Sunday, May 19, 2024
Homeदेश-समाज238-248 सीट: BJP को नहीं मिलने वाला है पूर्ण बहुमत, करोड़ों-अरबों के सट्टा बाजार...

238-248 सीट: BJP को नहीं मिलने वाला है पूर्ण बहुमत, करोड़ों-अरबों के सट्टा बाजार का अनुमान

मुंबई और दिल्ली सट्टा बाजार ने भाजपा को इन चुनावों में 238-241 सीटें दी हैं, जबकि कॉन्ग्रेस को लेकर अनुमान है कि पार्टी को 78-81 सीटें मिलेंगी।

19 तारीख को सभी मीडिया संस्थाओं के एग्जिट पोल आने के बाद अब सट्टा बाजार भी इस बात का दावा कर रहा है कि एक बार फिर 23 मई को देश की सत्ता मोदी सरकार को मिलने वाली है। जनसत्ता में प्रकाशित खबर के मुताबिक केंद्र में दोबारा एनडीए की सरकार बनने वाली है और एक बार फिर देश के प्रधानमंत्री पद को नरेंद्र मोदी संभालेंगे।

मुंबई और दिल्ली सट्टा बाजार ने भाजपा को इन चुनावों में 238-241 सीटें दी हैं, जबकि कॉन्ग्रेस को लेकर अनुमान है कि पार्टी को 78-81 सीटें मिलेंगी।

इसी तरह गुजरात और राजस्थान के सट्टा बाजार में भी बीजेपी के पक्ष में अनुमान लगाए गए हैं। गुजरात के सट्टा बाजार के मुताबिक भाजपा को 242-244 सीटें और कॉन्ग्रेस को 80-82 जीतने के अनुमान हैं। वहीं राजस्थान सट्टा बाजार के अनुसार भाजपा को 242-245 सीटें और कॉन्ग्रेस को 75-80 सीटें मिलने वाली है।

कॉन्ग्रेस शासित राज्य मध्य प्रदेश की राजधानी में भी शहर के पंटर्स का अनुमान है कि भाजपा को 246-248 के बीच सीट मिलेंगी जबकि कॉन्ग्रेस के खाते में 80-82 सीट आएँगी।

हालाँकि, इन सबका कोई आधिकारिक आँकड़ा उपलब्ध नहीं है लेकिन कहा जा रहा है कि चुनावों में पार्टियों के प्रदर्शन पर सट्टा बाजार में करोड़ों के दाँव लगे हुए हैं। इसके अलावा सट्टा बाजार में इस बार नरेंद्र मोदी के पीएम बनने को लेकर, अमेठी में राहुल गाँधी को जीतने को लेकर और यूपी में सपा-बसपा के गठबंधन पर भी खूब पैसे लगे हुए हैं।

खबर के मुताबिक इस चुनाव में सट्टा बाजार का आकार साल 2014 के लोकसभा चुनाव से अच्छा खासा बड़ा है। कुछ पंटर्स के अनुमान के मुताबिक इस बार दुगना पैसा सट्टा में लगा हुआ है। बता दें कि देश के अधिकांश भागों में सट्टा लगाना गैरकाननूनी है। लेकिन ऑनलाइन सट्टेबाजी को लेकर किसी प्रकार की कोई गाइडलाइन नहीं है। सट्टा लगाने वाले मोबाइल फोन, एप्लीकेशन और वेबसाइट के जरिए सट्टा लगाते हैं।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

CCTV फुटेज गायब, फोन फॉर्मेट: जाँच में सहयोग नहीं कर रहा विभव कुमार, AAP के मार्च के बीच बोलीं स्वाति मालीवाल – काश मनीष...

स्वाति मालीवाल पिटाई मामले में बिभव की गिरफ्तारी से अरविंद केजरीवाल बौखलाए दिख रहे हैं। उन्होंने बीजेपी ऑफिस तक मार्च करने का ऐलान किया है।

पानी की टंकी में हथियार, जवानों के खाने-पीने की चीजों में ज़हर… जानें क्या था ‘लाल आतंकियों’ का ‘पेरमिली दलम’ जिसे नेस्तनाबूत करने में...

पेरमिली दलम ने गढ़चिरौली के जंगलों में ट्रेनिंग कैम्प खोल रखे थे। जनजातीय युवकों को सरकार के खिलाफ भड़का कर हथियार चलाने की ट्रेनिंग देते थे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -