Monday, June 24, 2024
Homeदेश-समाजमुख़्तार अंसारी के बेटे उमर ने अदालत को भी धता बताया, अब जारी हुआ...

मुख़्तार अंसारी के बेटे उमर ने अदालत को भी धता बताया, अब जारी हुआ गैर जमानती वॉरंट: उधर कपिलदेव सिंह हत्याकांड में आने वाला फैसला भी टला

इसी मामले में अब्बास को कासगंज जेल से वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए पेश करवाया गया, लेकिन उमर अंसारी हाजिर नहीं हुआ।

माफिया मुख़्तार अंसारी के छोटे बेटे उमर अंसारी के खिलाफ उत्तर प्रदेश की मऊ जिले एक अदालत ने गैर जमानती वारंट (NBW जारी किया है। यह वॉरंट आचार संहिता के उल्लंघन को ले कर दर्ज हुए 2 केसों में जारी हुआ है। बताया जा रहा है कि माफिया का बेटा उमर इन मामलों में तय तारीख पर शुक्रवार (19 मई, 2023) को कोर्ट में हाजिर नहीं हुआ था। सुनवाई के लिए अगली तारीख़ 2 जून, 2023 तय की गई है। वहीं कपिलदेव सिंह हत्याकांड पर मुख़्तार अंसारी के खिलाफ आज आने वाला फैसला फ़िलहाल के लिए टल गया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक मुख़्तार के बेटे उमर अंसारी पर आचार संहिता के उल्लंघन के 2 केस दर्ज हैं। इसी मामले में मुख़्तार का बड़ा बेटा अब्बास अंसारी भी आरोपित है। इसकी सुनवाई मऊ जिले की MP/MLA कोर्ट में चल रही है। शुक्रवार (19 मई) को इसी मामले में अब्बास को कासगंज जेल से वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए पेश करवाया गया, लेकिन उमर अंसारी हाजिर नहीं हुआ। उमर की गैर हाजिरी पर CJM ने गैर जमानती वारंट जारी करते हुए अगली सुनवाई के लिए 2 जून, 2023 की तारीख तय की है।

जानकारी के मुताबिक, इस दिन सभी नामजदों पर आरोप तय होने थे। उमर अंसारी की गैर हाजिरी से ये आरोप तय नहीं हो पाए। इस मामले में शामिल अन्य नामजदों के नाम गणेश दत्त मिश्रा, मंसूर अंसारी, मोहम्मद ईशा खान, शाहिद लारी, शाकिर लारी, धर्मेंद्र सोनकर और जुल्फिकार हैं। गौरतलब है कि 27 फरवरी 2022 को अब्बास अंसारी ने विधानसभा चुनाव जीता था जिसके बाद बिना प्रशासन की अनुमति के रोड शो निकाला गया था। इसी के बाद 10 मार्च 2023 को अब्बास अंसारी की जीत का विजय जुलूस भी निकाला गया था। पुलिस ने इन दोनों मामलों में FIR दर्ज कर के कोर्ट में कागजात पेश किए हैं।

यह मामला ट्रायल पर चल रहा है, जिसमें सभी आरोपितों के खिलाफ शुक्रवार को आरोप तय होने थे।

गैंगस्टर कोर्ट ने मुख़्तार पर टाला फैसला

वहीं एक अन्य मामले में गाजीपुर की MP/MLA कोर्ट ने गैंगस्टर एक्ट में दर्ज एक अन्य केस में माफिया मुख़्तार अंसारी पर आज आने वाला फैसला टाल दिया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, अब यह फैसला 13 जून, 2023 को आ सकता है। यह फैसला साल 2009 में हुए कपिलदेव सिंह हत्याकांड में आना था। तब मुख़्तार अंसारी जेल में था और आरोप है कि माफिया ही इस हत्या का साजिशकर्ता था।

गौरतलब है कि ऑपइंडिया की टीम ने पूर्वांचल के कई जिलों में जा कर मुख़्तार के आपराधिक इतिहास की जमीनी पड़ताल की थी। तब मुख़्तार अंसारी के अपराध से पीड़िता कई लोगों ने मुख़्तार को कम से कम उम्रकैद की सजा देने की माँग की थी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

बिहार में EOU ने राख से खोजे NEET के सवाल, परीक्षा से पहले ही मोबाइल पर आ गया था उत्तर: पटना के एक स्कूल...

पटना के रामकृष्ण नगर थाना क्षेत्र स्थित नंदलाल छपरा स्थित लर्न बॉयज हॉस्टल एन्ड प्ले स्कूल में आंशिक रूप से जले हुए कागज़ात भी मिले हैं।

14 साल की लड़की से 9 घुसपैठियों ने रेप किया, लेकिन सजा 20 साल की उस लड़की को मिली जिसने बलात्कारियों को ‘सुअर’ बताया:...

जर्मनी में 14 साल की लड़की का रेप करने वाले बलात्कारी सजा से बच गए जबकि उनकी आलोचना करने वाले एक लड़की को जेल भेज दिया गया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -