Saturday, June 15, 2024
Homeदेश-समाजदूल्हा-दुल्हन पक्ष के लोगों ने मिल कर मौलवी साहब को ही लाठी-डंडों से पीटा:...

दूल्हा-दुल्हन पक्ष के लोगों ने मिल कर मौलवी साहब को ही लाठी-डंडों से पीटा: DJ के कारण निकाह पढ़ाने से किया था इनकार, परिजन भी अस्पताल में

निकाह समारोह में DJ बजाए जाने से वो भड़क गया था। लगभग एक घंटे तक उससे दूल्हा-दुल्हन पक्ष के लोग मिन्नतें करते रहे थे।

बिजनौर में एक ऐसा मामला सामने आया है, जहाँ दूल्हा और दुल्हन पक्ष वालों ने मिल कर निकाह पढ़ाने आए मौलवी को ही पीट दिया। असल में मौलवी ने निकाह में DJ बजाए जाने पर आपत्ति जताते हुए निकाह पढ़ाने से इनकार कर दिया था। इस पर सबसे पहले दुल्हन पक्ष वाले भड़क गए और उस पर धावा बोल दिया। न सिर्फ मौलवी को लाठी-डंडों से जम कर पीटा गया, बल्कि उसके परिवार वालों को भी मार-मार कर अधमरा कर दिया है।

मारपीट में महिलाओं सहित कई लोग जख्मी हुए हैं। CHC अस्पताल में सभी घायलों का इलाज चल रहा है। एक व्यक्ति की हालत नाजुक है, ऐसे में उसका इलाज जिला अस्पताल में चल रहा है। पीड़ित मौलवी ने परिजनों ने थाने में शिकायत भी दर्ज कराई है। उक्त मौलवी बास्टा क्षेत्र का रहने वाला है। निकाह समारोह में DJ बजाए जाने से वो भड़क गया था। लगभग एक घंटे तक उससे दूल्हा-दुल्हन पक्ष के लोग मिन्नतें करते रहे थे।

इसके बावजूद निकाह पढ़ाने से इनकार करने के बाद वो वहाँ से चला गया था। इसके बाद दूसरा मौलवी बुलाया गया। लेकिन, इस मौलवी ने उसके भी कान भर दिए और वो भी भाग गया। निकाह को लेकर बरात भी 5 घंटे देर हुई, जिससे लोगों का गुस्सा बढ़ा। किसी तरह एक तीसरे मौलवी को लाया गया, जिसने निकाह पढ़ाया। इसके बाद दुल्हन पक्ष वालों ने मौलवी के घर पर हमला कर दिया। बताया जाता है कि दूल्हे की तरफ के कुछ लोग भी इसमें शामिल थे।

बताया जा रहा है कि पूरे प्रकरण में जम कर लाठी-डंडे चले। मौलवी के परिवार की कई महिलाएँ जख्मी हुई हैं। पीड़ित मौलवी ने कहा कि उसने निकाह में इस्लामी रीति-रिवाज और ईमान का पालन करने की सलाह दी थी और DJ बजाने से मना किया था। हालाँकि, उसने दूसरे मौलवी के कान भरने की बात से इनकार किया है। उसने बताया कि मौलवी ने बताया कि ये लोग उसके घर पहुँच गए और हमला किया। पुलिस ने बताया कि रिपोर्ट दर्ज कर विधि अनुसार कार्रवाई की जा रही है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

NSA, तीनों सेनाओं के प्रमुख, अर्धसैनिक बलों के निदेशक, LG, IB, R&AW – अमित शाह ने सबको बुलाया: कश्मीर में ‘एक्शन’ की तैयारी में...

NSA अजीत डोभाल के अलावा उप-राज्यपाल मनोज सिन्हा, तीनों सेनाओं के प्रमुख के अलावा IB-R&AW के मुखिया व अर्धसैनिक बलों के निदेशक भी मौजूद रहेंगे।

अब तक की सबसे अधिक ऊँचाई पर पहुँचा भारत का विदेशी मुद्रा भंडार, उधर कंगाली की ओर बढ़ा पाकिस्तान: सिर्फ 2 महीने का बचा...

एक तरफ पाकिस्तान लगातार बर्बादी की कगार पर पहुँच रहा है, तो दूसरी तरफ भारत का विदेशी मुद्रा भंडार लगातार बढ़ता जा रहा है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -