Saturday, July 20, 2024
Homeदेश-समाजलखनऊ-मेरठ के बाद अब भोपाल के DB मॉल में पढ़ी गई नमाज, विरोध में...

लखनऊ-मेरठ के बाद अब भोपाल के DB मॉल में पढ़ी गई नमाज, विरोध में हिन्दू संगठनों ने किया भजन: कहा – अब ऐसा हुआ तो होगा सुंदरकांड का पाठ

शनिवार (27 अगस्त, 2022) को भी विरोध कर रहे लोगों ने मॉल के भीतर भजन किया। निकासी द्वार के पास 'जय श्री राम' के नारे भी लगाए गए।

लखनऊ और मेरठ के बाद अब मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल स्थित DB मॉल में नमाज पढ़ें जाने का वीडियो वायरल हुआ है, जिसके बाद हिन्दू संगठन आक्रोशित हैं। इस मॉल को भोपाल का सबसे बड़ा मॉल बताया जाता है। वीडियो में मॉल के भीतर कुछ लोगों को नमाज पढ़ते हुए देखा जा सकता है, जिसके बाद ‘बजरंग दल’ ने आक्रोश व्यक्त किया। मॉल प्रबंधन ने भी शुरू में नमाज पढ़ने की इस घटना को हल्के में लिया, लेकिन हिन्दुओं ने भी जवाब में कार्यक्रम शुरू कर दिया।

हिन्दू कार्यकर्ताओं ने भोपाल के DB मॉल में नमाज की घटना के बाद वहाँ भजन शुरू कर दिया। सूचना मिलने के बाद पुलिस की टीम मौके पर पहुँची और किसी तरह नाराज़ लोगों को समझा-बुझा कर वापस भेजा गया। अभी तक ये पता नहीं चल पाया है कि मॉल के भीतर नमाज पढ़ने वाले कौन लोग हैं। इस मामले में किसी ने पुलिस में कोई शिकायत नहीं दी है, लेकिन ‘बजरंग दल’ ने कार्रवाई न होने की सूरत में मॉल में सुंदरकांड के पाठ की चेतावनी दी है।

शनिवार (27 अगस्त, 2022) को भी विरोध कर रहे लोगों ने मॉल के भीतर भजन किया। निकासी द्वार के पास ‘जय श्री राम’ के नारे भी लगाए गए। ‘बजरंग दल’ ने कहा है कि अगर आगे नमाज वाली हरकत हुई तो मॉल के भीतर सामूहिक हनुमान चालीसा का पाठ किया जाएगा। नमाज वाला वीडियो शनिवार की दोपहर मॉल के एग्जिट गेट के पास का है। हिन्दू नेता चंद्रशेखर तिवारी ने कहा है कि मॉल को व्यवसायिक प्रतिष्ठान ही रहने दिया जाए, इसमें मजहब न घुसाया जाए।

मॉल प्रबंधन ने इस घटना पर चुप्पी साध रखी है। वहीं ये भी सामने आया है कि मॉल में नमाज पढ़ने वाले वहाँ काम करने वाले कर्मचारी ही हैं। मॉल प्रबंधन के सूत्र कह रहे हैं कि ये लोग पहले भी नमाज पढ़ते रहे हैं। सार्वजनिक जगहों पर बिना अनुमति धार्मिक कार्यक्रम नहीं किए जा सकते, इसीलिए आशंका है कि जानबूझ कर नमाज पढ़ी जा रही है। मॉल प्रबंधन और कर्मचारियों ने हिन्दू संगठनों को समझाने की कोशिश की। पुलिस ने बताया कि कोई शिकायत नहीं मिली है, हंगामे की सूचना पर वो वहाँ गए थे।

बता दें कि उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के लुलु मॉल के बाद मेरठ के एक मॉल में नमाज पढ़ने का मामला सामने आया था। 24 जुलाई, 2022 को मेरठ के मॉल में नमाज पढ़े जाने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था। ये वीडियो मेरठ के सोहराब गेट स्थित मॉल का था। इसमें एक युवक नमाज पढ़ते हुए दिखाई दे रहा था। वीडियो वायरल होने के बाद डीजीपी ने पूरे मामले पर मेरठ पुलिस से जवाब तलब किया था।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

बांग्लादेशी महिला के 5 छोटे बच्चे, 3 लड़कियाँ… इसलिए इलाहाबाद हाई कोर्ट ने दे दी जमानत: सपा विधायक की मदद से भारत में रहने...

इलाहाबाद हाई कोर्ट ने जेल में बंद एक बांग्लादेशी महिला हिना रिजवान को जमानत दे दी। महिला अपने बच्चों के साथ अवैध रूप से भारत में रही थी।

घुमंतू (खानाबदोश) पूजा खेडकर: जिसका बाप IAS, वो गुलगुलिया की तरह जगह-जगह भटक बिताई जिंदगी… इसी आधार पर बन गई MBBS डॉक्टर

पूजा खेडकर ने MBBS में नाम लिखवाने से लेकर IAS की नौकरी पास करने तक में नाम, उम्र, दिव्यांगता, अटेंप्ट और आय प्रमाण पत्र में फर्जीवाड़ा किया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -