Saturday, May 25, 2024
Homeदेश-समाजहम छेड़ते नहीं, और कोई छेड़े तो छोड़ते भी नहीं: PM मोदी

हम छेड़ते नहीं, और कोई छेड़े तो छोड़ते भी नहीं: PM मोदी

प्रधानमंत्री ने कार्यक्रम के दौरान केरल बाढ़ के दौरान अपनी जान पर खेलकर राज्य के लोगों के जान-माल की रक्षा करने के लिए एनसीसी के जवानों को बधाई दी।

नरेंद्र मोदी ने देश की राजधानी में आयोजित नेशनल कैडेट्स कॉर्प्स (एनसीसी) की रैली में देश भर के कैडेट्स को संबोधित किया। इस मौके पर एनसीसी कैडेट्स द्वारा प्रधानमंत्री को गार्ड ऑफ ऑनर भी दिया गया। प्रधानमंत्री ने अपने भाषण की शुरुआत में ही कहा, “जब मैं आप सबों के बीच आता हूँ तो मेरी पुराने दिनों की यादें ताजा हो जाती है।”

प्रधानमंत्री ने अपने पुराने दिनों को याद करते हुए कहा, “आज जिस समय को आप जी रहे हैं, कभी मैंने भी इस समय को आपके तरह ही जिया है।” अपने भाषण के दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि हमारे देश के सैनिकों की एक ख़ासियत है कि हम किसी को छेड़ते नहीं हैं, लेकिन यदि हमें कोई छेड़ता है तो हम उसे छोड़ते भी नहीं हैं। प्रधानमंत्री ने अपने भाषण में यह भी कहा कि हम शांति पसंद मुल्क हैं, लेकिन यदि बात राष्ट्र की रक्षा तक पहुँचती है तो हम किसी तरह के कदम उठाने से नहीं चूकेंगे।

एनसीसी कैडेट्स को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री

प्रधानमंत्री ने इस कार्यक्रम में एनसीसी कैडेट्स को प्रोत्साहन देते हुए कहा, “आप ही के बीच से निकली हिमा दास ने दुनिया में नाम किया है। कई एनसीसी कैडेट्स ने पर्वतारोहन व ट्रैकिंग में शानदार उपलब्धि को अपने नाम किया है। ऐसे में मैं जब भी एनसीसी के बीच आता हूँ तो मेरा उत्साह बढ़ता है। मैं खुद को पहले से अधिक उर्जावान महसूस करता हूँ।”

प्रधानमंत्री ने कार्यक्रम के दौरान केरल बाढ़ के दौरान अपनी जान पर खेलकर राज्य के लोगों के जान-माल की रक्षा करने के लिए एनसीसी के जवानों को बधाई दी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

SFI के गुंडों के बीच अवैध संबंध, ड्रग्स बिजनेस… जिस महिला प्रिंसिपल ने उठाई आवाज, केरल सरकार ने उनका पैसा-पोस्ट सब छीना, हाई कोर्ट...

कागरगोड कॉलेज की प्रिंसिपल डॉ रेमा एम ने कहा था कि उन्होंने छात्र-छात्राओं को शारीरिक संबंध बनाते देखा है और वो कैंपस में ड्रग्स भी इस्तेमाल करते हैं।

18 साल से ईसाई मजहब का प्रचार कर रहा था पादरी, अब हिन्दू धर्म में की घर-वापसी: सतानंद महाराज ने नक्सल बेल्ट रहे इलाके...

सतानंद महाराज ने साजिश का खुलासा करते हुए बताया, "हनुमान जी की मोम की मूर्ति बनाई जाती है, उन्हें धूप में रख कर पिघला दिया जाता है और बच्चों को कहा जाता है कि जब ये खुद को नहीं बचा सके तो तुम्हें क्या बचाएँगे।""

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -