Wednesday, October 20, 2021
Homeदेश-समाजमदरसे का 50 साल का मौलाना, 2 बच्चे और बीवी भी; 2 साल से...

मदरसे का 50 साल का मौलाना, 2 बच्चे और बीवी भी; 2 साल से नाबालिग छात्रा से कर रहा था सेक्स

"लड़की नाबालिग है और उसके बाद भी उसकी शादी की जा रही है तो कानूनन गलत है। इस पर स्वत: संज्ञान लेकर जाँच की जाएगी। लड़की पक्ष की तरफ से शारीरिक शोषण की तहरीर शिक्षक के खिलाफ दी जाती है तो कार्रवाई भी की जाएगी।"

वह नाबालिग है। 10वीं की छात्रा है। उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले के एक मदरसे में पढ़ाने वाले एक मौलाना ने उससे दो साल से अवैध संबंध बना रखा है। मौलाना की उम्र करीब 50 साल है। वह शादीशुदा और दो बच्चों का बाप है। ऐसा मामला जब सामने आए तो क्या करना चाहिए? जाहिर है कानून है जो बताता है कि नाबालिग के यौन शोषण के लिए मौलाना को दंड मिलना चाहिए।

लेकिन यह मामला जब सामने आया तो पिपराइच क्षेत्र एक गाँव के पंचों ने शादीशुदा मौलाना के साथ नाबालिग के निकाह का फरमान सुना दिया। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक बदनामी के डर से पीड़ित परिवार निकाह के लिए राजी भी हो गया।

यह मदरसा पिपराइच थाना क्षेत्र के एक गाँव में है। मौलाना भी गाँव का ही है और पीड़ित छात्रा भी। बताय जाता है कि पढ़ाई के दौरान मौलाना ने छात्रा को अपने जाल में फँसा लिया। उसका नाबालिग से बीते दो साल से अवैध संबंध चल रहा है। यह बात जब पूरे गाँव में फैल गई तो गुरुवार (10 जून 2021) को इस मामले में पंचायत बुलाई गई।

अस्थायी पुलिस पिकेट से चंद कदम की दूरी पर ही ग्राम प्रधान की अध्यक्षता में दोनों पक्ष के लोगों की पंचायत हुई। इस दौरान पंचों ने नाबालिग से मौलाना की शादी का फरमान सुना दिया। मौलाना के पिता ने ये कहते हुए इसका विरोध किया कि निकाह के बाद छात्रा और उससे होने वाले बच्चों को उनकी सारी प्रॉपर्टी मिल जाएगी। इसलिए उसने पंचों से कहा कि मौलाना को पहले अपने हिस्से की आधी संपत्ति अपनी पहली पत्नी के बच्चों के नाम रजिस्टर्ड करनी होगी, उसके बाद ही वह निकाह की सहमति देगा। मौलाना इसके लिए तैयार हो गया और नाबालिग छात्रा से निकाह करने की बात तय होने पर पंचायत खत्म हुई।

पुलिस को सूचना तक नहीं दी

इतना सब कुछ होने के बाद भी गाँव के किसी भी व्यक्ति ने पुलिस को इसकी सूचना नहीं दी। इस मामले को लेकर पिपराइच इंस्पेक्टर सूर्यभान सिंह ने कहा, “मुझे किसी पंचायत की जानकारी नहीं है। लड़की पक्ष या गाँव के किसी भी व्यक्ति ने पुलिस को अभी तक सूचना नहीं दी है। लड़की नाबालिग है और उसके बाद भी उसकी शादी की जा रही है तो कानूनन गलत है। इस पर स्वत: संज्ञान लेकर जाँच की जाएगी। लड़की पक्ष की तरफ से शारीरिक शोषण की तहरीर शिक्षक के खिलाफ दी जाती है तो कार्रवाई भी की जाएगी।”

बता दें कि इस मामले को लेकर कुछ जिम्मेदार लोगों का कहना है कि इस पूरी घटना से मदरसा से कोई लेना-देना नहीं है। एक सप्ताह पहले ही यह बात सामने आई है। मौलाना लड़की के घर पर भी पढ़ाने जाता था। लॉकडाउन की वजह से 12 महीने से मदरसा बंद है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अब टेरर फंडिंग में पकड़ा गया तारिक अहमद डार, 2005 के दिल्ली ब्लास्ट में भी हुआ था गिरफ्तार: 2017 में तिहाड़ से छूटा था

अब जब तारिक अहमद डार फिर से NIA की गिरफ्त में आया है तो उसकी नई-पुरानी कड़ियों को जोड़ते हुए एक बार फिर से न्याय की आस जगी है।

‘पापा कब आएँगे… बताओ न माँ’: 4 साल का मासूम रोज पूछता है सवाल, बांग्लादेश में इस्लामी कट्टरपंथियों ने पीट-पीटकर मार डाला था

15 अक्टूबर को 3 बजे जुमे वाले दिन करीब 2000 लोगों ने हगनीपुर गर्ल्स स्कूल पर हमला बोला था। कुछ देर बाद उन्होंने इस्कॉन को निशाना बनाया जहाँ जतन भी खड़े थे

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
130,199FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe