Sunday, September 26, 2021
Homeदेश-समाजकोरोना से जंग में मुकेश अंबानी ने गुजरात की रिफाइनरी का खोला दरवाजा, फ्री...

कोरोना से जंग में मुकेश अंबानी ने गुजरात की रिफाइनरी का खोला दरवाजा, फ्री में महाराष्ट्र को दे रहे ऑक्सीजन

जामनगर की रिफाइनरी से महाराष्ट्र को 100 टन ऑक्सीजन की सप्लाई की जाएगी, जिससे कोरोना वायरस से गंभीर रूप से संक्रमित मरीजों को इसका लाभ मिल सकेगा।

देश में कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण के कारण स्वास्थ्य सुविधाओं पर भारी दबाव पड़ रहा है। ऐसे में देश के सबसे अमीर उद्योगपति और रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के मालिक मुकेश अंबानी सहायता के लिए आगे आए हैं। अपनी रिफाइनरी की ऑक्सीजन की सप्लाई उन्होंने अस्पतालों को मुफ्त में शुरू की है। इसकी शुरुआत महाराष्ट्र से हुई है। राज्य को रिलायंस से 100 टन ऑक्सीजन की सप्लाई की जाएगी।

गुजरात के जामनगर में रिलायंस की रिफाइनरी है। यह दुनिया की सबसे बड़ी रिफाइनरी है। इस रिफाइनरी में उत्पादित ऑक्सीजन की सप्लाई महाराष्ट्र को की जाएगी और वो भी बिना किसी मूल्य के। महाराष्ट्र के शहरी विकास मंत्री एकनाथ शिंदे ने भी ट्वीट कर इसकी पुष्टि की है। जामनगर की रिफाइनरी से महाराष्ट्र को 100 टन ऑक्सीजन की सप्लाई की जाएगी, जिससे कोरोना वायरस से गंभीर रूप से संक्रमित मरीजों को इसका लाभ मिल सकेगा।

जामनगर में रिलायंस की रिफाइनरी में एक अधिकारी ने भी नाम न छापने की शर्त पर बताया कि जामनगर से ऑक्सीजन महाराष्ट्र भेजी जा रही है। रिफाइनरी में उत्पादित ऑक्सीजन का एक हिस्सा मेडिकल उपयोग के लिए तैयार किया जा रहा है। महाराष्ट्र कोरोना वायरस संक्रमण से सबसे ज्यादा प्रभावित है। ऐसे में मुकेश अंबानी और रिलायंस का यह निर्णय कोरोना वायरस से लड़ने में महाराष्ट्र के लिए बेहद मददगार साबित होगा।

महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण के कारण स्वास्थ्य सुविधाएँ भी असंतुलित हो रही हैं। राज्य में ऑक्सीजन की कमी से कई मरीजों की जानें भी जा चुकी हैं। महाराष्ट्र ने केंद्र सरकार से राज्य में पड़ोसी राज्यों से ऑक्सीजन की सप्लाई बढ़ाने की अपील की थी। बढ़ते संक्रमण के कारण मध्य प्रदेश और गुजरात जैसे राज्यों में भी ऑक्सीजन की माँग तेजी से बढ़ रही है।

महाराष्ट्र में बुधवार को कोरोना वायरस के 58,952 नए संक्रमित मरीज मिले, जिससे कुल मरीजों का आँकड़ा बढ़कर 35,78,160 हो गया। राज्य में सक्रिय मरीजों की संख्या भी 6,12,070 है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

लड़कियों के कपड़े कैंची से काटे, राखी-गहने-चप्पल सब उतरवाए: राजस्थान में कुछ इस तरह हो रही REET की परीक्षा, रोते रहे अभ्यर्थी

राजस्थान अध्यापक पात्रता परीक्षा (REET 2021) की परीक्षा के दौरान सेंटरों पर लड़कियों के फुल बाजू के कपड़ों को कैंची से काट डालने का मामला सामने आया है।

11वीं से 14वीं शताब्दी की 157 मूर्तियाँ-कलाकृतियाँ, चोर ले गए थे अमेरिका… PM मोदी वापस लेकर लौटे

अमेरिका द्वारा भारत को सौंपी गई कलाकृतियों में सांस्कृतिक पुरावशेष, हिंदू धर्म, बौद्ध धर्म, जैन धर्म से संबंधित मूर्तियाँ शामिल हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
124,458FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe