Friday, September 17, 2021
Homeदेश-समाज20 रुपए के लिए हुआ विवाद तो मुस्लिमों ने 40 घर पर लगा दिए...

20 रुपए के लिए हुआ विवाद तो मुस्लिमों ने 40 घर पर लगा दिए ‘यह मकान बिकाऊ है’ के पोस्टर

दौराला थाना क्षेत्र के इस गाँव में कुछ दिन पहले 20 रुपए की सिगरेट के उधार का तकादा करने पर विवाद शुरू हुआ था। तकादे से नाराज युवक ने कथित तौर पर तगादा करने वाले की पिटाई कर दी जो समुदाय विशेष का था।

उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले का गाँव मवीमीरा। यहाँ 20 रुपए को लेकर हुए एक विवाद को सांप्रदायिक रंग देते हुए समुदाय विशेष के करीब 40 लोगों ने अपने घरों पर ‘यह मकान बिकाऊ है’ के पोस्टर लगा दिए हैं।

रिपोर्टों के अनुसार दौराला थाना क्षेत्र के इस गाँव में कुछ दिन पहले 20 रुपए की सिगरेट के उधार का तकादा करने पर विवाद शुरू हुआ था। तकादे से नाराज युवक ने कथित तौर पर तगादा करने वाले की पिटाई कर दी जो समुदाय विशेष का था।

ख़बरों के अनुसार पुलिस पर कार्रवाई नहीं करने का आरोप लगाते हुए समुदाय विशेष के लोगों ने पलायन के पोस्टर लगाए हैं। बताया जा रहा है कि नौशेर गाँव में ही अपने घर में किराने की दुकान करता है। 15 दिसंबर 2020 को गाँव का ही सुंदर नामक युवक उसकी दुकान पर सिगरेट खरीदने पहुँचा था। लेकिन नौशेर ने सिगरेट उधार देने से मना कर दिया। दुकान पर ही खड़े तैयब नाम के एक युवक ने अपनी गारंटी पर सुंदर को 20 रुपए की सिगरेट उधार दिला दी।

सुंदर ने बाद में दुकानदार को पैसे नहीं दिए तो वह तकादा करने लगा। 23 दिसंबर को सुंदर कुछ दोस्तों के साथ कहीं जा रहा था तो तैयब ने उससे दुकानदार के 20 रुपए देने को कहा। दोनों के बीच कहासुनी हुई तो बड़े-बुजुर्गों ने समझाकर मामला ठंडा कराया। आरोप है कि इसके कुछ देर बाद सुंदर और उसके साथियों ने तैयब के घर पर हमला किया। जमकर तोड़फोड़ की और परिवार के लोगों के साथ मारपीट की।

पोस्टर लगाए जाने की बात सामने आने के बाद स्थानीय पुलिस ने ग्रामीणों को समझाने की कोशिश की। लेकिन उन्होंने कार्रवाई नहीं होने तक पोस्टर हटाने से इनकार कर दिया। पीड़ित पक्ष का कहना है कि पुलिस ने किसी आरोपी के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की है। हिंदुस्तान की रिपोर्ट के अनुसार पीड़ित पक्ष के शकील अहमद, आरिफ का कहना है कि घटना में नामजद तहरीर देने के बाद भी पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की।

वहीं, दौराला के इंस्पेक्टर किरणपाल सिंह का कहना है कि दो पक्षों में मारपीट हुई थी और पुलिस ने दोनों पक्षों के करीब एक दर्जन लोगों को मुचलका पाबंद किया है। उन्होंने बताया कि किसी भी पक्ष ने तहरीर नहीं दी है। दौराला के सीओ संजीव दिक्षित का कहना है कि ग्राम प्रधान चुनाव को लेकर कुछ लोग विवाद को तूल दे रहे हैं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘फर्जी प्रेम विवाह, 100 से अधिक ईसाई लड़कियों का यौन शोषण व उत्पीड़न’: केरल के चर्च ने कहा – ‘योजना बना कर हो रहा...

केरल के थमारसेरी सूबा के कैटेसिस विभाग ने आरोप लगाया है कि 100 से अधिक ईसाई लड़कियों का फर्जी प्रेम विवाह के नाम पर यौन शोषण किया गया।

डॉ जुमाना ने किया 9 बच्चियों का खतना, सभी 7 साल की: चीखती-रोती बच्चियों का हाथ पकड़ लेते थे डॉ फखरुद्दीन व बीवी फरीदा

अमेरिका में मुस्लिम डॉक्टर ने 9 नाबालिग बच्चियों का खतना किया। सभी की उम्र 7 साल थी। 30 से अधिक देशों में है गैरकानूनी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
122,922FollowersFollow
409,000SubscribersSubscribe