Wednesday, July 28, 2021
Homeदेश-समाजदलित नाबालिग से नाजिक, आदिल ने रेप कर बनाया वीडियो, ग्रामीणों के बवाल के...

दलित नाबालिग से नाजिक, आदिल ने रेप कर बनाया वीडियो, ग्रामीणों के बवाल के बाद मामला दर्ज

पुलिस को नाजिक के मोबाइल से गैंगरेप की घटना का पूरा वीडियो मिला है। अन्य आरोपी फरार हैं। उनकी तलाश की जा रही है। आरोपियों के समुदाय विशेष से होने के कारण इलाके में तनाव की स्थिति है।

उत्तर प्रदेश के कौशांबी ज़िले के अकिल थाना क्षेत्र में रविवार (22 सितंबर) को एक 15 वर्षीय दलित नाबालिग के साथ गैंगरेप कर उसका अश्लील वीडियो बनाने की घटना सामने आई है। जानकारी के अनुसार, सराय अकिल कोतवाली इलाक़े के गाँव में दलित लड़की शनिवार (21 सितंबर) की दोपहर क़रीब डेढ़ बजे घोसिया स्थित पुराने टेलीफोन एक्सचेंज के पास घास छीलने गई थी। इसी दौरान घोसिया गाँव के नाजिक पुत्र उबैर उल्ला, आदिल उर्फ़ छोटू पुत्र इस्माइल और एक अज्ञात युवक ने लड़की को घेर लिया।

तीनों आरोपित लड़की को पकड़ कर झाड़ियों में ले गए और उसके साथ दुष्कर्म किया। इस दौरान लड़की बार-बार दया की भीख माँगती रही, लेकिन आरोपितों ने उसकी एक न सुनी और पूरे घटनाक्रम का वीडियो बना लिया। लड़की की चीख-पुकार सुनकर खेतों में काम कर रहे लोग घटनास्थल पर पहुँचे और नाजिक को पकड़ लिया। उसकी जमकर पिटाई की। आदिल और अज्ञात युवक मौक़े से भागने में क़ामयाब रहे।

पुलिस पर शिकायत लेकर पहुॅंचे पीड़िता के पिता के साथ मारपीट का आरोप भी लगा है। ख़बर के अनुसार, पुलिस के रवैए से ग्रामीणों में रोष फैल गया और उन्होंने थाने का घेराव किया। इस बात की सूचना जब एसपी प्रदीप गुप्ता को मिली तो वे कई थानों की पुलिस फोर्स के साथ सराय अकिल पहुँचे। इस घटना के क़रीब पाँच घंटे बाद पिता की शिक़ायत पर तीनों आरोपितों के ख़िलाफ़ मामला दर्ज किया गया।

ऑप इंडिया ने इस संबंध में पुलिस का पक्ष जानने की कोशिश की। सरकारी वेबसाइट पर दर्ज सराय अकिल कोतवाली के नंबर पर हमने कॉल किया। लेकिन, खुद को इंस्पेक्टर सैनी बताने वाले शख्स ने कहा कि यह मामला उनके थाना क्षेत्र का नहीं है।

पुलिस को नाजिक के मोबाइल से गैंगरेप की घटना का पूरा वीडियो भी मिला। एसपी ने बताया कि फ़रार आरोपितों की गिरफ़्तारी के लिए एक पुलिस टीम को रवाना किया गया है। उन्होंने कहा कि यह मामला दो समुदायों का होने के कारण इलाके में तनाव की स्थिति है। एसपी ने आरोपितों के ख़िलाफ़ सख़्त कार्रवाई का भरोसा दिलाया है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘विधानसभा में संपत्ति नष्ट करना बोलने की स्वतंत्रता नहीं’: केरल की वामपंथी सरकार को सुप्रीम कोर्ट की फटकार, ‘हुड़दंगी’ MLA पर चलेगा केस

केरल विधानसभा में 2015 में हुए हंगामे के मामले में एलडीएफ ​विधायकों पर केस चलेगा। सुप्रीम कोर्ट ने हाईकोर्ट का फैसला बरकरार रखा है।

जाति है कि जाती नहीं… यूपी में अब विकास दुबे और फूलन देवी भी नायक? चुनावी मेंढक कर रहे अपराधियों का गुणगान

किसी को ब्राह्मण के नाम पर विकास दुबे और श्रीप्रकाश शुक्ला तो किसी को निषाद के नाम पर फूलन देवी याद आ रही है। वोट के लिए जातिवाद में अपराधियों को ही नायक क्यों बनाया जाता है?

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,617FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe