Wednesday, June 19, 2024
Homeरिपोर्टराष्ट्रीय सुरक्षापंजाब के मोहाली ब्लास्ट में ISI का हाथ: मास्टरमाइंड 'लांडा' बैठा है कनाडा में,...

पंजाब के मोहाली ब्लास्ट में ISI का हाथ: मास्टरमाइंड ‘लांडा’ बैठा है कनाडा में, पुलिस की नजर अब बिहार के नसीफ-सरफराज पर

पंजाब डीजीपी ने गिरफ्तारी संबंधी जानकारी देते हुए बताया, "मुख्य साजिशकर्ता लखबीर सिंह लांडा है। वह तरनतारन का रहने वाला है। वह गैंगस्टर है और कनाडा में 2017 से रह रहा है। वह आईएसआई के नजदीकी हरविंदर सिंह रिंडा का करीबी है।"

पंजाब के मोहाली में इंटेलिजेंस हेडक्वार्टर की बिल्डिंग में किए गए ब्लास्ट मामले में मास्टरमाइंड का पता चल गया है। पंजाब पुलिस के अनुसार, इस पूरे हमले की साजिश रचने वाला लखबीर सिंह लांडा है। इससे पहले इस केस में पाकिस्तान में रहने वाले हरविंदर सिंह रिंडा को मुख्य साजिशकर्ता के तौर पर देखा जा रहा था। हालाँकि अब पुलिस ने बताया है कि मास्टरमाइंड लखबीर सिंह है जो कि हरविंदर सिंह रिंडा का करीबी है। पुलिस ने इस मामले में कार्रवाई करते हुए अब तक 6 आरोपितों को गिरफ्तार किया है।

पंजाब डीजीपी ने गिरफ्तारी संबंधी जानकारी के साथ बताया, “मुख्य साजिशकर्ता लखबीर सिंह लांडा है। वह तरनतारन का रहने वाला है। वह गैंगस्टर है और कनाडा में 2017 से रह रहा है। वह आईएसआई के नजदीकी हरविंदर सिंह रिंडा का करीबी है।… हम देख सकते हैं कि ये सब बब्बर खालसा इंटरनेशनल व गैंगस्टर ने आईएसआई के साथ मिल कर किया है। लांडा का मुख्य साथी निशान सिंह है जो तरनतारन का निवासी है। उसे फरीदकोट पुलिस ने कुछ दिन पहले गिरफ्तार कर लिया है।”

डीजीपी ने बताया, “निशान सिंह ने दो आरोपितों को अपने घर में और अपने जानने वालों के घर में जगह दी हुई थी।” पुलिस ने जानकारी दी कि निशान सिंह के दो साथी भी इन सबमें शामिल थे। वह भी तरनतारन के हैं। इनके पास से पुलिस को एके-47 मिली है। इसके अलावा पुलिस को आरपीजी भी हैंडओवर किया गया है।”

मोहाली ब्लास्ट केस में 6 गिरफ्तार, 1 महिला भी

गौरतलब है कि इस मामले में अब तक 6 गिरफ्तारियाँ हुई हैं। इनके नाम कंवर बाथ, बलजीत कौर, बलजीत रैंबो, आनंददीप सोनू, जगदीप कांग, निशांत सिंह हैं। इनके अलावा दो और संदिग्धों पर पुलिस ने लगातार नजर बनाई हुई है। ये बिहार के मोहम्मद नसीम आलम और सरफराज हैं।

मोहाली ब्लास्ट

बता दें कि पिछले हफ्ते मोहाली के सेक्टर 77 में पंजाब पुलिस की इंटेलीजेंस विंग की हाई सिक्योरिटी वाली बिल्डिंग में आरपीजी (रॉकेट प्रोपेल्ड ग्रेनेड) से हमला किया गया था। हालाँकि, अच्छी बात ये थी कि इसमें धमाका ही नहीं हुआ, जिससे किसी भी तरह का नुकसान नहीं हुआ। ग्रेनेड इमारत की तीसरी मंजिल पर गिरा। इससे काँच के दरवाजे जरूर टूट गए थे। 

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘हमारे बारह’ पर जो बॉम्बे हाई कोर्ट ने कहा, वही हम भी कह रहे- मुस्लिम नहीं हैं अल्पसंख्यक… अब तो बंद हो देश के...

हाई कोर्ट ने कहा कि उन्हें फिल्म देखखर नहीं लगा कि कोई ऐसी चीज है इसमें जो हिंसा भड़काने वाली है। अगर लगता, तो पहले ही इस पर आपत्ति जता देते।

NEET पर जिस आयुषी पटेल के दावों को प्रियंका गाँधी ने दी हवा, उसके खुद के दस्तावेज फर्जी: कहा था- NTA ने रिजल्ट नहीं...

इलाहाबाद हाई कोर्ट में झूठी साबित होने के बाद आयुषी पटेल ने अपनी याचिका भी वापस लेने का अनुरोध किया। कोर्ट ने NTA को छूट दी है कि वह आयुषी पटेल के खिलाफ नियमानुसार एक्शन ले।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -