Wednesday, April 24, 2024
Homeदेश-समाजSC/ST एक्ट में फँसाने की धमकी, गर्भवती होते यौन शोषण: महाराष्ट्र की 'लेडी सिंघम'...

SC/ST एक्ट में फँसाने की धमकी, गर्भवती होते यौन शोषण: महाराष्ट्र की ‘लेडी सिंघम’ की सुसाइड की हर डिटेल

एक सहकर्मी के मुताबिक फरवरी 2020 में शिवकुमार ने दीपाली को सैकड़ों किलोमीटर की तीन दिन की पेट्रोल ड्यूटी के लिए बाध्य किया था। उस समय वह गर्भवती थी। बाद में उसका गर्भपात हो गया, जिसके कारण वह गहरे अवसाद में थी।

महाराष्ट्र की ‘लेडी सिंघम’ के रूप में जानी जाने वाली 28 वर्षीय महिला फॉरेस्ट रेन्ज ऑफिसर ने पिछले बीते गुरुवार (25 मार्च 2021) को सुसाइड कर ली थी। इसके बाद से ही इस मामले को लेकर सोशल मीडिया पर कई सवाल पूछे जा रहे हैं। दीपाली चव्हाण मोहिते ने अपनी सर्विस रिवॉल्वर से ही खुद को गोली मार ली थी। घटना अमरावती के हरिशाल गाँव की है, जहाँ टाइगर रिजर्व भी स्थित है। दीपाली की खून से लथपथ लाश उनके आधिकारिक फ्लैट में मिली थी।

रिश्तेदारों और सहकर्मियों ने उनकी लाश देखने के बाद इसकी सूचना पुलिस को दी। आत्महत्या के समय वह 5 महीने की गर्भवती भी थीं। दीपाली की लाश के पास से कथित रूप से एक सुसाइड नोट भी मिला है, जिसमें उन्होंने एक वरिष्ठ IFS अधिकारी पर यौन शोषण और प्रताड़ना का आरोप लगाया है। मेलघाट टाइगर रिजर्व में कार्यरत रहीं मोहिते ने सुसाइड नोट में DCF (डिप्टी कंजर्वेटर ऑफ फॉरेस्ट्स) विनोद शिवकुमार पर कार्रवाई की माँग की है, ताकि किसी और के साथ ऐसा न हो।

शिवकुमार पर अपने पद का दुरुपयोग करने, मानसिक प्रताड़ना देने और यौन शोषण करने के आरोप लगाए गए हैं। दीपाली ने पिछले कुछ महीनों में कई बार MTR फील्ड डायरेक्टर MS रेड्डी के समक्ष इसकी शिकायत की थी। आरोप है कि रेड्डी ने शिकायत को नज़रअंदाज़ कर आरोपित का ही साथ दिया। शिवकुमार पर शराबी होने का आरोप लगाते हुए दीपाली ने सार्वजनिक रूप से गाली-गलौज करने और शारीरिक सम्बन्ध बनाने के लिए दबाव डालने का आरोप भी लगाया है।

आरोप है कि जब दीपाली ने शिवकुमार की इन हरकतों का विरोध किया तो DCF ने उन्हें कठिन असाइनमेंट्स देना शुरू कर दिया और सैलरी रोक कर व्यस्ततम वर्क शेड्यूल दे दिया। वो रात को मिल कर अश्लील बातें करने का दबाव बनाता था। एक टूरिस्ट कॉम्प्लेक्स में अकेले बुला कर सेक्सुअल फेवर माँगता था। साथ ही दीपाली ने ये बड़ा आरोप भी लगाया कि शिवकुमार ने SC/ST एक्ट के तहत उसके खिलाफ मामला दर्ज करवाने की धमकी दी थी।

दीपाली ने लिखा है कि मंगिया गाँव के कुछ लोगों ने उन पर SC/ST एक्ट लगाने की धमकी दी थी। आरोप है कि जब दीपाली शिवकुमार को इसके बारे में बताया, तो उसने कहा कि वो देखेगा कि SC/ST एक्ट की किन धाराओं के तहत दीपाली को जेल होगी और वो सज़ा सुनिश्चित करेगा। ग्रामीणों ने दीपाली को नजरबन्द कर दिया था और सूचना मिलने पर शिवकुमार ने इसे ड्रामा करार दिया था।

एक सहकर्मी के मुताबिक फरवरी 2020 में शिवकुमार ने दीपाली को सैकड़ों किलोमीटर की तीन दिन की पेट्रोल ड्यूटी के लिए बाध्य किया था। उस समय वह गर्भवती थी। बाद में उसका गर्भपात हो गया, जिसके कारण वह गहरे अवसाद में थी। उप-मुख्यमंत्री अजित पवार ने इस मामले में जाँच की बात कही है। महाराष्ट्र सरकार ने फ़िलहाल MS रेड्डी को सस्पेंड कर दिया है। वहीं विनोद शिवकुमार को भी सस्पेंड कर गिरफ्तार कर लिया गया है। दीपाली जंगल के तस्करी और फॉरेस्ट माफिया गिरोह के खिलाफ कार्रवाई के बाद मशहूर हुई थीं।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘नरेंद्र मोदी ने गुजरात CM रहते मुस्लिमों को OBC सूची में जोड़ा’: आधा-अधूरा वीडियो शेयर कर झूठ फैला रहे कॉन्ग्रेसी हैंडल्स, सच सहन नहीं...

कॉन्ग्रेस के शासनकाल में ही कलाल मुस्लिमों को OBC का दर्जा दे दिया गया था, लेकिन इसी जाति के हिन्दुओं को इस सूची में स्थान पाने के लिए नरेंद्र मोदी के मुख्यमंत्री बनने तक का इंतज़ार करना पड़ा।

‘खुद को भगवान राम से भी बड़ा समझती है कॉन्ग्रेस, उसके राज में बढ़ी माओवादी हिंसा’: छत्तीसगढ़ के महासमुंद और जांजगीर-चांपा में बोले PM...

PM नरेंद्र मोदी ने आरोप लगाया कि कॉन्ग्रेस खुद को भगवान राम से भी बड़ा मानती है। उन्होंने कहा कि जब तक भाजपा सरकार है, तब तक आपके हक का पैसा सीधे आपके खाते में पहुँचता रहेगा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe