Sunday, August 1, 2021
Homeदेश-समाजदो दिन से गायब नाबालिग बहनों को टेलर मास्टर ज़फर ने बनाया था बंधक:...

दो दिन से गायब नाबालिग बहनों को टेलर मास्टर ज़फर ने बनाया था बंधक: पटना से बाहर भेजने की थी तैयारी

"दाेनाें सामान खरीदने के लिए चाँदमारी राेड आई थीं। इसी बीच टेलर ने आवाज देकर बुलाया और कहा कि जरूरी काम है। दाेनाें उसके पास गईं तो उसके बाद उसने शटर बंद कर दिया। बीच-बीच में टेलर बाहर निकलता पर शटर काे बाहर से बंद कर देता था। हम दाेनाें का हाथ-पाँव बँधा था। टेलर जफ़र बार-बार हमें ठंडे पानी से नहला रहा था।"

पटना के कंकड़बाग थाना के चाँदमारी रोड से 2 नाबालिग बच्चियों की किडनैपिंग का मामला सामने आया है। पुलिस ने मामले में एक टेलर मास्टर जफर को गिरफ्तार किया है। आरोप है कि उसने ही दोनों बच्चियों को अपने दुकान पर बंधक बना लिया था। लड़कियों के विरोध करने पर आरोपित जाफर उनके हाथ पैर बाँध कर उन्हें बेहरमी से पीटता और चिल्लाने पर दाेनाें काे बार-बार ठंडे पानी से नहला देता था।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, कंकड़बाग की रहने वाली दो बच्चियाँ सोमवार (28 दिसंबर, 2020) की शाम को टीपीएस कॉलेज के पास से अचानक से लापता हो गई थीं, इसके बाद इनके परिवार वाले इनकी तलाश कर रहे थे। इसी दौरान सड़क पर आने जाने वाले लोगों को एक टेलर की दुकान से कुछ आवाज आई, जिसके बाद स्थानीय लोगों ने दुकान खोला तो उसमें से दोनों बच्चियों को बरामद किया गया।

बच्चियों की ऐसी हालत देख आक्रोशित लोगों ने दुकानदार जाफर की जमकर पिटाई कर दी। वहीं ठंड से ठिठुरती एक बच्ची की हालत काफी नाजुक लग रही थी। उसे बार-बार उल्टी हाे रही है, लोगों से तुरंत आग जला कर उसे ठीक करने की काेशिश की। इसके बावजूद उसकी तबियत गंभीर होती जा रही थी। जिसे बेहतर इलाज के लिए अस्पताल भेज दिया गया है। इधर, स्थानीय लोगों की सूचना पर कंकड़बाग पुलिस मौके पर पहुँची और आरोपित को गिरफ्तार के थाना ले गई। पुलिस जाफर से पूछताछ करने में जुटी है। जाफर चाँदमारी राेड का रहने वाला है।

घटना के संबंध में नाबालिग लड़की ने बताया, “दाेनाें सामान खरीदने के लिए चाँदमारी राेड आई थीं। इसी बीच टेलर ने आवाज देकर बुलाया और कहा कि जरूरी काम है। दाेनाें उसके पास गईं तो उसके बाद उसने शटर बंद कर दिया। बीच-बीच में टेलर बाहर निकलता पर शटर काे बाहर से बंद कर देता था। हम दाेनाें का हाथ-पाँव बँधा था। टेलर जफ़र बार-बार हमें ठंडे पानी से नहला रहा था।” बच्चियों ने बताया कि उन्हें खाना तक नहीं दिया गया।

वहीं घटना के बाद लोगों का मानना है कि यह मानव तस्करी का मामला है। क्योंकि बच्चियों के बयान के मुताबिक जाफर ने उनका शारीरिक शोषण नहीं किया लेकिन उसकी उन्हें कहीं बाहर भेजने की योजना थी। फिलहाल पुलिस उससे पूछताछ करने में जुटी है। इसके अलावा उसके माेबाइल फोन को भी खंगाला जा रहा है।

कंकड़बाग थाना के प्रभारी थानेदार सुमन कुमार ने कहा कि दाेनाें में से किसी के साथ रेप नहीं हुआ है। दाेनाें काे हाथ-पाँव बाँधकर बंधक बनाए हुए था और ठंडे पानी से नहलाने से एक की तबीयत खराब है, उसे पीएमसीएच भेजा गया है। पुलिस जाफर से पूछताछ करने में जुटी है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘ममता बनर्जी महान महिला’ – CPI(M) के दिवंगत नेता की बेटी ने लिखा लेख, ‘शर्मिंदा’ पार्टी करेगी कार्रवाई

माकपा नेताओं ने कहा ​कि ममता बनर्जी पर अजंता बिस्वास का लेख छपने के बाद से वे लोग बेहद शर्मिंदा महसूस कर रहे हैं।

‘मस्जिद के सामने जुलूस निकलेगा, बाजा भी बजेगा’: जानिए कैसे बाल गंगाधर तिलक ने मुस्लिम दंगाइयों को सिखाया था सबक

हिन्दू-मुस्लिम दंगे 19वीं शताब्दी के अंत तक महाराष्ट्र में एकदम आम हो गए थे। लोकमान्य बाल गंगाधर तिलक इससे कैसे निपटे, आइए बताते हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,404FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe