Tuesday, June 25, 2024
Homeदेश-समाजपटना के स्कूल में भीड़ ने लगाई आग, गटर में मिला था 4 साल...

पटना के स्कूल में भीड़ ने लगाई आग, गटर में मिला था 4 साल के बच्चे का शव: स्कूल जाने के बाद से था लापता, CCTV फुटेज से भी छेड़छाड़ का दावा

स्कूल में छात्र का शव मिलने के बाद भीड़ बेकाबू हो गई और उसने स्कूल में आग लगा दी। गुस्साई भीड़ ने स्कूल में तोड़फोड़ की और प्रधानाध्यापक के चेम्बर को भी आग के हवाले कर दिया। मौके पर पुलिस और प्रशासन भी पहुँचा। बच्चे को शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है।

बिहार की राजधानी पटना के एक स्कूल में एक 4 वर्षीय छात्र का शव मिला। यह शव स्कूल के सीवर वाले कमरे से मिला। बच्चा 16 मई, 2024 को स्कूल गया था लेकिन जब देर शाम तक घर नहीं लौटा तो उसकी तलाश चालू की गई। शव मिलने पर भीड़ आक्रोशित हो गई और स्कूल में तोड़फोड़ के साथ आगजनी की।

जानकारी के अनुसार, पटना के टिनी टॉट एकेडमी नाम के एक स्कूल में 4 वर्षीय आयुष कुमार पढ़ता था। वह इसी स्कूल परिसर में ट्यूशन भी पढ़ता था। बताया गया कि आयुष गुरुवार (16 मई, 2024) को सुबह साढ़े छः बजे स्कूल पहुँचा था। वह छुट्टी के बाद भी वापस घर नहीं पहुँचा।

इसके बाद उसके परिजनों ने उसकी तलाश चालू की। परिजनों ने जब इस विषय में स्कूल के प्रधानाध्यापक से बात की तो उन्होंने दावा किया कि बच्चा स्कूल पहुँचा ही नहीं था। परिजनों ने इस मामले में जब बच्चे को स्कूल ले जाने वाले वैन ड्राइवर से बात की तो उसने स्पष्ट किया कि बच्चा स्कूल पहुँचा था।

इसके बाद परिजनों ने स्कूल के सभी CCTV कैमरे की जाँच की। कैमरे में बच्चा 11:49 बजे तक दिखा। परिजनों ने आरोप लगाया कि इसके बाद बच्चा स्कूल में नहीं दिखा और कैमरे से भी छेड़छाड़ की गई। कैमरे ने 10 मिनट की फुटेज गायब बताई गई। परिजनों ने जब बच्चे की तलाश की तो वह सीवर वाले कमरे में सुबह 3 बजे मिला।

स्कूल में छात्र का शव मिलने के बाद भीड़ बेकाबू हो गई और उसने स्कूल में आग लगा दी। गुस्साई भीड़ ने स्कूल में तोड़फोड़ की और प्रधानाध्यापक के चेम्बर को भी आग के हवाले कर दिया। मौके पर पुलिस और प्रशासन भी पहुँचा। बच्चे को शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। पूरे मामले में प्रधानाध्यापक का असहयोग लोगों को गुस्सा कर गया।

इस मामले में पटना के एसपी चन्द्र प्रकाश दुबे ने बताया, “बच्चे की छुट्टी के 2 घंटे के बाद परिवार को बताया गया। इस बात की जाँच की जाएगी कि बच्चे के साथ क्या किया गया। हमें इस विषय में रात में जानकरी हुई है। हमारी टीम ने यहाँ से सबूत इकट्ठा किए हैं। CCTV की जाँच में पाया गया कि बच्चा एक तरफ जाता है लेकिन लौटता नहीं है। बच्चे का शव जहाँ छुपाया गया था, वहाँ से उसे निकाल कर आगे की कार्रवाई की जा रही है। मामले में FIR दर्ज कर ली गई है।”

पुलिस ने कहा है कि वह इसे हत्या का मामला मान कर जाँच कर रही है। उन्होंने कहा कि शव को छुपाना आपराधिक मंशा को दर्शाता है। पुलिस ने कहा है कि कुछ लोगों को इस मामले में हिरासत में लिया गया है और पूछताछ जारी है।

bihar patna school student ayush kumar found dead angry people set fire fir registered

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

शिखर बन जाने पर नहीं आएँगी पानी की बूँदे, मंदिर में कोई डिजाइन समस्या नहीं: राम मंदिर निर्माण समिति के चेयरमैन नृपेन्द्र मिश्रा ने...

श्रीराम मंदिर निर्माण समिति के मुखिया नृपेन्द्र मिश्रा ने बताया है कि पानी रिसने की समस्या शिखर बनने के बाद खत्म हो जाएगी।

दर-दर भटकता रहा एक बाप पर बेटे की लाश तक न मिली, यातना दे-दे कर इंजीनियरिंग छात्र की हत्या: आपातकाल की वो कहानी, जिसमें...

आज कॉन्ग्रेस पार्टी संविधान दिखा रही है। जब राजन के पिता CM, गृह मंत्री, गृह सचिव, पुलिस अधिकारी और सांसदों से गुहार लगा रहे थे तब ये कॉन्ग्रेस पार्टी सोई हुई थी। कहानी उस छात्र की, जिसकी आज तक लाश भी नहीं मिली।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -