Sunday, July 14, 2024
Homeसोशल ट्रेंडकैप्टन अंशुमान सिंह देश के लिए हो गए बलिदान, उनकी पत्नी की तस्वीर पर...

कैप्टन अंशुमान सिंह देश के लिए हो गए बलिदान, उनकी पत्नी की तस्वीर पर अमजद कर रहा अश्लील टिप्प्णी: NCW ने कहा- कार्रवाई कर रिपोर्ट दे दिल्ली पुलिस

कीर्ति चक्र से सम्मानित बलिदानी अंशुमान की पत्नी पर किए गए अभद्र टिप्पणी के बाद अमजद का ट्वीट हर जगह वायरल हो गया। अब लोग अमजद के सोशल मीडिया हैंडल को खोजकर उसपर कार्रवाई की माँग कर रहे हैं।

सियाचिन में बलिदान हुए कैप्टन अंशुमान सिंह को मरणोपरांत कीर्ति चक्र से सम्मानित किया गया। उनकी पत्नी स्मृति सिंह और माँ मंजू सिंह यह सम्मान लेने राष्ट्रपति भवन पहुँची। इस दौरान इनकी तस्वीरें भी सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुईं। लोगों ने स्मृति के साहस और पीड़ा दोनों पर बात की, लेकिन इसी बीच एक कमेंट इतना भद्दा आया कि कोई सोच भी नहीं सकता था। ये कमेंट अमजद नाम के यूजर ने किया था। अब राष्ट्रीय महिला आयोग ने इसी पर संज्ञान लेते हुए पुलिस को एक्शन के निर्देश दिए और मामले में एफआईआर करने को कहा।

सोमवार (8 जुलाई 2024) को जारी किए गए पत्र में राष्ट्रीय महिला आयोग ने अमजद की टिप्पणी को विशिष्ट कानूनी प्रावधानों का संदर्भ देते हुए उल्लंघन बताया। एनसीडब्लू ने आईपीसी की धारा 79 और आईटी एक्ट 2000 की धारा 67 के उल्लंघन में कार्रवाई के निर्देश दिए। आयोग ने दिल्ली पुलिस से उस व्यक्ति के विरुद्ध एफआईआर जदर्ज करके उसे जल्द से जल्द गिरफ्तार करने को कहा। वहीं आयोग ने मामले की निष्पक्ष एव समय पर जाँच की माँग भी की और एक्शन लिए जाने के बाद तीन दिन के भीतर इसकी रिपोर्ट आयोग को देने को कहा।

बता दें कि कीर्ति चक्र से सम्मानित बलिदानी अंशुमान की पत्नी पर किए गए अभद्र टिप्पणी के बाद अमजद का ट्वीट हर जगह वायरल हो गया। अब लोग अमजद के सोशल मीडिया हैंडल को खोजकर उसपर कार्रवाई की माँग कर रहे हैं। इंस्टाग्राम पर डाली प्रोफ्राइल के अनुसार अमजद ने खुद का प्रोफेशन मेडिकल लाइन से जुड़ा बताया है और साथ ही खुद को मानवता की सेवा में तत्पर लिखा दिखाया है। हालाँकि उसकी स्मृति पर की गई टिप्पणी और वो दोनों मैच नहीं करते। लोग अमजद की सोच पर सवाल उठा रहे हैं। साथ ही अन्य कमेंट भी शेयर कर रहे हैं जो अमजद जैसी मानसिकता वाले लोगों ने सोशल मीडिया पर किए।

गौरतलब है कि सियाचिन ग्लेशियर में 19 जुलाई 2023 की सुबह भारतीय सेना के कई टेंट में शॉर्ट सर्किट से आग लग गई थी। इस पर काबू पाने की कोशिश में रेजिमेंटल मेडिकल ऑफिसर कैप्टन अंशुमान सिंह बलिदान हो गए थे। वह यूपी में देवरिया के रहने वाले थे। उनकी शादी हादसे से 5 महीने पहले यानी 10 फरवरी 2023 को शादी हुई थी। अंशुमान इस घटना से 15 दिन पहले ही सियाचिन गए थे जिसके कुछ दिन बाद ही उनकी शहादत की खबर आई।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जगन्नाथ मंदिर के ‘रत्न भंडार’ और ‘भीतरा कक्ष’ में क्या-क्या: RBI-ASI के लोगों के साथ सँपेरे भी तैनात, चाबियाँ खो जाने पर PM मोदी...

कहा जाता है कि इसकी चाबियाँ खो गई हैं, जिस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी सवाल उठाया था। राज्य में भाजपा की पहली बार जीत हुई है, वर्षों से यहाँ BJD की सरकार थी।

मांस-मछली से मुक्त हुआ गुजरात का पालिताना, इस्लाम और ईसाइयत से भी पुराना है इस शहर का इतिहास: जैन मंदिर शहर के नाम से...

शत्रुंजय पहाड़ियों की यह पवित्रता और शीर्ष पर स्थित धार्मिक मंदिर, साथ ही जैन धर्म का मूल सिद्धांत अहिंसा है जो पालिताना में मांस की बिक्री और खपत पर प्रतिबंध लगाने की मांग का आधार बनता है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -