Tuesday, October 19, 2021
Homeदेश-समाजइस बार के कुंभ को डिजिटल कुंभ के तौर पर भी याद किया जाएगा...

इस बार के कुंभ को डिजिटल कुंभ के तौर पर भी याद किया जाएगा – PM मोदी

प्रधानमंत्री ने स्वच्छ और सुरक्षित कुंभ के आयोजन में योगदान देने वाले स्वच्छता कर्मियों एवं सुरक्षाकर्मियों को सम्मानित किया। पीएम ने सफाईकर्मियों के पैर धोए और नीचे बैठकर काफी देर तक बातचीत करते रहे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गोरखपुर में जनता को संबोधित करने के बाद सीधे प्रयागराज पहुँचे। कुंभ मेले में प्रयागराज पहुँचने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार (फरवरी 24, 2019) को पवित्र संगम में डुबकी लगाई।

एक दिवसीय दौरे पर प्रयागराज पहुँचे प्रधानमंत्री के साथ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी मौजूद रहे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस दौरान संगम किनारे पूजा अर्चना भी की।

इस बीच प्रधानमंत्री ने जनता को संबोधित किया इसकी कुछ मुख्य बातें इस प्रकार हैं:

  • प्रधानमंत्री ने स्वच्छ और सुरक्षित कुंभ के आयोजन में योगदान देने वाले स्वच्छता कर्मियों एवं सुरक्षाकर्मियों को सम्मानित किया। पीएम ने सफाईकर्मियों के पैर धोए और नीचे बैठकर काफी देर तक बातचीत की।
  • अपने संबोधन में पीएम मोदी ने कहा कि प्रयाग की भूमि पर आकर अपने आप को धन्य महसूस कर रहा हूँ। इस बार संगम में पवित्र स्नान करने का अवसर मिला।
  • प्रयागराज का तप और तप के साथ इस नगरी का युगों पुराना नाता रहा है। कुंभ में हठ योगी, तप योगी और मंत्र योगी भी हैं और इनके साथ मेरे कर्मयोगी भी हैं।
  • ये कर्मयोगी वो लोग हैं जो दिन रात मेहनत कर कुंभ में सुविधा मुहैया कराए हैं। इन कर्मयोगियों में नाविक भी हैं। इन कर्मयोगियों में स्थानीय निवासी भी हैं। कुंभ के कर्मयोगियों में साफ सफाई से जुड़े कर्मचारी भी शामिल हैं। इन्होंने साफ सफाई को पूरी दुनिया में चर्चा का विषय बना दिया।
  • पीएम मोदी ने कहा कि कुंभ ऐसे समय में हो रहा है जब देश गाँधीजी की 150वीं जयंती मना रहा हैं। गांधीजी ने 100 साल पहले स्वच्छ कुंभ की इच्छा जताई थी।
  • प्रयागराज के सभी स्वच्छाग्रही पूरे देश के लिए प्रेरणा हैं। साफ सफाई की बात आती है तो माँ गंगा के निर्मलता की भी चर्चा होती है। इसका अनुभव में मैंने खुद आज किया। इतना निर्मलता गंगा जी में पहले कभी नहीं थी।
  • अपने संबोधन में पीएम मोदी ने कहा कि मुझे सियोल में जो राशि मिली उसको मैंने अपने पास नहीं रखा, उसको नमामि गंगे को दे दिया। बतौर पीएम मुझे जो भी इनाम मिला मैंने माँ गंगा को समर्पित किया।
  • इस कुंभ में बहुत से काम पहली बार हुए हैं। पहली बार श्रद्धालुओं को अक्षय वट का दर्शन करने का मौका मिला। मुझे बताया गया है कि हर रोज लाखों श्रद्धालु ने इसके दर्शन किए। इस बार के कुंभ को डिजिटल कुंभ के तौर पर भी याद किया जाएगा।
  • कुंभ में यूपी पुलिस की भूमिका की भी तारीफ हो रही है। कुंभ मेले में सेवामित्रों ने सराहनीय काम किया। पीएम मोदी ने कुंभ के सफल आयोजन के लिए योगी सरकार को बधाई दी। उन्होंने कहा कि इस बार के कुंभ ने स्वच्छता का मजबूत संदेश दिया है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

धर्मांतरण कराने आए ईसाई समूह को ग्रामीणों ने बंधक बनाया, छत्तीसगढ़ की गवर्नर का CM को पत्र- जबरन धर्म परिवर्तन पर हो एक्शन

छत्तीसगढ़ के दुर्ग में ग्रामीणों ने ईसाई समुदाय के 45 से ज्यादा लोगों को बंधक बना लिया। यह समूह देर रात धर्मांतरण कराने के इरादे से पहुँचा था।

सूरत में मंदिरों-घर की छत पर लाउडस्पीकर, सुबह-शाम हनुमान चालीसा; शनिवार को सत्संग भी: धर्म के लिए हिंदू हुए लामबंद

सूरत में आठ महीने पहले लाउडस्पीकर पर हनुमान चालीसा की हुई शुरुआत ने कैसे हिंदुओं को जोड़ा, इसका संदेश कितना गहरा हुआ, पढ़िए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,980FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe