Friday, May 24, 2024
Homeदेश-समाजमोहल्ला क्लिनिक का एक और डॉक्टर कोरोना +ve: प्रशासन ने जारी किया नोटिस, संपर्क...

मोहल्ला क्लिनिक का एक और डॉक्टर कोरोना +ve: प्रशासन ने जारी किया नोटिस, संपर्क में आए मरीजों को क्वारंटाइन का आदेश

बाबरपुर इलाके के मोहल्ला क्लिनिक के डॉक्टर में कोरोना के लक्षण पाए गए थे जिसके बाद उन्होंने कोरोना का टेस्ट करवाया। आज डॉक्टर की टेस्ट रिपोर्ट आई जिसमें वह कोरोना पॉजिटिव पाए गए। इसके बाद डॉक्टर और उनके परिवार के साथ उनके स्टाफ को भी आइसोलेट किया गया है।

दिल्ली में कोरोना के फैलते संक्रमण ने अब सबको सकते में डाल दिया है। एक ओर जहाँ दिल्ली सरकार लगातार लोगों को आश्वस्त कर रही है कि वे जनता को हर मुमकिन स्वास्थ्य सुविधा मुहैया करवाएँगे। वहीं पर उन्हीं के मोहल्ला क्लिनिक के डॉक्टर इससे संक्रमित हो रहे हैं। जी हाँ, दिल्ली में मोहल्ला क्लिनिक का एक और डॉक्टर कोरोना से संक्रमित पाया गया है। डॉक्टर उत्तरी पूर्वी दिल्ली के बाबरपुर इलाके का बताया जा रहा है।

खबर के अनुसार डॉक्टर के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद प्रशासन ने नोटिस जारी किया हैं। नोटिस में बताया गया है कि जो भी मरीज या लोग 12 मार्च से 20 मार्च के बीच इस मोहल्ला क्लीनिक में इलाज कराने आए हो वो अगले 15 दिन तक अपने घर में ही क्वारनटीन रहें।

जानकारी के मुताबिक, बाबरपुर इलाके के मोहल्ला क्लिनिक के डॉक्टर में कोरोना के लक्षण पाए गए थे जिसके बाद उन्होंने कोरोना का टेस्ट करवाया। आज डॉक्टर की टेस्ट रिपोर्ट आई जिसमें वह कोरोना पॉजिटिव पाए गए। इसके बाद डॉक्टर और उनके परिवार के साथ उनके स्टाफ को भी आइसोलेट किया गया है।

गौरतलब है कि इससे पहले उत्तर पूर्वी दिल्ली के मौजपुरी के मोहनपुरी स्थित मोहल्ला क्लिनिक में एक डॉक्टर में कोरोना लक्षण पाए गए थे और जाँच के बाद उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आने की खबर तो खुद स्वास्थ्य विभाग ने की थी। उस दौरान भी नोटिस जारी कर वहाँ की जनता को सूचित किया गया था, क्योंकि कम से कम 900 मरीज और लोग इसके संपर्क में आए थे। दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने भी कहा था, कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए डॉक्टर के संपर्क में आने वाले सभी 900 लोगों को क्वारंटाइन यानी बाकी के समाज से अलग कर दिया गया है। इसके बाद डॉक्टर की बेटी और पत्नी भी कोरोना से संक्रमित पाए गए थे।

बता दें, मौजपुरी के मोहनपुरी स्थित मोहल्ला क्लिनिक के डॉक्टर गोपाल झा एक सऊदी से लौटी महिला के कारण संक्रमित हुए थे। जानकारी के मुताबिक दुबई से लौटने के बाद ये महिला अपने भाई (तबरेज) और अम्मी से मिली और भाई भी इस बीमारी से संक्रमित हुआ। बाद में महिला का भाई बहन से वह सीएए विरोधी प्रदर्शनों में भी जाता रहा और इस तरह एक महिला की लापरवाही के कारण 400-450 लोग इस खतरे के घेरे में माने जा रहे थे।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बाबरी का पक्षकार राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा समारोह में आ गया, लेकिन कॉन्ग्रेस ने बहिष्कार किया’: बोले PM मोदी – इन्होंने भारतीयों पर मढ़ा...

प्रधानमंत्री ने स्पष्ट ऐलान किया कि अब यह देश न आँख झुकाकर बात करेगा और न ही आँख उठाकर बात करेगा, यह देश अब आँख मिलाकर बात करेगा।

कॉन्ग्रेस नेता को ED से राहत, खालिस्तानियों को जमानत… जानिए कौन हैं हिन्दुओं पर हमले के 18 इस्लामी आरोपितों को छोड़ने वाले HC जज...

नवंबर 2023 में जब राजस्थान में विधानसभा चुनाव को लेकर सरगर्मी चरम पर थी, जब जस्टिस फरजंद अली ने कॉन्ग्रेस उम्मीदवार मेवाराम जैन को ED से राहत दी थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -