Thursday, August 5, 2021
Homeदेश-समाजतमिलनाडु में तबलीगी जमात के मदरसे पर छापा, 5 देशों के मौलवी बरामद

तमिलनाडु में तबलीगी जमात के मदरसे पर छापा, 5 देशों के मौलवी बरामद

मध्यप्रदेश में भी पुलिस ने कार्रवाई करते हुए तबलीगी जमात के 64 विदेशी सदस्यों को गिरफ्तार किया है। संगठन से जुड़े 10 भारतीयों और 13 अन्य लोगों को भी भोपाल में इनकी मदद करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है।

तमिलनाडु के मइलादुथुराई के पास निदुर में तबलीगी जमात से जुड़े एक मदरसे पर पुलिस ने छापा मारा। 12 मौलीवी यहॉं छिपे मिले। इनमें 5 फ्रांस, 3 कैमरून, 1 कांगो, 1 बेल्जियम और 1 बांग्लादेश का नागरिक है। इन सभी के पासपोर्ट जब्त कर लिए गए हैं।

देश में कोरोना वायरस के संक्रमण का सबसे बड़ा स्रोत बन चुके यह तबलीगी जमात सबके आश्चर्य का विषय बन गया है। ट्विटर यूजर्स ने इस पर हैरानी जताते हुए लिखा है कि यह चैंकाने वाली बात है कि यदि कोरोना वायरस नहीं आता तो शायद इनके बारे में कभी किसी को कोई खबर भी नहीं होती।

आज ही मध्यप्रदेश में पुलिस ने भी कार्रवाई करते हुए तबलीगी जमात के 64 विदेशी सदस्यों को गिरफ्तार किया है। मध्य प्रदेश पुलिस ने तबलीगी जमात के 64 विदेशी सदस्यों, संगठन से जुड़े 10 भारतीयों, और 13 अन्य लोगों को गिरफ्तार किया है जिन्होंने भोपाल में इनकी मदद की है।

यदि तमिलनाडु की ही बात करें तो आज वहाँ कोरोना वायरस से 70 वर्षीय महिला की मौत हो गई, जिससे राज्य में इस महामारी से मरने वालों की संख्या नौ हो गई। साथ ही, 77 लोग इस बीमारी से संक्रमित पाए गए हैं जिससे संक्रमण की कुल संख्या 911 हो गई है।

तमिलनाडु में कल 24 घंटे में 96 नए केस सामने आए, जिसमें से 84 मामले सिर्फ दिल्ली के निजामुद्दीन में आयोजित तबलीगी जमात (Tablighi Jamaat) के कार्यक्रम में शामिल हुए लोगों से जुड़े हुए लोगों के हैं।

तबलीगी जमात का दिल्ली के निजामुद्दीन स्थित मरकज देश में देश में कोरोना वायरस संक्रमण का हॉटस्पॉट बनकर उभरा है। यहॉं मजहबी आयोजन में शरीक होने के बाद जमात के सदस्य देश के अलग-अलग हिस्सों में गए। देश के कई राज्यों में जमात से जुड़े मौलवी मस्जिदों में छिपे मिले हैं। पुलिस के साथ ही अब हाईकोर्ट भी इनसे सख्ती से निपटने के निर्देश दे रहा है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अगर बायोलॉजिकल पुरुषों को महिला खेलों में खेलने पर कुछ कहा तो ब्लॉक कर देंगे: BBC ने लोगों को दी खुलेआम धमकी

बीबीसी के आर्टिकल के बाद लोग सवाल उठाने लगे हैं कि जब लॉरेल पैदा आदमी के तौर पर हुए और बाद में महिला बने, तो यह बराबरी का मुकाबला कैसे हुआ।

दिल्ली में कमाल: फ्लाईओवर बनने से पहले ही बन गई थी उसपर मजार? विरोध कर रहे लोगों के साथ बदसलूकी, देखें वीडियो

दिल्ली के इस फ्लाईओवर का संचालन 2009 में शुरू हुआ था। लेकिन मजार की देखरेख करने वाला सिकंदर कहता है कि मजार वहाँ 1982 में बनी थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,995FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe