Sunday, February 25, 2024
Homeदेश-समाजचूल्हे पर फूँक दिए 20 लाख, 16 बैंक अकाउंट: पुलिस अफसरों को भी घंटों...

चूल्हे पर फूँक दिए 20 लाख, 16 बैंक अकाउंट: पुलिस अफसरों को भी घंटों खड़े रखता था राजस्थान का भ्रष्टाचारी तहसीलदार

राजस्थान से हाल में भ्रष्टाचार को लेकर कई चौंकाने वाले मामले सामने आए हैं। पिछले दिनों राजस्थान के बांदीकुई की SDM रहीं पिंकी मीणा के खिलाफ 4000 पन्नों की चार्जशीट दायर की गई थी।

पिछले दिनों राजस्थान के सिरोही के पिंडवाड़ा तहसीलदार कल्पेश जैन की किचन में नोटों की गड्डियाँ जलाते हुए वीडियो वायरल हुई थी। कल्पेश ने एंटी करप्शन ब्यूरो (ACB) की छापेमारी से घबराकर घर के चूल्हे पर लाखों रुपए में आग लगा दी थी। इस दौरान एसीबी की टीम घर के बाहर ही थी और लगातार किचन की ख़िड़की से वीडियो बनाते हुए उसे नोट जलाने से मना कर रही थी।

तहसीलदार की काली करतूत का खुलासा बुधवार (मार्च 24, 2021) को हुआ था जब देर शाम सिरोही के भाँवरी में रेवेन्यू इंस्पेक्टर पर्बत सिंह एक लाख रुपए लेते पकड़ा गया था। पूछताछ में उसने बताया कि यह रिश्वत पिंडवाड़ा तहसीलदार कल्पेश जैन के लिए ली है। इसके बाद टीम तहसीलदार के घर पहुँची। आनन-फानन में कल्पेश ने बीवी के साथ खुद को कमरे में बंद कर लिया और दोनों 500 के नोटों की गड्डी जलाने लगे। 1 घंटे की मशक्कत के बाद दरवाजा कटर से काटा गया और टीम अंदर घुसने में कामयाब रही। देर रात तक चली कार्रवाई के बाद तलाशी में 1 लाख 31 हजार रुपए बरामद हुए थे।

तहसीलदार कल्पेश जैन और भांवरी के रेवेन्यू इंस्पेक्टर परबत सिंह राजपूत काे एसीबी, पाली ने शुक्रवार काे विशेष अदालत में पेश किया था। पड़ताल में पता चला है कि तहसीलदार ने बैंक में लाॅकर भी ले रखा है। उस लाॅकर में घूस लेकर जमा किए रुपए और जेवरात हाे सकते हैं। एसीबी आराेपित तहसीलदार से पूछताछ कर बैंक का लाॅकर भी खुलवाएगी। इसके अलावा टीम को पता चला है कि आरोपित ने अपने और पत्नी के नाम से कई बैंकाें में 16 से अधिक खाते खुलवा रखे हैं। इन सभी बैंक खातों काे एसीबी ने फ्रिज करवा दिया है।

दैनिक भास्कर की रिपोर्ट बताती है कि आरोपित तहसीलदार कल्पेश जैन की कार्यप्रणाली शुरू से विवादाें में रही। तहसीलदार काे न्यायिक मजिस्ट्रेट की शक्तियाँ होती है और छाेटे-माेटे अपराध में आरोपितों को पुलिस तहसीलदार के सामने पेश करती है। इस दौरान जैन आरोपितों के साथ पुलिस अफसराें काे भी घंटाें खड़े रखता था। घूस के लिए पटवारियों के काम में भी दखल देता था।

दो माह पूर्व ही पटवारी मंडल और वकील मंडल ने उसके विरोध में प्रदर्शन किया था। जिसके बाद उसे अवेटिंग पोस्टिंग ऑर्डर मिला। हालाँकि, तहसीलदार ने पद का फायदा उठाते हुए अपने एपीओ आदेश पर स्टे ले लिया और पिंडवाड़ा में तैनात रहा।

बुधवार को रंगे हाथ पकड़े जाने के बाद एसबीपी की ओर से पिंडवाड़ा थाने में राजकार्य में बाधा पहुँचाना तथा राष्ट्रीय मुद्रा के अपमान के आराेप में केस दर्ज कराया गया है। पुलिस ने उसके घर से अधजले नोट बरामद किए हैं। संभव है कि इस केस में तहसीलदार की पत्नी भी नामजद की जाए। अभी कल्पेश जैन और पर्बत सिंह से ही पूछताछ हो रही है।

गौरतलब है कि राजस्थान से हाल में भ्रष्टाचार को लेकर कई चौंकाने वाले मामले सामने आए हैं। पिछले दिनों राजस्थान के बांदीकुई की SDM रहीं पिंकी मीणा  के खिलाफ 4000 पन्नों की चार्जशीट दायर की गई थी। चार्जशीट में बताया गया है कि हाइवे बनाने वाली कंपनियों से प्रति किलोमीटर 1 लाख रुपए की घूस पिंकी मीणा ने माँगी थी। पहली क़िस्त में उसने 6 लाख रुपए रिश्वत माँगी थी, जिसे बाद में बढ़ाकर 10 लाख रुपए कर दिया था।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

संदेशखाली जा रही थी NHRC की टीम, बंगाल पुलिस ने रास्ते से ही हिरासत में लिया

पश्चिम बंगाल पुलिस ने संदेशखाली में बलात्कार और जमीन कब्जे के आरोपों पर तथ्य इकट्ठा करने पहुँची NHRC की 6 सदस्यों की टीम को हिरासत में ले लिया है।

बंगाल में TMC-कॉन्ग्रेस गठबंधन के खिलाफ अधीर रंजन चौधरी, वाम दलों के साथ बातचीत का ऐलान, मुश्किल में INDI गठबंधन

बंगाल में TMC और कॉन्ग्रेस के गठबंधन के आसार और कम हो गए हैं, अधीर रंजन चौधरी ने राज्य में वाम दलों के साथ मिलकर लड़ने की बात दोहराई है। उन्होंने जयराम रमेश के दावे को भी नकार दिया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
418,000SubscribersSubscribe