BJP को वोट देने पर पति ने की पत्नी की हत्या, ससुराल वालों पर FIR दर्ज

हत्या की ख़बर जब मृतका के परिजनों तक पहुँची तो उन्होंने सड़क जाम किया। सूचना पाकर गाजीपुर पुलिस ने मौके पर पहुँचकर मृतका के पति और ससुराल वालों के ख़िलाफ़ मामला दर्ज कर उन्हें हिरासत में ले लिया।

उत्तर प्रदेश के गाजीपुर ज़िले से एक चौंकाने वाली घटना का ख़ुलासा हुआ है। इस ज़िले के तरवनिया वार्ड नंबर-3, सैदपुर, के निवासी रामबचन ने अपनी पत्नी नीलम (25 वर्षीय) की कथित तौर पर बेरहमी से हत्या कर दी।

ख़बर के अनुसार, रामबचन नाम के इस शख़्स ने अपनी पत्नी को केवल इसलिए मार डाला क्योंकि उसकी पत्नी ने उसके कहे अनुसार बीएसपी को वोट देने की बजाए बीजेपी को वोट दे दिया था। हैवानियत पर उतारू इस शख़्स ने अपनी पत्नी को मारने के लिए फावड़े का इस्तेमाल किया। हत्या की वारदात को अंजाम देने के बाद वो तब तक लाश के पास खड़ा रहा जब तक कि मौक़े पर ग्रामीणों की भीड़ इकट्ठी नहीं हो गई। भीड़ इकट्ठी होने के बाद वो वहाँ से भाग गया।

हत्या की ख़बर जब मृतका के परिजनों तक पहुँची तो उन्होंने उस गाँव में पहुँचकर हत्या के विरोध में सड़क जाम किया। सूचना पाकर गाजीपुर पुलिस ने मौके पर पहुँचकर पहले तो भीड़ को तितर-बितर किया और फिर मृतका के पति और ससुराल वालों के ख़िलाफ़ मामला दर्ज कर उन्हें हिरासत में ले लिया। हालाँकि, मृतका (नीलम) की माँ ने रामबचन और उसके माता-पिता के ख़िलाफ़ दहेज को लेकर हत्या का मामला दर्ज करवाया है।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

बता दें कि खानपुर पुलिस स्टेशन के सिंगारपुर के गहिरा बस्ती की रहने वाले ईशू राम की बेटी नीलम की शादी 19 जून 2014 को रामबचन के साथ हुई थी। उनके 2 बच्चे हैं। कुछ अन्य ख़बरों के अनुसार, रामबचन को अपनी पत्नी पर शक़ रहता था, इस वजह से दोनों के बीच आए दिन तकरार का माहौल रहता था। एक अन्य ख़बर के अनुसार, पत्नी पर शक़ करना भी हत्या की वजह हो सकती है।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

जेएनयू विरोध प्रदर्शन
छात्रों की संख्या लगभग 8,000 है। कुल ख़र्च 556 करोड़ है। कैलकुलेट करने पर पता चलता है कि जेएनयू हर एक छात्र पर सालाना 6.95 लाख रुपए ख़र्च करता है। क्या इसके कुछ सार्थक परिणाम निकल कर आते हैं? ये जानने के लिए रिसर्च और प्लेसमेंट के आँकड़ों पर गौर कीजिए।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

114,921फैंसलाइक करें
23,424फॉलोवर्सफॉलो करें
122,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: