Wednesday, May 18, 2022
Homeदेश-समाजसद्दाम ने कबूली अब्दुल से ताबीज लेने की बात, बुजुर्ग के पास से जादू-टोने...

सद्दाम ने कबूली अब्दुल से ताबीज लेने की बात, बुजुर्ग के पास से जादू-टोने की चीजें भी बरामद: सपा नेता उम्मेद पहलवान फरार

ये भी खुलासा हुआ है कि सद्दाम के जीजा इंतज़ार ने अब्दुल समद को परवेश गुज्जर से मिलवाया था। इंतजार, अब्दुल समद का एजेंट के रूप में काम करता था। अपने बयान में सद्दाम ने बताया है कि अब्दुल समद के ताबीज़ से उसके बेटे पर भी बुरा असर हुआ था।

गाजियाबाद में अब्दुल समद नाम के बुजुर्ग की पिटाई और उसकी दाढ़ी काट लेने के मामले में लोनी थाने की पुलिस ने इंतजार और सद्दाम नाम के दो युवकों को गिरफ्तार किया है। सद्दाम और इंतजार से पूछताछ जारी है। सद्दाम भी घटना वाले दिन मौके पर मौजूद था। सद्दाम ही वो व्यक्ति है, जो पीड़ित अब्दुल समद को स्कूटी पर लेकर बंथला गाँव स्थित परवेश गुज्जर के घर पहुँचा था। सद्दाम के बयान से साफ है कि अब्दुल समद ताबीज बेचने का काम करता था।

ये भी खुलासा हुआ है कि सद्दाम के जीजा इंतज़ार ने अब्दुल समद को परवेश गुज्जर से मिलवाया था। इंतजार, अब्दुल समद का एजेंट के रूप में काम करता था। अपने बयान में सद्दाम ने बताया है कि अब्दुल समद के ताबीज़ से उसके बेटे पर भी बुरा असर हुआ था। उसके बेटे की भी तबीयत खराब हुई थी। अब्दुल समद तीन बार परवेश गुज्जर से मिल चुका था, जबकि अपनी शिकायत में उसने बताया था कि उसे ऑटो से अज्ञात लोग पकड़ कर ले गए थे, जिसके बाद मारपीट की गई थी।

सद्दाम ने कबूल किया कि उसने अब्दुल समद से ताबीज ली थी

परवेश ने आदिल को बुलाया, फिर इंतजार को। इसके बाद वहाँ दस-बारह लड़के पहुँच गए थे। इनमें से कल्लू नाम के आरोपित ने बुजुर्ग की दाढ़ी काटी थी। सद्दाम ने बताया कि उस वक़्त वो भी वहाँ मौजूद था। पुलिस अब तक इस मामले में कुल 5 आरोपितों को गिरफ्तार कर चुकी हैं। साथ ही बुजुर्ग अब्दुल समद के पास से कई जादू-टोने के सामान मिले हैं। इससे साफ़ है कि वो ताबीज़ और वशीकरण का धंधा करता था।

इधर इस पूरे मामले में ‘जय श्री राम’ को बदनाम करने की साजिश रचने वाले स्थानीय सपा नेता उम्मेद इदरिश पहलवान के खिलाफ FIR दर्ज कर के उसकी तलाश शुरू कर दी गई है। FIR के अनुसार, उसने ही सबसे पहले बुजुर्ग के साथ अनावश्यक वीडियो बनाया गया और इसे वायरल करने के लिए इसमें धार्मिक वैमनस्यता फैलाने वाली बातें कही। आरोप है कि घटना की सत्यता जाँचे बिना ही वीडियो में धार्मिक आधार पर बातें की गईं।

अब्दुल समद के पास से मिले जादू-टोने के सामान

आरोप लगाया गया है कि इस वीडियो के कारण जनता की धार्मिक भावनाएँ आहत हुई हैं। साथ ही धार्मिक विभाजन के लिए इसे वायरल किया गया, जिसका फेसबुक जैसे सोशल मीडिया प्लैटफॉर्म्स ने भी कोई फैक्ट-चेक नहीं किया। उम्मेद पहलवान के खिलाफ IT एक्ट की धाराएँ भी लगाई गई हैं। फ़िलहाल वो फरार है। उसे फेसबुक पर लिखा है कि उसके खिलाफ ‘फर्जी मुकदमा’ दायर किया गया है, क्योंकि उसने 72 साल के बुजुर्ग की मदद की है।

सपा नेता उम्मेद पहलवान के खिलाफ FIR

उधर गाजियाबाद मामले में अब अब्दुल समद का एक वीडियो सामने आया है, जिससे पता चल रहा है कि वो ताबीज का कारोबार करता था। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सूचना सलाहकार शलभ मणि त्रिपाठी ने अब्दुल समद की पिटाई से पहले का वीडियो जारी किया है। इसमें वो कहता दिख रहा है, “इंतजार ने कह कर भेजा कि इन्हें ताबीज़ देकर मेरे वश में कर दो, इनसे मेरा काम है।” इसमें वशीकरण और ताबीज की बातें हो रही हैं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

सबा नकवी ने एटॉमिक रिएक्टर को बता दिया शिवलिंग, विरोध होने पर डिलीट कर माँगी माफ़ी: लोग बोल रहे – FIR करो

सबा नकवी ने मजाक उड़ाते हुए कहा कि भाभा एटॉमिक रिसर्च सेंटर में सबसे बड़े शिवलिंग की खोज हुई। व्हाट्सएप्प फॉरवर्ड बता कर किया शेयर।

गुजरात में बुरी तरह फेल हुई AAP की ‘परिवर्तन यात्रा’, पंजाब से बुलाई गाड़ियाँ और लोग: खाली जगह की ओर हाथ हिलाते रहे नेता

AAP नेता और पूर्व पत्रकार इसुदान गढ़वी रैली में हाथ दिखाकर थक चुके थे लेकिन सामने कोई उनकी बात का जवाब नहीं दे रहा था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
186,677FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe