Wednesday, April 17, 2024
Homeदेश-समाजमोबाइल के 'गर्लफ्रेंड' फोल्डर में 40 लड़कियों की फोटो व नंबर, 'पत्रकार' बन मो....

मोबाइल के ‘गर्लफ्रेंड’ फोल्डर में 40 लड़कियों की फोटो व नंबर, ‘पत्रकार’ बन मो. सालिक कॉलेज की छात्राओं का लेता था इंटरव्यू

मोहम्मद सालिक के पास किसी न्यूज चैनल (फर्जी) की आईडी थी। वो कॉलेज में लड़कियों का इंटरव्यू कर रहा था। एक छात्रा के साथ उसने जबरदस्ती की और उसका हाथ पकड़ लिया। उसके साथ मोहम्मद अनस भी था, जो फरार हो गया।

उत्तर प्रदेश के मेरठ में स्थित चौधरी चरण सिंह यूनिवर्सिटी में घूम रहे एक संदिग्ध युवक को जब पुलिस के हवाले किया गया तो उसके बारे में हुए खुलासों का किसी को भी यकीन नहीं हो रहा था। उसके पास से कुछ आईडी, पिस्टल होल्डर, कुछ कारतूस और सामान बरामद हुए। आरोपित की पहचान भावीनगर नौचंदी निवासी मोहम्मद सालिक के रूप में हुई है, जो फर्जी पत्रकार निकला। घटना की सूचना मिलते ही हिंदू संगठन के कार्यकर्ताओं ने वहाँ पहुँच कर विरोध दर्ज कराया।

आरोपित के पास से जो मोबाइल फोन जब्त हुआ है, उसमें लगभग 40 युवतियों की तस्वीरें और मोबाइल नंबर मिले हैं। पूछताछ में उसने दावा किया कि लड़कियाँ उसकी दोस्त हैं। उसके खिलाफ मिली तहरीर के बाद पुलिस ने FIR दर्ज कर ली है।

यूनिवर्सिटी के छात्र और शास्त्रीनगर के रहने वाले मनीष कुमार ने बताया कि वो अपने तीन छात्रों के साथ कैम्पस में आए थे, तभी उन्होंने संदिग्ध युवक के बारे में शक हुआ। उस दौरान वो किसी न्यूज़ चैनल की आईडी लेकर लड़कियों का इंटरव्यू कर रहा था।

आरोप है कि इस दौरान एक छात्रा के साथ उसने जबरदस्ती की और उसका हाथ पकड़ लिया। विरोध करने पर हंगामा खड़ा हो गया। इसके बाद मनीष ने अपने साथियों के साथ मिल कर उसे धर-दबोचा। जब उसके बैग की तलाशी ली गई तो प्रेस कार्ड्स सहित कई चीजें मिलीं। उसके बैग से जो आईकार्ड मिला, उस पर मोहम्मद शयान सिद्दीकी नाम लिखा था।

उसके साथ उसका साथी भी था, जो वहाँ से फरार हो गया। उसकी पहचान इस्लामाबाद निवासी मोहम्मद अनस के रूप में हुई है। दूसरे आरोपित के पास से भी एक न्यूज़ चैनल की आईडी मिली थी। आरोपित से पूछताछ के दौरान दो लोगों के नाम सामने आए हैं, जिनकी पुलिस तलाश कर रही है।

खास बात ये है कि आरोपित के फोन से जिन भी लड़कियों के नंबर मिले, उसे ‘गर्लफ्रेंड’ नाम का फोल्डर बना कर उसमें रखा गया था। इस संबंध में जानकारी मिलने पर बजरंग दल से प्रताप दीपक और हिंदू जागरण मंच से सचिन सिरोही ने अपने पदाधिकारियों के साथ थाने पहुँच कर आशंका जताई कि उक्त आरोपित छात्राओं को फुसला कर उनके साथ गलत कार्य करता है।

पुलिस ने इस बात की पुष्टि की है कि मोहम्मद सालिक के पास से जो न्यूज़ चैनल्स की आईडी मिली, वो सब फर्जी है। उसे कोर्ट में पेश किए जाने की तैयारी चल रही है। हाल ही में थूक डाल कर शादी समारोहों में रोटियाँ पकाने वाले नौशाद को भी मेरठ में ही दबोचा गया था।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

स्कूल में नमाज बैन के खिलाफ हाई कोर्ट ने खारिज की मुस्लिम छात्रा की याचिका, स्कूल के नियम नहीं पसंद तो छोड़ दो जाना...

हाई कोर्ट ने छात्रा की अपील की खारिज कर दिया और साफ कहा कि अगर स्कूल में पढ़ना है तो स्कूल के नियमों के हिसाब से ही चलना होगा।

‘क्षत्रिय न दें BJP को वोट’ – जो घूम-घूम कर दिला रहा शपथ, उस पर दर्ज है हाजी अली के साथ मिल कर एक...

सतीश सिंह ने अपनी शिकायत में बताया था कि उन पर गोली चलाने वालों में पूरन सिंह का साथी और सहयोगी हाजी अफसर अली भी शामिल था। आज यही पूरन सिंह 'क्षत्रियों के BJP के खिलाफ होने' का बना रहा माहौल।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe