Wednesday, June 19, 2024
Homeदेश-समाजनाजिम ने राहुल बन नाबालिग हिंदू लड़की को फाँसा और ले भागा मुंबई: धर्मांतरण...

नाजिम ने राहुल बन नाबालिग हिंदू लड़की को फाँसा और ले भागा मुंबई: धर्मांतरण कर निकाह की थी तैयारी, साजिश में अम्मी नूरजहाँ भी शामिल

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, नाजिम अली मुंबई में पीड़िता को इस्लाम कबूल करवा कर उससे निकाह करने की तैयारी कर रहा था। उसने कोर्ट मैरिज करके पेपर भी बनवाने शुरू कर दिए थे। नाजिम लड़की के आधार कार्ड में भी उसकी उम्र बढ़वाना चाहता था। इसके लिए वह मुंबई के एक आधार कार्ड सेंटर पर भी गया था। पीड़िता के आधार कार्ड में उसकी माँ का मोबाइल नंबर दर्ज है।

उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर जिले से लव जिहाद का मामला सामने आया है। यहाँ खुद को राहुल सिंह बताकर नाज़िम अली ने एक हिन्दू नाबालिग लड़की को अपने जाल में फँसा लिया और फिर उसे लेकर मुंबई चला गया। मुंबई में पीड़िता को इस्लाम कबूल करवा कर निकाह की तैयारी की जा रही थी। उसके आधार कार्ड में जन्मतिथि बदलवाने की भी कोशिश हुई।

इस पूरी साजिश में नाजिम की अम्मी नूरजहाँ भी शामिल बताई जा रही है और उसने भी अपने बेटे का भरपूर साथ दिया। पुलिस ने नाबालिग लड़की को बरामद कर लिया है। वहीं, 17 मई 2024 को पुलिस ने नाजिम अली को गिरफ्तार कर लिया है। साजिश में शामिल नाजिम की अम्मी नूरजहाँ की भी जाँच की जा रही है। लड़की की माँ के अनुसार, उसकी बेटी की उम्र 16 साल है।

यह मामला मिर्जापुर जिले के कोतवाली देहात थाना क्षेत्र का है। यहाँ 7 मई 2024 को पीड़िता की माँ ने पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई थी। शिकायत में पीड़िता की माँ ने बताया कि उसकी 16 साल की बेटी को राहुल सिंह उर्फ़ नाज़िम अली बहला-फुसला कर अपने साथ कहीं भगा ले गया है। पप्पू अली का बेटा नाजिम मूल रूप से उत्तर प्रदेश के भदोही जिले का रहने वाला है।

पीड़ित माँ ने अपनी बेटी की काफी खोजबीन की, लेकिन उसका कहीं कुछ पता नहीं चल पाया। आखिरकार उसने मामले की शिकायत पुलिस में दर्ज करवाई गई। पुलिस ने तहरीर के आधार पर भारतीय दंड संहिता (IPC) की धारा 366 व 363 के तहत मामला दर्ज कर लिया है। ऑपइंडिया को मिली जानकारी के मुताबिक, नाजिम पीड़िता के घर के बगल में रहने के लिए 6 महीने पहले आया था।

उसने खुद को राहुल सिंह बताकर लड़की से दोस्ती की थी। कुछ ही समय में नाजिम ने लड़की को अपने प्यार के जाल में फँसा लिया। इसके बाद 7 मई 2024 को नाजिम अली लड़की को बहका कर अपने साथ लेकर फरार हो गया। भदोही से वह सीधे मुंबई पहुँचा। इधर लड़की को न पाकर उसके परिजनों ने खोजबीन शुरू की। आखिरकार मामले की सूचना पुलिस को दी गई तो पुलिस ने कार्रवाई शुरू की।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, नाजिम अली मुंबई में पीड़िता को इस्लाम कबूल करवा कर उससे निकाह करने की तैयारी कर रहा था। उसने कोर्ट मैरिज करके पेपर भी बनवाने शुरू कर दिए थे। नाजिम लड़की के आधार कार्ड में भी उसकी उम्र बढ़वाना चाहता था। इसके लिए वह मुंबई के एक आधार कार्ड सेंटर पर भी गया था। पीड़िता के आधार कार्ड में उसकी माँ का मोबाइल नंबर दर्ज है।

आधार कार्ड में एडिटिंग के दौरान OTP लड़की की माँ के फोन पर पहुँच गया। आधार कार्ड सेंटर वाले व्यक्ति ने OTP पूछने के लिए लड़की की माँ को कॉल कर दिया। इसके बाद पीड़ित माँ ने इसके बारे में पुलिस को जानकारी दी। पुलिस ने उसके खिलाफ जाल बिछाया और आखिरकार 17 मई को नाजिम किसी काम से मिर्जापुर आया तो पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया।

पीड़िता को बरामद कर के उसकी काउंसिलिंग और मेडिकल परीक्षण करवाई गई है। लड़की का कोर्ट में बयान भी दर्ज करवाया गया। कोर्ट में दर्ज बयानों के आधार पर पुलिस आगे की कार्रवाई में जुटी हुई है। जाँच के दौरान पुलिस को नाजिम की अम्मी की भी भूमिका भी संदिग्ध मिली है। पुलिस इस मामले में सबूतों की तलाश करते हुए आगे की कार्रवाई में जुटी है। ऑपइंडिया के पास FIR कॉपी मौजूद है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘हमारे बारह’ पर जो बॉम्बे हाई कोर्ट ने कहा, वही हम भी कह रहे- मुस्लिम नहीं हैं अल्पसंख्यक… अब तो बंद हो देश के...

हाई कोर्ट ने कहा कि उन्हें फिल्म देखखर नहीं लगा कि कोई ऐसी चीज है इसमें जो हिंसा भड़काने वाली है। अगर लगता, तो पहले ही इस पर आपत्ति जता देते।

NEET पर जिस आयुषी पटेल के दावों को प्रियंका गाँधी ने दी हवा, उसके खुद के दस्तावेज फर्जी: कहा था- NTA ने रिजल्ट नहीं...

इलाहाबाद हाई कोर्ट में झूठी साबित होने के बाद आयुषी पटेल ने अपनी याचिका भी वापस लेने का अनुरोध किया। कोर्ट ने NTA को छूट दी है कि वह आयुषी पटेल के खिलाफ नियमानुसार एक्शन ले।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -