Monday, August 2, 2021
Homeदेश-समाजहिन्दू %ट कबाड़ रहे हैं, तुम्हारी पीठ पर... छाप दूँगा: जमातियों की ख़बर से...

हिन्दू %ट कबाड़ रहे हैं, तुम्हारी पीठ पर… छाप दूँगा: जमातियों की ख़बर से बौखलाए ज़ीशान की धमकी

स्कूल में ज्यादातर मजहबी छात्र ही थे और ज़ीशान उनमें से ही एक था, जो आज मारने-पीटने की धमकी दे रहा है और गाली बक रहा है। वो भी सिर्फ़ इसीलिए, क्योंकि हेमंत ने ऑपइंडिया के एक लेख का लिंक शेयर कर दिया, जिसमें तबलीगी जमात के लोगों के बारे में ख़बर थी।

उत्तर प्रदेश के चंदौली के रहने वाले एक युवक ने बताया कि ज़ीशान नाम के एक शख्स से उसे धमकियाँ मिल रही है। पीड़ित हेमंत ने व्हाट्सप्प पर तबलीगी जमात की सच्चाई को उजागर करते हुए कुछ लेख शेयर किए थे। इसके सैयद ज़ीशान को बुरा लगा और उसने गाली-गलौज शुरू कर दी। उसने कहा कि मीडिया और तुम जैसे लोगों ने पूरा कचरा बना कर रख दिया है, जो लगातार इस कोशिश में लगे थे कि कोरोना का आरोप कैसे समुदाय विशेष पर लगाया जाए। साथ ही ज़ीशान ने भद्दी-भद्दी गालियाँ भी दी।

हेमंत ने जिन ख़बरों को शेयर किया था, उनमें से एक में बताया गया था कि यूपी के कन्नौज में लॉकडाउन के बाजवूद कई नमाजी इकट्ठे हो गए। साथ ही घरों की छतों से पुलिस टीम पर पत्थर भी फेंकी गई, जिससे कई जवान हॉस्पिटलाइज हो गए। उन्होंने इस ख़बर को शेयर करते हुए पूछा था कि आखिर उन पुलिसकर्मियों की क्या ग़लती थी? साथ ही उन्होंने जमातियों द्वारा नर्सों के साथ बदसलूकी किए जाने वाली ख़बर भी शेयर की थी। जमात के आतंकी संगठनों के साथ संबंधों का भी पर्दाफाश हुआ है। इस ख़बर को शेयर करने से भी ज़ीशान बौखला गया और उसने मारने-पीटने की धमकी दी।

जब हेमंत ने ज़ीशान को बताया कि ये एक लोकतान्त्रिक देश है और सभी को अपने विचार प्रकट करने का अधिकार है, तो ज़ीशान ने कहा कि ‘%ड मराओ’ और साथ ही धमकी दी कि वो शाम को आएगा और हेमंत के शरीर पर डेमोक्रेटिक राइट का छाप लगा के जाएगा। वो मारने-पीटने की धमकी दे रहा था। साथ ही उसने इन्तजार करने को भी कहा। उसने भद्दे मैसेज करते हुए लिखा:

“अभी थैंक्स मत बोलो। शाम में जब काम हो जाएगा तब बोलना। अपनी पीठ मजबूत करके रखो। चिंता मत करो, तुम्हारी सारी राजनीति मैं निकाल दूँगा। और जितनी %ट तुम्हारी होगी, उतना उखाड़ लेना मेरा। जब बात से समझ न आए तो लात का यूज कर लेना चाहिए। क्योंकि तुम ऐसे नहीं मानोगे।”

साथ ही उसने हेमंत को चुपचाप घर में बैठे की सलाह देते हुए गालियाँ दी। उसने कहा कि मीडिया भी पूरी तरह बिकी हुई है। हेमंत ने ऑपइंडिया से बातचीत करते हुए बताया कि ज़ीशान और वो साथ में ही पढ़ते थे। मुगलसराय स्थित ‘आइडियल पब्लिक स्कूल’ में वो साथ पढ़ा करते थे। वो स्कूल एक मजहब विशेष के व्यक्ति का ही है, जिसके प्रिंसिपल वगैरह भी मजहब विशेष से ही थे। हेमंत ने बताया कि उस दौरान भी हिन्दू छात्रों को वहाँ काफ़िर कह कर प्रताड़ित किया जाता था।

ज़ीशान ने हेमंत को गाली देकर धमकाया

स्कूल में ज्यादातर दूसरे मजहब के छात्र ही थे और ज़ीशान उनमें से ही एक था, जो आज मारने-पीटने की धमकी दे रहा है और गाली बक रहा है। वो भी सिर्फ़ इसीलिए, क्योंकि हेमंत ने ऑपइंडिया के एक लेख का लिंक शेयर कर दिया, जिसमें तबलीगी जमात के लोगों के बारे में ख़बर थी। बता दें कि दिल्ली के निजामुद्दीन स्थित मरकज़ मस्जिद में छिपे हजारों जमातियों ने पूरे देश भर में कोरोना फैला दिया है और लगातार सैकड़ों मामले रोज सामने आ रहे हैं। कई जगह उन्हें खोजने गए पुलिस पर हमला भी किया गया।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

मुहर्रम पर यूपी में ना ताजिया ना जुलूस: योगी सरकार ने लगाई रोक, जारी गाइडलाइन पर भड़के मौलाना

उत्तर प्रदेश में डीजीपी ने मुहर्रम को लेकर गाइडलाइन जारी कर दी हैं। इस बार ताजिया का न जुलूस निकलेगा और ना ही कर्बला में मेला लगेगा। दो-तीन की संख्या में लोग ताजिया की मिट्टी ले जाकर कर्बला में ठंडा करेंगे।

हॉकी में टीम इंडिया ने 41 साल बाद दोहराया इतिहास, टोक्यो ओलंपिक के सेमीफाइनल में पहुँची: अब पदक से एक कदम दूर

भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने टोक्यो ओलिंपिक 2020 के सेमीफाइनल में जगह बना ली है। 41 साल बाद टीम सेमीफाइनल में पहुँची है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,543FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe