Saturday, October 16, 2021
Homeदेश-समाजवकील प्रशांत भूषण ने बाबा रामदेव से माँगी माफी, बोले- डिफॉल्टर को लेकर गलती...

वकील प्रशांत भूषण ने बाबा रामदेव से माँगी माफी, बोले- डिफॉल्टर को लेकर गलती से आपका नाम लिया

प्रशांत भूषण ने ट्वीट कर कहा “मैंने एक पोस्टर ट्वीट किया था, जिसमें बाबा रामदेव का उल्लेख एक डिफॉल्टर के रूप में किया गया था। पोस्टर एक पोर्टल की स्टोरी पर आधारित है, जिसमें 'रूचि सोया' को डिफॉल्टर के रूप में उल्लेख किया गया है। बाद में पता चला है कि वह (बाबा रामदेव) केवल इसे खरीदने की कोशिश कर रहे थे।”

वरिष्ठ वकील प्रशांत भूषण ने योग गुरु बाबा रामदेव से माफी माँगी है। उन्होंने उस ट्वीट को लेकर माफी माँगी है जिसमें उन्होंने डिफॉल्टर और कर्जमाफी को लेकर रामदेव का जिक्र किया था। प्रशांत भूषण ने कहा कि उन्होंने पहले एक पोस्टर ट्वीट किया था, जिसमें उनका उल्लेख एक डिफॉल्टर के रूप में किया गया था, जिसका लोन माफ कर दिया गया है।

उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा, “बाबा रामदेव से माफी माँगता हूँ। मैंने पहले एक पोस्टर ट्वीट किया था, जिसमें उनका उल्लेख एक डिफॉल्टर के रूप में किया गया था, जिसका लोन माफ किया गया है। पोस्टर एक पोर्टल की स्टोरी पर आधारित है, जिसमें ‘रूचि सोया’ को डिफॉल्टर के रूप में उल्लेख किया गया है। बाद में पता चला कि वह (बाबा रामदेव) केवल इसे खरीदने की कोशिश कर रहे थे।”

यही पोस्टर शेयर किया था बाबा रामदेव ने

रिजर्व बैंक ने एक RTI के जवाब में सितम्बर 2019 तक की स्थिति की जानकारी देते हुए बताया कि देश के बैंकों ने 50 बड़े विलफुल डिफाल्टर्स का 68,607 करोड़ रुपए का कर्ज राइट ऑफ किया है। इसे ‘लोन माफ़ कर दिया गया’ कह कर दुष्प्रचारित किया गया। केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बताया कि मोदी सरकार ने ‘भगोड़ा आर्थिक अपराधी’ एक्ट लाकर कर्ज न लौटाने वालों पर कार्रवाई का प्रावधान किया।

विजय माल्या की अब तक 8040 करोड़ रुपए की संपत्ति अटैच की जा चुकी है। उसके 1693 करोड़ रुपए के शेयर जब्त भी किए जा चुके हैं। उसे भगोड़ा भी घोषित किया जा चुका है। इसके अलावा नीरव मोदी की भी 2387 करोड़ रुपए की संपत्ति को सरकार ने अटैच या सीज किया है। इसमें 961.47 करोड़ रुपए की विदेशी संपत्ति भी शामिल है।

गौरतलब है कि प्रशांत भूषण ने दूरदर्शन पर नए कीर्तिमान गढ़ने वाले रामायण-महाभारत को लेकर की अपमानजनक टिप्पणी की थी। हालाँकि ये उन्हें काफी भारी पड़ गया। प्रशांत भूषण समेत तीन लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया। वकील प्रशांत भूषण ने रामायण-महाभारत के प्रसारण की तुलना अफीम से की थी।

वरिष्ठ वकील प्रशांत भूषण ने 28 मार्च को ट्वीट करते हुए लिखा था कि जबरन लॉकडाउन के कारण करोड़ों लोग भूखे-प्यासे घर से चले जाते हैं, हमारे हृदयहीन मंत्री रामायण और महाभारत की अफीम का सेवन और भोजन करते हैं।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

निहंगों ने की दलित युवक की हत्या, शव और हाथ काट कर लटका दिए: ‘द टेलीग्राफ’ सहित कई अंग्रेजी अख़बारों के लिए ये ‘सामान्य...

उन्होंने (निहंगों ) दलित युवक की नृशंस हत्या करने के बाद दलित युवक के शव, कटे हुए दाहिने हाथ को किसानों के मंच से थोड़ी ही दूर लटका दिया गया।

मुस्लिम भीड़ ने पार्थ दास के शरीर से नोचे अंग, हिंदू परिवार में माँ-बेटी-भतीजी सब से रेप: नमाज के बाद बांग्लादेश में इस्लामी आतंक

इस्‍कॉन से जुड़े राधारमण दास ने ट्वीट कर बताया कि पार्थ को बुरी तरह से पीटा गया था कि जब उनका शव मिला तो शरीर के अंदर के हिस्से गायब थे। 

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
128,877FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe