Thursday, July 29, 2021
Homeदेश-समाजसवाई माधोपुर में पुलिस ने रोका तो पहले थूका फिर पत्थरबाजी, राजस्थान में आज...

सवाई माधोपुर में पुलिस ने रोका तो पहले थूका फिर पत्थरबाजी, राजस्थान में आज 43 नए कोरोना+ निकले

यह सब कुछ ऐसे वक्त में हो रहा जब राजस्थान में आज दोपहर 2 बजे तक कोरोना संक्रमण के 43 नए मामले सामने आए हैं। स्वास्थ्य विभाग ने बताया है कि इसके साथ ही राज्य में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 430 हो गई है।

कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच समुदाय विशेष की बदसलूकियॉं भी बढ़ती जा रही है पुलिसकर्मियों पर थूकना, पत्थरबाजी और हमले आम हो गए हैं। ताजा घटना राजस्थान के सवाई माधोपुर जिले की है। यहॉं के शिवाड़ कस्बे के पास कँवरपुरा चेकपोस्ट पर 2 युवकों को लॉकडाउन उल्लंघन करते देख पुलिस ने रोका। दोनों युवक पुलिसकर्मियों पर थूककर और धमकी देकर भाग गए। इससे पहले की पुलिस एक्शन लेती मौके पर 30 से 40 लोगों की भीड़ इकट्ठा हो गई और पत्थर बरसाने लगे।

यह सब कुछ ऐसे वक्त में हो रहा जब राजस्थान में आज (गुरुवार, 9 अप्रैल 2020) को दोपहर 2 बजे तक कोरोना संक्रमण के 43 नए मामले सामने आए हैं। स्वास्थ्य विभाग ने बताया है कि इसके साथ ही राज्य में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 430 हो गई है।

मीडिया रिपोर्टों के अनुसार पत्थरबाजी की सूचना मिलने पर शिवाड़, बरवाड़ी, सवाई माधोपुर सहित कई इलाकों से जवान और प्रशासनिक अधिकारी मौक़े पर पहुँचे। इलाके में तलाशी अभियान चलाया गया। 3 लोगों को गिरफ्तार किया। बाकी बस्ती खाली हो गई थी। हालात देखते हुए अतिरिक्त पुलिस बल को तैनात किया गया है।

सवाई माधोपुर के जिला पुलिस अधीक्षक के मुताबिक, कँवरपुरा रेलवे फाटक के पास चेक पोस्ट पर पुलिसकर्मियों पर पथराव की घटना के बाद 3 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। इन पर एफआईआर दर्ज की गई है। शेष आरोपितों की तलाश की जा रही है।

मीडिया खबर के अनुसार, पुलिस प्रशासन तथा मौके पर मौजूद ग्रामीणों के अनुसार बुधवार सुबह 9 बजे दो युवक मोटरसाइकिल से कँवरपुरा स्थित चेकपोस्ट से गुजरने लगे। वहाँ मौजूद पुलिस तथा होमगार्ड के जवानों ने उन्हें रोका। लेकिन वे विवाद करने लगे। बात बढ़ने पर युवकों ने पुलिस से बदतमीजी की, उन पर थूका और उन्हें धमकाया। बाद में मौका देखकर मोटरसाइकिल छोड़कर वहाँ से फरार हो गए और पास स्थित हसनपुरा ढाणी में पहुँच गए।

इसके बाद, करीब 15 मिनट में 30-40 लोग वहाँ पहुँचे और पथराव शुरू कर दिया। अचानक हुए पथराव से बचने के लिए पुलिसकर्मियों ने मौके पर लोहे के बैरियर की आड़ में छिपकर बचाव किया। फिर पुलिस के जवानों ने कंट्रोल रूम को सूचना दी। शिवाड़, ईसरदा, बरवाड़ा तथा कोबरा की टीम मौके पर पहुँची, लेकिन तब तक बस्ती से लोग भाग गए। बाद में तीन लोगों काे गिरफ्तार किया गया।

जानकारी के मुताबिक, भीड़ ने पथराव के लिए पास ही स्थित रेलवे ट्रैक से पत्थर उठाए। पथराव के दाैराेन मौके पर तैनात 2 कर्मचारियों को चोट लगी है। घटना का वीडियो भी सामने आया है। इसमें लाेग रेलवे ट्रैक से गिट्टियाँ उठाते हुए दिख रहे हैं। पुलिसकर्मी पथराव से बचने के लिए बेरिकेड्स के पीछे छिपते दिख रहे हैं।

राजस्थान पत्रिका में प्रकाशित संबंधित खबर

बता दें, घटना के बाद कलेक्टर नन्नूमल पहाड़िया तथा एसपी सुधीर कुमार ने घटनास्थल का जायजा लिया। कलेक्टर-एसपी ने पुलिस अधिकारियों से आपसी सांमजस्य के साथ कार्य करने तथा दोषियों की पहचान कर उन पर कार्रवाई के आदेश दिए। उन्होंने टोंक-सवाई माधोपुर सीमा का जायजा भी लिया।

बरवाड़ी थाना पुलिस के मुताबिक कि पथराव मामले में आरोपित हमीद राजूद्दीन व कालू को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने तीनों आरोपितों को राजकार्य में बाधा व लॉकडाउन की पालना नहीं करने पर धारा 332, 353, 188 राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन की धारा 51 के तहत गिरफ्तार किया है। मामले में अन्य लोगों की तलाश की जा रही है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘पूरे देश में खेला होबे’: सभी विपक्षियों से मिलकर ममता बनर्जी का ऐलान, 2024 को बताया- ‘मोदी बनाम पूरे देश का चुनाव’

टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी ने विपक्ष एकजुटता पर बात करते हुए कहा, "हम 'सच्चे दिन' देखना चाहते हैं, 'अच्छे दिन' काफी देख लिए।"

कराहते केरल में बकरीद के बाद विकराल कोरोना लेकिन लिबरलों की लिस्ट में न ईद हुई सुपर स्प्रेडर, न फेल हुआ P विजयन मॉडल!

काँवड़ यात्रा के लिए जल लेने वालों की गिरफ्तारी न्यायालय के आदेश के प्रति उत्तराखंड सरकार के जिम्मेदारी पूर्ण आचरण को दर्शाती है। प्रश्न यह है कि हम ऐसे जिम्मेदारी पूर्ण आचरण की अपेक्षा केरल सरकार से किस सदी में कर सकते हैं?

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,743FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe