Tuesday, June 25, 2024
Homeदेश-समाजपीएम श्री स्कूल शुरू करने वाला देश का पहला राज्य बना हरियाणा, सीएम खट्टर...

पीएम श्री स्कूल शुरू करने वाला देश का पहला राज्य बना हरियाणा, सीएम खट्टर ने किया लोकार्पण, प्ले-वे स्कूल कहलाएँगे ‘बाल वाटिका’

खट्टर सरकार प्रदेश में पाँच लाख टैबलेट बाँट चुकी है। इन टैबलेट में 34 अलग-अलग विषयों से सम्बंधित सॉफ्टवेयर इनस्टॉल किए गए हैं। आने वाले समय में इन्हें प्रदेश के कक्षा 10 से कक्षा 12 तक के विद्यार्थियों में बाँटा जाएगा। मुख्यमंत्री खट्टर ने बच्चों के अभिभावकों से अपील की है कि वह इन टैबलेट के उपयोग पर ध्यान दें।

हरियाणा पीएम श्री (PM SHRI) स्कूल चालू करने वाला देश का पहला राज्य बन गया है। प्रदेश में 124 पीएम श्री स्कूलों का लोकार्पण प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर और केन्द्रीय शिक्षा एवं कौशल विकास मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान ने किया है। केंद्र सरकार ने पहले चरण में इन 124 स्कूलों के लिए 85 करोड़ की धनराशि उपलब्ध करवाई थी। दूसरे चरण में 128 अन्य स्कूलों को मॉडर्न बनाया जाएगा।

पीएम श्री स्कूल को केन्द्रीय कैबिनेट ने सितम्बर 2022 में मंजूरी दी थी, जिसके अंतर्गत देश भर में 14,400 से अधिक स्कूलों को मॉडर्न बनाया जाना है। देश भर में लगभग 3,893 स्कूलों को इसके लिए चयनित किया गया है। हरियाणा के अतिरिक्त अभी अन्य कोई भी प्रदेश अभी इस योजना में इतनी जल्दी स्कूलों को अपग्रेड किया है।

पीएम श्री स्कूलों को पाँच वर्षों में 2 करोड़ रुपए दिए जाने हैं। इससे स्कूलों में स्मार्ट क्लास, लाइब्रेरी, कम्प्यूटर लैब और खेल के मैदान जैसी सुविधाएँ विकसित की जाएँगी। इससे छात्रों के विकास में सहायता मिलेगी। दरअसल, पीएम श्री के जरिए शिक्षा के स्तर में सुधार और छात्रों के विकास पर फोकस किया जा रहा है।

कार्यक्रम में मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर और केन्द्रीय शिक्षा मंत्री ने निपुण एप भी लॉन्च किया। मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने इस मौके पर कहा, “शिक्षा के बिना मनुष्य पूर्ण नहीं हो सकता। इसलिए शिक्षा की आवश्यकता सभी को है। हमने शिक्षा का स्तर सुधारा है ताकि युवाओं में देशप्रेम, संस्कार और राष्ट्र प्रेम की भावनाएँ जागृत हो सकें।”

मुख्यमंत्री खट्टर ने बताया कि हरियाणा में 4,000 प्ले-वे स्कूल चालू किए गए हैं। इन स्कूलों को अब ‘बाल वाटिका’ के नाम से जाना जाएगा। मुख्यमंत्री ने शिक्षकों से अपील की है कि वे कक्षा में साधारण तरीके से बच्चों को चीजें सिखाएँ, ताकि उन्हें बच्चे चीजों को आसानी से समझ सकें।

हरियाणा में पीएम श्री और बाल वाटिका स्कूलों के अलावा राजकीय सीनियर सेकेंडरी स्कूलों को भी अपग्रेड किया जा रहा है। इन स्कूलों को सीबीएसई (CBSE) से सम्बद्ध किया गया है। पीएम श्री स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चे अगले वर्ष से इन स्कूलों में पढ़ेंगे।

खट्टर सरकार प्रदेश में पाँच लाख टैबलेट बाँट चुकी है। इन टैबलेट में 34 अलग-अलग विषयों से सम्बंधित सॉफ्टवेयर इनस्टॉल किए गए हैं। आने वाले समय में इन्हें प्रदेश के कक्षा 10 से कक्षा 12 तक के विद्यार्थियों में बाँटा जाएगा। मुख्यमंत्री खट्टर ने बच्चों के अभिभावकों से अपील की है कि वह इन टैबलेट के उपयोग पर ध्यान दें।

केन्द्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान ने हरियाणा में शिक्षकों की स्थानातंरण नीति की तारीफ़ की। उन्होंने कहा कि इसमें पहले बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार होता था, लेकिन मनोहर लाल खट्टर के नेतृत्व में भाजपा सरकार ने इसे ऑनलाइन कर दिया है। इसकी वजह से भ्रष्टाचार बंद हो गया है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जूलियन असांजे इज फ्री… विकिलीक्स के फाउंडर को 175 साल की होती जेल पर 5 साल में ही छूटे: जानिए कैसे अमेरिका को हिलाया,...

विकिलीक्स फाउंडर जूलियन असांजे ने अमेरिका के साथ एक डील कर ली है, इसके बाद उन्हें इंग्लैंड की एक जेल से छोड़ दिया गया है।

‘जिन्होंने इमरजेंसी लगाई वे संविधान के लिए न दिखाएँ प्यार’: कॉन्ग्रेस को PM मोदी ने दिखाया आईना, आपातकाल की 50वीं बरसी पर देश मना...

इमरजेंसी की 50वीं बरसी पर पीएम मोदी ने कॉन्ग्रेस पर निशाना साधा। साथ ही लोगों को याद दिलाया कि कैसे उस समय लोगों से उनके अधिकार छीने गए थे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -