Sunday, October 17, 2021
Homeदेश-समाजझील जम गई... लेकिन तिरंगे के साथ कदम मिलते रहे: देखिए गणतंत्र दिवस 2021...

झील जम गई… लेकिन तिरंगे के साथ कदम मिलते रहे: देखिए गणतंत्र दिवस 2021 की मजेदार तस्वीरें

दिल्ली में इस बार का गणतंत्र दिवस कई मामलों में पहला। बांग्लादेश की फ़ौज के 122 सदस्य भी परेड में हिस्सा ले रहे। साथ ही राफेल की उड़ान भी देखने को...

मंगलवार (जनवरी 26, 2021) को गणतंत्र दिवस के मौके पर देश भर में कई जगहों पर तिरंगा झंडा फहराया गया और उसे सलामी दी गई। इस अवसर पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद दिल्ली में राजपथ पर झंडोत्तोलन करने वाले हैं और वहाँ परेड की तैयारी चालू है।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने एक दिन पहले ही गणतंत्र दिवस मना लिया और सम्बोधन भी दे दिया। देश के सभी राज्यों की राजधानियों में राज्यपाल और उप-राज्यपाल ने परेड की सलामी की। यहाँ हम आपको गणतंत्र दिवस 2021 की देश भर की तस्वीरें दिखा रहे हैं, अलग-अलग कोने से।

अपने दिल्ली स्थित आवास पर सुरक्षाकर्मियों में मिठाई बाँटते केंद्रीय मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन
अपने आवास पर गणतंत्र दिवस के दौरान राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत
लद्दाख में बर्फ जमी झील के ऊपर मार्च करते ITBP के जवान
गणतंत्र दिवस के मौके पर कुछ ऐसे चमका श्रीनगर एयरपोर्ट
रेवा के SAF ग्राउंड में झंडोत्तोलन करते सीएम शिवराज सिंह चौहान
कर्णावती में सरसंघचालक मोहनरावजी भागवत ने किया ध्वजारोहण

दिल्ली में इस बार का गणतंत्र दिवस कई मामलों में पहला होगा। बांग्लादेश की फ़ौज के 122 सदस्य भी परेड में हिस्सा लेंगे। इस बार कोई मुख्य अतिथि भी नहीं है। साथ ही राफेल की उड़ान भी देखने को मिलेगी।

परेड में हिस्सा लेने वाले तीनों सेनाओं के जवानों की संख्या इस बार घटा दी गई है। सभी अधिकारियों को पहले ही से कोरोना संक्रमण के कारण बायो बबल में रखा गया था। उधर किसानों की ट्रेक्टर परेड भी जारी है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बेअदबी करने वालों को यही सज़ा मिलेगी, हम गुरु की फौज और आदि ग्रन्थ ही हमारा कानून’: हथियारबंद निहंगों को दलित की हत्या पर...

हथियारबंद निहंग सिखों ने खुद को गुरू ग्रंथ साहिब की सेना बताया। साथ ही कहा कि गुरु की फौजें किसानों और पुलिस के बीच की दीवार हैं।

सरकारी नौकरी से निकाला गया सैयद अली शाह गिलानी का पोता, J&K में रिसर्च ऑफिसर बन कर बैठा था: आतंकियों के समर्थन का आरोप

अलगाववादी नेता रहे सैयद अली शाह गिलानी के पोते अनीस-उल-इस्लाम को जम्मू कश्मीर में सरकारी नौकरी से निकाल बाहर किया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,107FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe