Saturday, June 22, 2024
Homeदेश-समाजबीहड़ की जमीन पर किया कब्जा, फिर शुरू की बीफ मंडी: अवैध निर्माणों पर...

बीहड़ की जमीन पर किया कब्जा, फिर शुरू की बीफ मंडी: अवैध निर्माणों पर चला बुलडोजर, 70 बीघा जमीन से हटाया कब्जा; रोज काटते थे 20 गाय

खैरथल-तिजारा के कार्यवाहक एसपी अनिल बेनीवाल के हवाले से बताया गया है कि पुलिस काे बीहड़ में गोकशी के लिए लाई गई एक दर्जन गाय मिली हैं। इन्हें बचाकर गोशाला भेजा गया है। आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए करीब 300 पुलिसकर्मियों की टीम लगाई गई है।

राजस्थान के अलवर में बीफ मंडी के खुलासे के बाद प्रशासन एक्शन के मोड में है। यह मंडी किशनगढ़बास में रूंध गिदावड़ा के बीहड़ों में चल रही थी। करीब 20 गाय रोजाना खुलेआम काटी जाती थी। 50 गाँवों और लगभग 300 दुकानों में गोमांस की सप्लाई होती थी।

दैनिक भास्कर की रिपोर्ट के अनुसार बीहड़ की लगभग 500 बीघे जमीन पर पहले कब्जा किया गया और फिर बीफ मंडी शुरू की गई। कब्जे की 70 बीघे जमीन पर गेहूँ और सरसों की फसल लगाई गई थी। अवैध निर्माण भी थे। सोमवार (19 फरवरी 2024) को प्रशासन ने फसल रौंदकर इस जमीन को मुक्त कराया। साथ ही गोकशी से जुड़े लोगों के करीब दर्जनभर निर्माणों पर बुलडोजर कार्रवाई की गई।

खैरथल-तिजारा के कार्यवाहक एसपी अनिल बेनीवाल के हवाले से बताया गया है कि पुलिस काे बीहड़ में गोकशी के लिए लाई गई एक दर्जन गाय मिली हैं। इन्हें बचाकर गोशाला भेजा गया है। 18 फरवरी को बीहड़ के आसपास के गाँवों में दबिश के बाद 35 लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए करीब 300 पुलिसकर्मियों की टीम लगाई गई है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक सोमवार को राजस्थान के वनमंत्री संजय शर्मा ने अलवर के बास थाना क्षेत्र में उन बीहड़ों का दौरा किया, जहाँ गौमांस की मंडी चलने की शिकायत मिली थी। इस दौरान रुंध गिदावड़ा गाँव में उन्होंने प्रशासनिक अधिकारियों को आड़े हाथों लिया। गोतस्करी में शामिल लोगों को चोरी की बिजली किसके माध्यम से मिली, इसके जाँच के उन्होंने आदेश दिए हैं। वहीं SDM को फटकार लगाते हुए कब्ज़ा की गई सरकारी भूमि को भी फ़ौरन मुक्त कराने का आदेश दिया है।

इस बीच पुलिस ने भी अपनी कार्रवाई तेज कर दी है। बीफ मंडी को लेकर 25 लोगों को नामजद किया गया है। केस दर्ज होने के बाद से ये सभी फरार हैं। आरोपितों में कई ऐसे भी हैं जिन पर पहले से ही गोकशी और गोतस्करी जैसे मामले दर्ज हैं। मामले का खुलासा होने के बाद पूरे बास थाना को लाइन हाजिर कर दिया गया था। 4 पुलिसकर्मी सस्पेंड भी किए गए हैं।

दैनिक भास्कर ने रविवार (18 फरवरी 2024) को अलवर के बास थाना क्षेत्र में चल रही बीफ मंडी का खुलासा किया था। खुलासे में ऐसे वीडियो सामने आए थे जिसमें बिरसंगपुर के पास रुंध गिदवडा के बीहड़ों में गायों को बेरहमी से मार कर उनकी खाल उतारी जा रही थी। व्हाट्सएप पर मांस के ऑर्डर लेकर घर तक सप्लाई की जाती थी। इस मंडी में सैकड़ों की तादाद में खरीदार भी आते थे।

रिपोर्ट में यह भी दावा किया गया था कि बीफ मंडी की जानकारी होने के बाद भी पुलिस कोई कार्रवाई नहीं करती। खुलासे के बाद जयपुर रेंज के IG उमेश चंद्र दत्त के नेतृत्व में बास इलाके के उन बीहड़ों में छापेमारी की गई, जहाँ गोकशी होने का दावा किया गया था। सूचना सही पाई गई। पुलिस को देखकर गोतस्कर अपने वाहन छोड़ फरार हो गए थे।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आज भी ‘रलिव, गलिव, चलिव’ ही कश्मीर का सत्य, आखिर कब थमेगा हिन्दुओं को निशाना बनाने का सिलसिला: जानिए हाल के वर्षों में कब...

जम्मू कश्मीर में इस्लाम के नाम पर लगातार हिन्दू प्रताड़ना जारी है। 2024 में ही जिहाद के नाम पर 13 हिन्दुओं की हत्याएँ की जा चुकी हैं।

CM केजरीवाल ने माँगे थे ₹100 करोड़, हमने ₹45 करोड़ का पता लगाया: ED ने दिल्ली हाई कोर्ट को बताया, कहा- निचली अदालत के...

दिल्ली हाई कोर्ट ने मुख्यमंत्री और AAP मुखिया अरविन्द केजरीवाल की नियमित जमानत पर अंतरिम तौर पर रोक लगा दी है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -