छात्रा, बेकरी मालिक मोहम्मद अंसारी के घर गई थी। क्योंकि, उस समय उसके अम्मी-अब्बू घर पर नहीं थे।

अंसारी के साथ कथित तौर पर रिलेशनशिप में रहीं सोनम शुक्ला की उनसे तीखी नोकझोंक हुई। इसके बाद आरोपित ने उसका तार से तब तक गला घोंट दिया जब तक कि पीड़िता की मौत नहीं हो गई। फिर उसने उसके हाथ और पैर बाँध दिए, उसके शव को एक बोरे में भर दिया और फिर उसे मलाड पश्चिम में एक नाले के पास फेंक दिया।

आरोपित अंसारी को उम्मीद थी कि शव को मछलियाँ खा जाएँगी। बेटी के न मिलने पर सोनम के पिता ने गोरेगाँव पश्चिम पुलिस में गुमशुदगी की शिकायत दर्ज कराई। वहीं पुलिस को सोनम का क्षत-विक्षत शव गुरुवार (28 अप्रैल, 2022) को ही बरामद हो गया था, जब वह वर्सोवा के बरिस्ता लेन में किनारे लग गया था।

गौरतलब है कि डीसीपी (जोन IX) मंजूनाथ सिंगे ने मामले का संज्ञान लिया था और जाँच शुरू की। वर्सोवा पुलिस ने अपने व्हाट्सएप ग्रुप पर पीड़िता की तस्वीर अपलोड की और पता चला कि गोरेगाँव पश्चिम पुलिस स्टेशन में उसके माता-पिता ने एक लड़की के लापता होने की सूचना दी थी। पुलिस ने सोनम के माता-पिता को सूचित किया, जिन्होंने पहले गुमशुदगी की शिकायत दर्ज कराई थी।

वहीं सोनम के पिता ने इस पूरे मामले में अफसोस जताते हुए कहा, “मुझे पता चला कि मेरी बेटी की हत्या कर दी गई थी जब पुलिस ने एक लड़की के क्षत-विक्षत शरीर की तस्वीर भेजी थी, लेकिन वह उसकी पहचान करने की स्थिति में नहीं थे। इसलिए, हमें कूपर अस्पताल पहुँचने के लिए कहा गया जहाँ हमने उसकी पहचान की। पुलिस ने कहा कि उसका शरीर एक बोरे में भरा हुआ था और वर्सोवा के पास राख में पड़ा मिला था।”

मामले में बात करते हुए वर्सोवा पुलिस के एक अधिकारी ने कहा कि उन्हें स्थानीय सूत्रों से अंसारी के बारे में पता चला था। जिसे गिरफ्तार कर लिया गया है। अधिकारी ने कहा कि पूछताछ के दौरान ही आरोपित अंसारी टूट गया और उसने अपना अपराध कबूल कर लिया है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘ध्वस्त कर दिया जाएगा आश्रम, सुरक्षा दीजिए’: ममता बनर्जी के बयान के बाद महंत ने हाईकोर्ट से लगाई गुहार, TMC के खिलाफ सड़क पर...

आचार्य प्रणवानंद महाराज द्वारा सन् 1917 में स्थापित BSS पिछले 107 वर्षों से जनसेवा में संलग्न है। वो बाबा गंभीरनाथ के शिष्य थे, स्वतंत्रता के आंदोलन में भी सक्रिय रहे।

‘ये दुर्घटना नहीं हत्या है’: अनीस और अश्विनी का शव घर पहुँचते ही मची चीख-पुकार, कोर्ट ने पब संचालकों को पुलिस कस्टडी में भेजा

3 लोगों को 24 मई तक के लिए हिरासत में भेज दिया गया है। इनमें Cosie रेस्टॉरेंट के मालिक प्रह्लाद भुतडा, मैनेजर सचिन काटकर और होटल Blak के मैनेजर संदीप सांगले शामिल।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -