Friday, May 24, 2024
Homeदेश-समाजराजस्थान का 'मियाँ का बाड़ा' हुआ 'महेश नगर', केंद्रीय मंत्री की मौजूदगी में बदला...

राजस्थान का ‘मियाँ का बाड़ा’ हुआ ‘महेश नगर’, केंद्रीय मंत्री की मौजूदगी में बदला रेलवे स्टेशन का नाम

2018 के चुनावों से पहले राजस्थान में तीन गाँवों के नाम बदले गए थे। 'मियाँ का बाड़ा' का नाम बदलकर महेश नगर कर दिया गया था, लेकिन रेलवे हॉल्ट का नाम अब जाकर बदला है।

राजस्थान (Rajasthan) के बाड़मेर जिले में पाकिस्तान (Pakistan) सीमा के पास स्थित ‘मियाँ का बाड़ा हाल्ट’ (Miyan ka Bara Halt) का नाम बदल दिया गया है। इस स्टेशन का नया नाम अब ‘महेश नगर हॉल्ट’ (Mahesh Nagar Halt) है। राजस्थान के बाड़मेर जिले के बालोतरा क्षेत्र में ‘मियाँ का बाड़ा’ रेलवे स्टेशन का ‘महेश नगर हॉल्ट’ नाम बदलने का आधिकारिक समारोह आयोजित किया गया।

केंद्रीय जल मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत और केंद्रीय कृषि राज्य मंत्री कैलाश चौधरी सहित अन्य लोग शनिवार (30 अप्रैल 2022) को इस कार्यक्रम में शामिल हुए। 2018 में गाँव का नाम ‘मियाँ का बाड़ा’ से बदलकर महेश नगर कर दिया गया था, लेकिन तब रेलवे स्टेशन का नाम नहीं बदला गया था।

केंद्रीय जल मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने कहा, “किसी जगह का नाम बदलने की यह लंबी प्रक्रिया है। केंद्र सरकार और राज्य सरकार दोनों अपनी सहमति देते हैं और फिर रेलवे स्टेशन का नाम बदल जाता है। इस स्टेशन का नाम बदलने के लिए ग्रामीण काफी समय से माँग कर रहे थे। गाँव वालों की भावना के अनुरूप अब रेलवे स्टेशन का नाम बदला गया तो गाँव की खुशी में शरीक होने हम भी आ गए।”

वहीं कैलाश चौधरी ने कहा, “मियाँ का बाड़ा रेलवे स्टेशन का नाम महेश नगर रखना स्थानीय सांस्कृतिक पहचान को बनाए रखने के लिए एक आवश्यक कदम है। स्थानीय लोगों के लिए यह एक ऐतिहासिक दिन है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र सरकार विकास और प्रगति के साथ-साथ इस तरह के सांस्कृतिक बदलाव लाने के लिए प्रतिबद्ध है।”

साल 2018 में बदले गए तीन गाँवों के नाम

गौरतलब है कि 2018 में राजस्थान में चुनाव से पहले तीन गाँवों के नाम बदले गए थे। ‘मियाँ का बाड़ा’ गाँव का नाम बदलकर महेश नगर कर दिया गया। इसके अलावा, दो अन्य गाँवों – ‘इस्माइल खुर्द’ का नाम ‘पिचनावा खुर्द’ और ‘नरपाड़ा’ का नाम बदलकर ‘नरपुरा’ कर दिया गया था।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पहले दोस्ती की, फिर फ्लैट में ले गई… MP अनवारुल अजीम की हत्या में शिलांती रहमान पकड़ी गई, कसाई से कटवाया फिर हल्दी लगाकर...

बांग्लादेशी सांसद की हत्या मामला में वो महिला हिरासत में ले ली गई है जिसने उन्हें हनीट्रैप में फँसाकर फ्लैट में बुलवाया था। महिला का नाम शिलांती रहमान है।

दुबई में चल रही हनुमत कथा, शेखों ने गुलाब के फूल बरसा कर बागेश्वर बाबा का किया स्वागत: गोल्डन वीजा पर अबुधाबी के मंदिर...

सुपरस्टार रजनीकांत ने अबुधाबी के BAPS मंदिर में दर्शन किया। वहीं दुबई के बुर्ज खलीफा में बागेश्वर धाम वाले बाबा का भव्य स्वागत हुआ।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -